आखिर ये विभाग अकेला किस प्रकार कोरोना से लड़ेगा

उपखण्ड स्तरीय बैठक का आयोजन दिए निर्देश, अगर प्रशासन ने कोई सख्त कदम नहीं उठाते तो आने वाले दिनों में सांभर में बड़ी संख्या में कोरोना के मरीज सामने आ सकते है

By: Gourishankar Jodha

Published: 24 Aug 2020, 10:21 PM IST

सांभरलेक। केवल चिकित्सा विभाग अकेला ही कोरोना से लड़ता नजर आ रहा है, आखिर कब तक चिकित्सा विभाग इस कोरोना के युद्ध को लड़ पाएगा यह तो समय ही बताएगा, लेकिन अगर प्रशासन ने कोई सख्त कदम नहीं उठाते तो आने वाले दिनों में सांभर में बड़ी संख्या में कोरोना के मरीज सामने आ सकते है, क्योंकि सांभर कस्बा कोरोना का हब बनता जा रहा है।
कस्बे में लोगों के द्वारा प्रशासन के ढिले रवैये के चलते लापरवाही बरती जा रही है और यहां पर सरकार द्वारा जारी गाइड लाइन का पालन करते लोग नजर नहीं आ रहे है, जिससे दिन प्रतिदिन यहां पर कोरोना के मरीज बढ़ते जा रहे है, कस्बे में 13 अगस्त को जहां पर एक दिन में ही सात मरीज आए थे तो उसके बाद 22 अगस्त को एक साथ ६ मरीज आए, लेकिन प्रशासन उसके बाद भी नहीं चेता और अपने रवैये पर चलता रहा, जबकि चिकित्सा विभाग अकेला ही अपने दम पर कोरोना से लगातार लड़ रहा है और सांभर कस्बे में उत्कृष्ठ सेवा प्रदान कर रहां है।

आमजन को जागरूक किया जाए
सोमवार को उपखण्ड अधिकारी ने उपखण्ड स्तरीय गठीत कमेटी की बैठक आयोजित की जिसमें उपखण्ड क्षेत्र के अधिकारियों ने भाग लिया और उसमें निर्देश दिए गए कि क्षेत्र में कोरोना महामारी तेजी से फैल रही है। इसको देखते हुए आमजन को जागरूक किया जाए।

अब जरूरत सख्त कदम उठाने की
लोगों को कोरोना की गाइड लाइन का पालन करवाया जाए तथा बिना मास्क व उल्लघंन करने वाले लोगों के चालान काटे जाए, उसके बाद आज कस्बे में पुलिसकर्मी चालान काटते हुए नजर आए। पुलिस कुछ समय के लिए लोगों के चालान कर थाने में लौट जाती है और फिर से उसी ढर्रे पर आ जाते है, अब जरूरत सख्त कदम उठाने की है जिससे लोगों कोरोना गाइड लाइन का पालन करें।

Gourishankar Jodha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned