श्वान को बचाने के फेर में गई 3 जान

कार नहर में गिरी, सभी देवता के जा रहे थे

By: Surendra

Published: 24 Jul 2018, 11:07 PM IST

बांसखोह. जयपुर आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग पर जटवाड़ा के पास स्थित लक्ष्मीपुरा मोड़ पर मंगलवार सुबह एक कार के आगे श्वान के आ जाने से कार चालक संतुलन खो बैठा और कार सड़क से 20 फीट दूर नहर में जा गिरी। हादसे में कार सवार तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि एक युवक घायल हो गया।

जानकारी के अनुसार दो दम्पती जयपुर से महुआ अपने इष्ट देव के दर्शन के लिए कार से जा रहे थे। इसी दौरान मोड़ पर कार के आगे श्वान आने से कार लहराती हुई राजमार्ग किनारे नहर में जा गिरी। कार में सवार ओमप्रकाश सैन(72) निवासी चौबे मौहल्ला बसवा, जिला दौसा, पदमा देवी (65) पत्नी ओमप्रकाश सैन, कानसिंह(72) निवासी 47 ए विष्णु कॉलोनी, हटवाड़ा रोड जयपुर, गीता कंवर(6 6 )पत्नी कानसिंह, व ओमप्रकाश का पुत्र महेश सैन (32) सवार थे। इनमें से पदमा देवी एवं गीता कंवर ने मौके पर ही दम तोड़ तोड़ दिया, वहीं ओमप्रकाश को गम्भीर हालात में दौसा अस्पताल ले जाया गया, यहां पर चिकित्सकों ने ओमप्रकाश को जयपुर रैफर कर दिया। जयपुर में इलाज के दौरान ओमप्रकाश ने भी दम तोड़ दिया। जटवाड़ा चौकी प्रभारी किशोर कुमार ने बताया कि दोनों महिला शवों का बस्सी में पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया। वहीं ओमप्रकाश का एसएमएस अस्पताल में पोस्टमार्टम कराया गया।

आवारा जानवरों के जमावड़े से बढ़ रहे हादसे

वर्तमान में बारिश के साथ ही जयपुर आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग की डिवाइडर पर उगे घास के कारण आवारा जानवरों का जमावड़ा रहने से कई मर्तबा वाहन दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं। बावजूद भी राजाधोंक टोल प्रबंधन रोकथाम नहीं कर रहा। साथ ही बारिश के दिनों में जानवर सूखे में बैठने और मक्खियों से बचने के लिए भी राजमार्ग का ही सहारा लेते हैं। मंगलवार को श्वान के चक्कर में तीन की मौत हो गई।

नहीं हैं सर्विसलेन

धूला से जयपुर जाने के लिए राजमार्ग पर सीधा रास्ता नहीं हैं। यहां पर वाहनों को धूला मोड़ से बांसखोह फाटक तक एक किमी की दूरी गलत दिशा में तय करनी पड़ती हैं। धूला मोड़ से बांसखोह फाटक तक सर्विस लेन नहीं होने के कारण वाहन गलत दिशा में चलने के कारण दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं। टोल संघर्ष समिति संयोजक मदनमोहन मीना ने बताया कि बांसखोह फाटक से धूला मोड़ तक सर्विस लेन बनाने के लिए कई बार टोल प्रबंधन को अवगत करा दिया, लेकिन टोल प्रशासन ध्यान नहीं दे रहा। इधर, लक्ष्मीपुरा मोड़ पर भी सर्विसलेन नहीं होने के कारण हादसों को न्यौता मिल रहा है। इधर जटवाड़ा पुलिस ने बताया कि गत दिनों भी लक्ष्मीपुरा मोड़ पर गलत दिशा से आ रहे दो मोटरसाइकिलों की भिड़न्त में दो लोग बुरी तरह जख्मी हो गए थे।

इनका कहना है

हमने राजमार्ग पर आवारा जानवरों की रोकथाम के लिए मोटरसाइकिल पर हमारे कर्मचारी नियुक्त कर रखे हैं, जो आवारा जानवरों को राजमार्ग से हटाते रहते हैं। डिवाइडर पर वर्तमान में उगी घास को भी कल से हटवाया जाएगा।

वसुन्धरा राव, प्रबंधक राजाधोंक, टोल प्लाजा

Surendra
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned