Ajeetgarh Area : हरिपुरा को पंचायत बनाने की मांग को लेकर रातभर धरने पर बैठे रहे ग्रामीण

Ajeetgarh Area : हरिपुरा को पंचायत बनाने की मांग को लेकर रातभर धरने पर बैठे रहे ग्रामीण

Satya Prakash | Updated: 08 Aug 2019, 08:33:33 PM (IST) Bassi, Jaipur, Rajasthan, India

 

-नायब तहसीलदार ने धरनार्थियों से की वार्ता

 

 

शाहपुरा/अजीतगढ।

 


कस्बे की समीपवर्ती ग्राम पंचायत बुर्जा की ढाणी के गांव हरिपुरा को नई ग्राम पंचायत बनाने की मांग को लेकर ग्रामीणों का मूलचंद जांगिड़ के नेतृत्व में चल रहा अनिश्चितकालीन धरना व अनशन दूसरे दिन गुरुवार को समाप्त हो गया। मौके पर पहुंचे अजीतगढ नायब तहसीलदार ने ग्रामीणों से वार्ता कर समझाइश की। ग्रामीणों को प्रशासन की ओर से सकारात्मक आश्वासन मिलने के बाद धरना समाप्त कर दिया।

 

 

इस दौरान ग्रामीणों ने पंचायत नहीं बनने पर आने वाले पंचायत चुनावों में बहिष्कार करने की चेतावनी देकर आंदोलन समाप्त कर दिया। नायब तहसीलदार ने अनशनकारी मूलंचद जागिंड़ को ज्यूस पिलाकर अनशन तुड़वाया। जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत बुर्जा की ढाणी के गांव हरिपुरा को ग्राम पंचायत बनाने की मांग को लेकर बुधवार को ग्रामीणों ने गांव के चौक में अनशन व धरना शुरू किया था।

 

ग्रामीणों ने बताया कि बुर्जा की ढाणी पंचायत मुख्यालय से गांव हरिपुरा की दूरी 10 किमी. से अधिक है। जिससे गांव विकास की दौड़ में पिछड़ता जा रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि पंचायत मुख्यालय से दूरी के चलते लोगों को पंचायत संबंधी कार्यों के लिए भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

 

 

 

दूरी के चलते विकास में पिछड़ा गांव

 

 


ग्रामीणों ने बताया कि यातायात साधनों के अभाव में लोगों के पंचायत संबंधी कार्य समय पर नहीं हो पाते है तथा पंचायत मुख्यालय से दूरी के चलते गांव विकास से महरूम है। लोगों ने बताया कि बुर्जा की ढाणी पंचायत में हरिपुरा, भूरानपुरा, खिरोटी गांव आते है। इनमें से हरिपुरा बुर्जा की ढाणी से भी बड़ा राजस्व गांव होने के साथ आबादी भी अधिक है।

 

आसपास की पंचायतों के गांव ढाणी शेरपुरा, पारोडा, कालीखेडा, जोधा की ढाणी, खोखरों की ढाणी, नया कुआं, सागर सिंहवाली को मिलाकर नई ग्राम पंचायत हरिपुरा का सजृन किया जा सकता है। ग्रामीणों ने बताया कि उक्त गांव ढाणियों की भी पंचायत मुख्यालय से दूरी की समस्या के चलते लोगों को परेशानी उठानी पड़ती है। हरिपुरा को नई ग्राम पंचायत बनाने पर लोगों के कार्य सुगम हो सकेंगे। लोगों ने बताया कि विगत कई वर्षों से हरिपुरा को पंचायत बनाने की मांग की जा रही है, लेकिन प्रशासन ग्रामीणों की समस्या की ओर ध्यान नहीं दे रहा।

 

ग्राम पंचायत बनाने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री, जिला कलेक्टर, विधायक, उपखंड अधिकारी खंडेला, श्रीमाधोपुर को भी ज्ञापन दिए जा चुके।

 

 

 


रातभर धरने पर बैठे रहे ग्रामीण


ग्रामीणों ने बुधवार सुबह गांव के चौक में धरना शुरू कर गांव के वरिष्ठ नागरिक मूलचंद जागिंड अनशन पर बैठे थे। अनशनकारी व ग्रामीण रातभर धरना स्थल पर ही रहे। सूचना पर दूसरे दिन गुरुवार को दोपहर 2 बजे अजीतगढ नायब तहसीलदार मौके पर पहुंचे और ग्रामीणो से वार्ता की। नायब तहसीलदार ने ग्रामीणों को बताया कि नई ग्राम पंचायत व पंचायत समिति बनाने की प्रकिया 29 अगस्त है। इसमें प्रस्ताव प आपत्तियों की प्रकिया जारी है।

 

हरिपुरा को ग्राम पंचायत बनाने का प्रस्ताव बनाकर जिला कलक्टर व राज्य सरकार को भेजा जाएगा। इस दौरान बबलू सिंह हरिपुरा, मदन सिंह, समुन्द्र सिंह, मोहन सिंह, दिलीप सिंह, कैलाश शर्मा, रामसिंह, सोहन कोक सहित कई लोग मौजूद थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned