Panther Attack- बघेरे का आतंक : फिर किया हमला

क्षेत्र के ग्राम पंचायत के अधिन आने वाले गांवों में पिछले कई माह से बघेरे का आंतक थमने का नाम नहीं ले रहा। जिससे ग्रामीण भय के साए में जीने को मजबूर है

By: Gourishankar Jodha

Published: 26 Jun 2020, 06:34 PM IST

विराटनगर। क्षेत्र में बघेरे का आतंक रूकने के नाम नहीं ले रहा है, गुरुवार शाम फिर हमला कर लोगों को दहशत में डाल दिया। क्षेत्र के ग्राम पंचायत सोठाना के अधिन आने वाले गांवों में पिछले कई माह से बघेरे का आंतक थमने का नाम नहीं ले रहा। जिससे ग्रामीण भय के साए में जीने को मजबूर है।
गुरुवार देर शाम बघेरे ने घर में घुस कर एक बकरी को घायल कर दिया। ग्रामीणों की सूचना पर शुक्रवार को वन विभाग की टीम मौके पर पहुंचकर बघेरे को पकडऩे के लिए पहाड़ी पर पिंजरा लगाया। पूर्व सरपंच लालचंद शर्मा ने बताया कि ग्राम पंचायत क्षेत्र में पिछले कई माह से बघेरे की आवाजाही बनी हुई है, जिससे ग्रामीण भयभीत है।

बकरी को बना रहा था शिकार
गुरुवार देर शाम को बघेरे ने मनसा माता मंदिर के पास रहने वाले रोहिताश के मकान की दिवार फांद कर अंदर घुस बकरी पर हमला कर दिया। बकरी के चिल्लाने पर परिजन बाहर दौड़कर आए एवं हल्ला मचाने पर बघेरा भाग गया।

वनकर्मियों ने लगाया पिंजरा
ग्रामीणों ने घटना की सूचना सरपंच सुशीलादेवी शर्मा एवं पूर्व सरपंच लालचंद शर्मा को दी, जिस पर शर्मा ने मामले से वन विभाग को अवगत कराया। वन विभाग के कार्मिक मौके पर पहुंचे एवं घटना की जानकारी ली। वन विभाग के कार्मिकों ने बघरे को पकडऩे के लिए मनसा माता की पहाडियों पर पिंजरा लगाया।

Gourishankar Jodha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned