बस्सी के 2 हजार से अधिक कनेक्शनों पर गिरेगी गाज

बस्सी के 2 हजार से अधिक कनेक्शनों पर गिरेगी गाज

Surendra Singh Rao | Publish: Sep, 11 2018 11:22:23 PM (IST) Bassi, Rajasthan, India

22 लाख रुपए से अधिक का बिल बकाया, अंतिम नोटिस

बस्सी. ब्लॉक के 2000 से अधिक पेयजल कनेक्शनों को काटने की तैयारी की जा रही है। ये कनेक्शन उन उपभोक्ताओं के हैं, जिन्होंने लम्बे से समय से पानी का बिल जमा नहीं करवाया है। इन उपभोक्ताओं द्वारा लम्बे समय से बिल जमा नहीं करवाने से विभाग के 22 लाख रुपए से अधिक के बिल बकाया हो गए हैं। ऐसे में अब जन स्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी विभाग के बस्सी स्थित सहायक अभियंता कार्यालय ने ऐसे उपभोक्ताओं को चिह्नित कर बिल के साथ तीसरा नोटिस भेजकर बिल जमा कराने की चेतावनी दी है। इसके बाद कनेक्शन काटे जाएंगे।

35 प्रतिशत उपभोक्ताओं का 22 लाख बकाया

जानकारी के अनुसार बस्सी ब्लॉक की कुल 44 पंचायतों में जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी विभाग के 6500 से अधिक घरेलु और व्यावसायिक कनेक्शन हैंं। इनमें लगभग आधे कनेक्शन बस्सी-कानोता और इससे लगती पंचातयों में हैं। ऐसे में 6500 में से 2250 उपभोक्ताओं का बिल बकाया चल रहा है। बकाया बिल वाले ज्यादा उपभोक्ता भी बस्सी और कानोता क्षेत्र के हैं। इनमें से सैकड़ों तो ऐसे हैं, जिन्होंने ढाई-तीन वर्षों से बिल जमा नहीं करवाया है। कईयों को छह महीनों या एक वर्ष से बकाया चल रहा है।

अब आखिरी चेतावनी तीसरा नोटिस

बकायादारों को पूर्व में पानी के बिलों के साथ दो बार नोटिस दे दिया गया है। इसके बाद 500 के आसपास उपभोक्ताओं ने बिल की बकाया राशि जमा भी करवाई है। 500 के आसपास के उपभोक्ताओं पर तो दस-दस हजार और इससे भी अधिक की राशि बकाया है। विभाग के कर्मचारियों पर भी मुख्यालय से बकाया की बसूली के सख्त निर्देश आए हुए हैं। वसूली पूरी नहीं होने पर विभाग के कर्मचारियों पर भी कार्यवाही हो सकती है। इसके लिए आखिरी तीसरा नोटिस दिया गया है।

ऑनलाइन ट्रांजेक्शन की रसीद भी जरूरी

विभाग के अनुसार उपभोक्ता ई मित्र या ऑनलाइन भी बकाया बिल जमा करवा सकते हैं, लेकिन इसकी रसीद जरूरी होगी। ई मित्र पर बिल जमा करवाने के बाद वहां से भी जमा राशि की रसीद ले कर रखें। अक्सर बिल जमा करवाने के दौरान बिल पर ही मोह लगाकर इसे जमा दिखा दिया जाता है। ऐसे में जिन उपभोक्ताओं पर बकाया चल रहा है, उन्हें यहां से भी जमा राशि की अलग से रसीद लेनी होगी। ऐसे में विभाग द्वारा बस्सी चक रोड स्थित कार्यालय में बकाया बिल की राशि जमा करवाने की व्यवस्था की गई है। यहां नकद और चेक के रूप में बिल जमा करवाया जा सकता है।

पीडीआर (एक्ट) और कुर्की की होगी कार्यकाही

आखिरी नोटिस के बाद भी बिल जमा नहीं करवाने पर विभाग कार्यवाही अमल में लाएगा। नोटिस में दी गई अंतिम तिथि तक बिल जमा नहीं होने पर विभाग सूची तैयार कर सप्ताहभर में कार्यवाही शुरू कर देगा। इस दौरान पीडीआर (एक्ट) और कुर्की की कार्यकाही अमल में लाई जाएगी। एक बार कनेक्शन कटने के बाद फिर कनेक्शन जुड़वाने के लिए नियमानुसार अलग से चार्ज देना होगा।

बस्सी ब्लॉक पर एक नजर

- 6500 से अधिक कनेक्शन
- 2250 उपभोक्ताओं के बिल बकाया

- 22 लाख रुपए से अधिक बकाया

इनका कहना है

कई बार मौखिक और दो बार नोटिस देने के बाद भी ब्लॉक में बकाया बिलों का भुगतान नहीं हो रहा है। ऐसे में अब बिल के साथ उपभोक्ता को तीसरा नोटिस भेजा जा रहा है। यदि अब भी भुगतान नहीं किया गया, तो पीडीआर (एक्ट) और कुर्की की कार्यकाही अमल में लाई जा सकती है। इसके लिए उपभोक्ता जिम्मेदार होगा।

- अशोक मीणा, सहायक अभियंता, जलदाय विभाग, बस्सी

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned