हथियारों से लैस बदमाशों ने टोल प्लाजा से 2 लाख रुपए लूटे, तोडफ़ोड़ कर बूथ को आग के हवाले किया


जान बचाकर भागे टोलकर्मी

By: Satya

Published: 16 Jan 2021, 09:03 PM IST


शाहपुरा/अजीतगढ़। अजीतगढ़-शाहपुरा स्टेट हाइवे स्थित त्रिवेणीधाम के पास निजी वाहनों के टोल बूथ पर तडक़े करीब 5.30 बजे बाइकों और अन्य वाहनों में सवार होकर आए करीब डेढ़ दर्जन से अधिक बदमाशों ने जमकर तांडव मचाया। बदमाशों ने टोल बूथ पर जमकर तोडफ़ोड़ करते हुए टोल बूथों में पेट्रोल डाल कर आग लगा दी तथा 2 लाख की नगदी लूट कर पार हो गए। बदमाशों के आतंक से भयभीत होकर टोलकर्मी अपनी जान बचाकर भाग छूटे।

सूचना पर नीमकाथाना के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रतन लाल भार्गव, सीओ गिरधारी लाल व सीकर से एफएसएल टीम ने मौके पर पहुंच कर घटना स्थल का मौका मुआवना किया तथा मामला दर्ज कर बदमाशों की सरगर्मी से तलाश शुरू कर दी है।

पुलिस के अनुसार अजीतगढ -शाहपुरा रोड स्थित त्रिवेणी में टोल प्लाज़ा संचालित है। टोल पर हरियाणा निवासी दीपक टोल बूथ में कार्यरत था एवं अन्य कर्मी बाहर तैनात थे । साथ ही लोहे के कार्यालय केबिन में टोल सुपरवाइजर जगदीप सो रहा था। अचानक शाहपुरा की तरफ से वाहन एवं बाइकों से करीब डेढ़ दर्जन युवा लाठी, सरिया, हॉकी एवं पिस्टल आदि हथियारों से लैस होकर टोल पर आए और आते ही तोडफ़ोड़ व मारपीट शुरु कर दी। अचानक हुए हमले से डरकर टोल कर्मी जान बचाकर भाग गए। हमलावर युवकों ने टोल के कार्यालय केबिन में पेट्रोल डालकर आग लगा दी तथा टोल कलेक् शन की करीब 2 लाख की नकदी लूट कर फरार हो गए। टोलकर्मियों ने घटना की सूचना अजीतगढ़ पुलिस एवं टोल मालिकों को दी।

सूचना पर अजीतगढ़ पुलिस ने पहुंच कर मौका मुआयना किया। बाद में नीमकाथाना के पुलिस उपाधीक्षक गिरधारी लाल, सीकर से एफएसएल टीम मौके पर पहुंची और नाकाबंदी कर आरोपियों की तलाश शुरू की, लेकिन आरोपियों का कोई सुराग नहीं लगा।

टोल बूथ पर हुआ भारी नुकसान
कस्बे से गुजर रहे शाहपुरा-चौमूं स्टेट हाइवे पर आरएसआरडीसी द्वारा ठेकेदारों के माध्यम से टोल वसूली होती है। विगत वर्ष आरएसआरडीसी ने वाणिज्य वाहनों व निजी वाहनों का इस मार्ग पर अलग -अलग टोल संग्रहण का ठेका दे दिया। निजी वाहनों के टोल बूथ पर यह वारदात हुई है। हमलावर टोल बूथ के सीसीटीवी कैमरे, डीवीआर, कंप्यूटर, स्क्रीन मशीन इनवर्टर, बाहर रखी बैठने की कुर्सियां व अन्य सामान तोड़ गए। साथ ही लोहे के केबिन कार्यालय में पेट्रोल डालकर आग के हवाले कर गए। जिससे केबिन में रखा सामान रिकॉर्ड, गैस सिलेंडर, कई मोबाइल एवं अन्य सामान जल कर राख हो गया। केबिन में दो गैस सिलेंडर भी पड़े थे, गनीमत रही कि गैस सिलेंडर में विस्फोट नहीं हुआ अन्यथा बड़ा हादशा हो जाता। मारपीट में कुछ टोल कर्मियों के चोटे भी आई है।

टोल सुपरवाइजर ने कराया मामला दर्ज
शाम को टोल सुपरवाइजर जगदीप ने अजीतगढ़ थाने में 15-20 लोगो के खिलाफ टोल पर मारपीट, तोड़ा फोड़ करने, पेट्रोल डालकर आग लगाने एवं 2 लाख रुपए लूटने का मामला दर्ज कराया है। रिपोर्ट में बताया कि उनकी कम्पनी 21 जुलाई 2020 से आरएसआरडीसी का त्रिवेणी टोल प्लाजा चलाती है। सुबह वह टोल प्लाजा के ऑफिस में सो रहा था, अचानक से आए बदमाशों ने तोडफोड शुरू कर दी। पुलिस नेे मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
-------------

इनका कहना है
टोल पर लूट व आगजनी का मामला दर्ज कर आरोपियों की सरगर्मी से तलाश की जा रही है। पुलिस टीम का गठन कर दिवराला, रतनपुरा, मनोहरपुर में दबिश दी गई है। शीघ्र ही आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे।-------गिरधारी लाल शर्मा, पुलिस उपाधीक्षक, नीमकाथाना

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned