कोरोना संक्रमण- दुकानदार अंकित मूल्य से अधिक तो नहीं वसूला रहा

कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए पुलिस प्रशासन मुस्तैद, सामग्री खरीदारी के दौरान थानाधिकारी ग्राहकों से पूछताछ

Vinod Sharma

26 Mar 2020, 12:31 AM IST

बांसखोह। कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए पुलिस प्रशासन मुस्तैद है। बुधवार शाम को बस्सी एसीपी सुरेश सांखला और थानाधिकारी शिवकुमार भारद्वाज ने क्षेत्र में बाजार का जायजा लिया। मेडिकल, किराना एवं फल-सब्जी की दुकानों पर ग्राहकों की भीड़ इकट्ठी नहीं होने एवं ग्राहक-दुकानदार के बीच दूरी बनाए रखने के लिए दुकानदारों को निर्देश दिए। साथ ही काउंटर को बार-बार सेनेटाइजर से साफ करने की बात कही।

थानाधिकारी 2-3 ग्राहकों को रोककर कर रहे पूछताछ
इस दौरान उन्होंने 2 मेडिकल की दुकानों पर रंग से गोला बनाकर ग्राहकों की दूरी निश्चित की। इस दौरान दुकानदारों को निर्देशित किया कि दुकानदार के साथ आपस में ग्राहकों में भी एक मीटर से अधिक की दूरी होनी चाहिए, जिससे संक्रमण का खतरा नहीं रहे। इस दौरान थानाधिकारी ने 2-3 ग्राहकों को रोककर पूछा कि किसी दुकानदार ने अंकित मूल्य से ज्यादा रेट तो नहीं ली। साथ ही कहा कि अगर कोई भी दुकानदार अंकित मूल्य से ज्यादा वसूलता है, तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

पुलिस की सख्ती, एक दर्जन से अधिक वाहन जब्त
प्रधानमंत्री की कोरोना वायरस से बचाव के लिए आमजन को दी गई चेतावनी के बाद बुधवार सुबह से ही पुलिस ने और सख्ती बरतना शुरू कर दिया। दौसा-मनोहरपुर हाइवे सहित क्षेत्र में बैरिकेट्स लगाकर बेवजह घूमने वाले दोपहिया और चौपहिया वाहनों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए एक दर्जन से अधिक वाहनों को जब्त कर चालान किया। जानकारी के अनुसार आज सुबह रायसर चौकी प्रभारी रामकिशोर शर्मा के निर्देशन में नाकाबंदी कर हाईवे पर आने वाले वाहन चालकों से पूछताछ की गई। चिकित्सा, डेयरी जैसी सुविधाओं से जुड़े वाहनों को छोड़कर अन्य वाहनों पर कार्रवाई की गई। वहीं रायसर सहित आसपास के गांव के बाजारों में सरकार के आदेशों की पालना करते हुए मेडिकल, किराना, डेयरी व सब्जी की दुकानों को छोड़कर सभी दुकानें बंद रही। पुलिस प्रशासन क्षेत्र में गश्त करता रहा।

Corona virus
vinod sharma Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned