हाइटेंशन लाइन दे रही कॉलोनीवासियों को टेंशन

हाइटेंशन लाइन दे रही कॉलोनीवासियों को टेंशन

गुहार लगाने के बाद भी नहीं हो रहा समाधान

एस्टीमेट की राशि नहीं दे पा रहे कॉलोनीवासी

जनप्रतिनिधियों से बंधी हुई है आस

बस्सी . कस्बे के कई परिवार वर्षों से हाइटेंशन लाइनों के नीचे मकान बनाकर खतरे में जी रहे हैं। न प्रशासन उनकी सुन रहा है और ना ही विद्युत विभाग मकानों की छतों से गुजर रही अपनी हाईटेंशन लाइनों को अन्यत्र शिफ्ट कर रहा है। इससे कॉलोनीवासियों के सिर पर मौत मंडरा रही है।

नारायण नगर और इंदिरा नगर में लोग इन लाइनों को अपने अपने हिसाब से ऊंचा नीचा कर रह रहे हैं। इस लाइनों को अन्यत्र शिफ्ट करवाने को लेकर कई बार निगम और जनप्रतिनिधियों को अवगत कराया जा चुका है, लेकिन समस्या जस की तस है। स्थानीय लोग प्रशासन के शिविर, पूर्व विधायक और वर्तमान विधायक से भी गुहार लगा चुके हैं। इधर, निगम ने कॉलोनीवासियों को एस्टीमेट बनाकर दे दिया है, लाखों में है। कॉलोनीवासी इस राशि को चुकाने की स्थिति में नहीं हैं। जब तक राशि नहीं चुकाई जाएगी, लाइन शिफ्ट भी नहीं होगी। ऐसे में अब जनप्रतिनिधियों से ही आस लगी हुई है।

कौन दे इतनी राशि...
कॉलोनीवासी जगदीश अखरिया के नेतृत्व में स्थानीय निवासियों ने ६ माह पूर्व निगम में हाईटेंशन लाइनों को अन्यत्र शिफ्ट करने के लिए शिकायत दी। इस पर निगम ने इसकी एवज में ९ लाख ७० हजार रुपए का एस्टीमेट बनाकर थमा दिया। इससे कॉलोनीवासियों के होश उड़ गए। इतनी राशि देने में असमर्थता जताने पर निगम कार्यालय ने आधी राशि जमा करवाने की बात कही। आधी राशि निगम, तो आधी कॉलोनीवासियों को भुगतनी होगी। इस पर कॉलोनीवासियों में चर्चा हुई, लेकिन इतनी राशि एकत्रित नहीं हो सकी।

इसलिए छतों पर जाना भूले...
चक रोड से पूरी कॉलोनी में मकानों के ऊपर से लाइनें गुजर रही हैं। कॉलोनी में कई मकान ऐसे हैं, जिनकी छतों पर विद्युत पिलर खड़े हुए हैं। लाइन के खतरे के चलते लोग छतों पर जाना भूल गए है। कई जगह तो छतों पर जाने वाली सीढिय़ों को बंद तक कर दिया है। इन लाइनों की चपेट में आने से दो लोग झुलस भी चुके हैं।

बारिश में अधिक परेशानी...
कॉलोनी में लाइनों के नीचे बने मकानों में बारिश के दिनों में अधिक परेशानी आती है। बारिश से मकान सीलन हो जाती है, तो खंभों से करंट आने का डर बढ़ जाता है। लोगों का कहना है कि बारिश में मकानों में झनझनाहट सी महसूस होती है। नहीं हो रहा समाधानसीलन से मकानों में करंट आने से विद्युत लाइनों को चार पांच फिट ऊंचा तो करवा लिया, लेकिन समस्या का स्थाई समाधान नहीं हो सका। प्रधान गणेशनारायण शर्मा के कॉलोनी में आने के बाद लोगों ने उन्हें मौका स्थिति से अवगत कराया। इस पर उन्होंने भी शीघ्र ही समस्या का समाधान करवाने का आश्वासन दिया था। पूर्व विधायक को भी समस्या सुनाई, लेकिन वे भी आश्वासन देती रहीं। अब कॉलोनीवासियों ने वर्तमान विधायक से समस्या के समाधान की गुहार लगाई है। कॉलोनीवासियों का कहना है कि जनप्रतिनिधि विद्युत निगम को राशि देकर मकानों के ऊपर से गुजर रही लाइनों को हटवाएं, तो हमें बड़ी राहत मिलेगी।

Pankaj Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned