corona: 21 दिन से छिपकर रह रहे तबलीगी जमाती दम्पति पकडऩे के बाद प्रशासन अलर्ट...पूरे वार्ड को किया सील

मोबाइल लोकेशन से पकड़ में आया था यूपी निवासी संदिग्ध दम्पति

By: Satya

Published: 18 Apr 2020, 11:23 PM IST


शाहपुरा।
दिल्ली मरकज में शामिल होकर शाहपुरा कस्बे के वार्ड संख्या २२ में छिपे मिले मथुरा यूपी निवासी दम्पति के पकडऩे के बाद से पुलिस प्रशासन अलर्ट हो गया है। पुलिस ने पूरे वार्ड को सील कर पुलिसकर्मी तैनात कर दिए हैं। ताकि कोई भी व्यक्ति वार्ड से बाहर आवागमन नहीं कर सके। साथ ही चिकित्सा विभाग ने डोर-टू डोर स्क्रीनिंग भी शुरू कर दी है। शनिवार को 220 लोगों की स्कीनिंग की गई।


उल्लेखनीय है कि एक दिन पहले शाहपुरा में दिल्ली मरकज में शामिल होकर आए मथुरा यूपी निवासी दम्पत्ति को पकड़ा था। दम्पति पिछले करीब 21 दिन से शाहपुरा के वार्ड संख्या 22 में अपने एक परिचित के घर में ठहरा हुआ था। पुलिस ने तबलीगी दम्पत्ति और दो स्थानीय निवासियों सहित चारों कोरोना संदिग्धों को स्क्रीनिंग के बाद जयपुर रैफर कर दिया।

हालांकि पुलिस पूछताछ में दम्पत्ति ने जमात में शामिल होने की बात से साफ इनकार किया है, लेकिन 24 मार्च को उसका मोबाइल नेटवर्क की लोकेशन दिल्ली मरकज के आसपास की आ रही है, ऐसे में उच्च स्तर से मिली सूचना के आधार पर पुलिस ने पति-पत् नी को शाहपुरा से पकड़ा है। इधर, शाहपुरा में 21 दिन से तबलीगी जमात वाले मिलने की खबर से इलाके में हडक़म्प मचा हुआ है।


सूचना से पुलिस व चिकित्सा विभाग के भी हाथ-पांव फूल गए। चिकित्सा टीम ने चारों लोगों की स्क्रीनिंग कर जयपुर रैफर कर दिया। चिकित्सा टीम के मुताबिक जांच में मथुरा यूपी निवासी दम् पति के तापमान अधिक पाया गया। हालांकि कोरोना से संबंधित अन्य लक्षण नहीं पाए गए। पुलिस ने बाद में पूरे वार्ड को सील कर दिया और लोगों को घरों से बाहर नहीं निकलने की अपील की। साथ ही वार्ड में सैनिटाइजर करवाया। बीसीएमओ डॉ. विनोद शर्मा ने बताया कि वार्ड के लोगों की जांच की जाएगी।


पुलिस ने बताया कि जयपुर कंट्रोल रूम से सूचना मिली थी कि कि हाईवे पर गायत्री होटल के पीछे वार्ड 22 निवासी यूनिस खान व उसकी पत्नी शकीला के घर मथुरा निवासी नाहिद अली व उसकी पत्नी शहनाज बेगम ठहरे हुए है, जो मथुरा से 14 मार्च को दिल्ली निजामुद्दीन दरगाह के लिए गए थे।

वहां से उक्त दोनों 18 मार्च को पैदल ही अजमेर दरगाह के लिए रवाना हुए थे। जो 26 मार्च को ही शाहपुरा में पहुंच गए थे। लोकेशन ट्रेस के आधार पर सूचना सही पाई गई। जिस पर पुलिस व प्रशासन की टीम ने मौके पर जाकर उक्त चारों लोगों को पकडक़र पूछताछ की।


वार्ड के सभी लोगों की होगी जांच
पुलिस ने बताया कि वार्ड के निवासियों की जांच शुरू कर दी है। सभी लोगों की जांच होगी। वार्ड को सील कर दिया गया है। वार्ड के लोगों से पुलिस व प्रशासन ने घरों से बाहर नहीं निकलने की अपील की। साथ वार्ड में सैनिटाइजर का छिडक़ाव भी कराया गया।

मोबाइल लॉकेशन के आधार पर आए पकड़े में
बीसीएमओ डॉ. विनोद शर्मा ने बताया कि मथुरा निवासी मोबाइल लॉकेशन से पकड़ में आए है। दिल्ली निजामुद्दीन दरगाह में जमात में शामिल हुए लोगों की प्रशासन की ओर से मोबाइल नेटवर्क से लॉकेशन ढूंढी जा रही है। लॉकेशन के आधार पर यूपी निवासी नाहिद शाहपुरा में होना पाया गया।

सूचना नहीं देना पड़ा महंगा, पुलिस ने किया मामला दर्ज
यूपी निवासी दम्पति के लम्बे समय से घर में रखने के बावजूद पुलिस को सूचना नहीं देना महंगा पड़ गया। पुलिस ने जाजैकला निवासी यूनिस के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। थाना प्रभारी ने बताया कि उक्त व्यक्ति ने मथुरा यूपी निवासी दम्पति को घर में रख रखा था, लेकिन पुलिस प्रशासन को इसकी जानकारी नहीं दी। वार्ड को सील करने के साथ ही जाब्ता तैनात किया गया है।

Corona virus

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned