कोरोना का असर--राजकीय अस्पताल के एक्स-रे विभाग में कार्मिक पॉजिटिव, एक्स-रे सुविधा हुई बंद

 

मरीजों को बाहर निजी केन्द्रों से कराने पड़ रहे एक्स-रे



By: Satya

Published: 18 Oct 2020, 09:25 PM IST

ब्लॉक में अब तक 390 कोरोना पॉजिटिव केस, जिनमें 23 चिकित्साकर्मी

शाहपुरा। शाहपुरा कस्बा सहित ब्लॉक में लगातार रफ्तार से फैल रहा कोरोना संक्रमण आफत बना हुआ है। इलाके में कोरोना वॉरियर्स की भूमिका निभा रहे चिकित्साकर्मी भी संक्रमण की चपेट में आते जा रहे हैं। जिसका असर मरीजों पर भी पड़ रहा है। ब्लॉक के तीनों सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों शाहपुरा, अमरसर व मननेाहरपुर सहित कुछ प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में वर्तमान में कई चिकित्साकर्मियों व स्टाफ के कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से मरीजों पर असर पड़ा है। शाहपुरा के राजकीय अस्पताल में एक्सरे डिपार्टमेंट में कार्मिक के कोरोना पॉजिटिव आने व दो कार्मिकों के संदिग्ध होने से दो दिन से एक्स-रे डिपार्टमेंट को ही बंद कर दिया गया है।

अस्पताल में एक्स-रे सुविधा बंद होने से अस्पताल में आने वाले मरीजों और घायलों को बाहर निजी जांच केन्द्रों से एक्स-रे कराने पड़ रहे हैं। जिससे मरीजों व घायलों को आर्थिक नुकसान झेलना पड़ रहा है। शाहपुरा कस्बा नेशनल हाईवे पर होने से यहां आए दिन सडक़ हादसे होते रहते हैं। इसके अलावा इलाके का सबसे बड़ा अस्पतापल होने से मरीजों का भी दबाव बना रहता है। यहां प्रतिदिन करीब 50 से 60 मरीजों और घायलों के एक्स-रे होते हैं। ऐसे में एक्स-रे सुविधा बंद होने से मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मरीजों को बाहर निजी जांच केन्द्रों पर मनमाने दाम देकर एक्स-रे कराने पड़ रहे हैं। फिलहाल कुछ दिन तक एक्सरे सुविधा शुरू होने के भी आसार नजर नहीं आ रहे।

सीएचसी प्रभारी डॉ. हरीश मोहन मुदगल ने बताया कि अस्पताल के सभी चिकित्सकों को जरूरी हो तो ही मरीजों को एक्स-रे लिखने के निर्देश दिए हैं। जिससे मरीजों को किसी तरह की परेशानी नहीं हो।

एक्स-रे के पूरे स्टाफ को किया होम क्वारंटीन, रिपोर्ट नेगेटिव आने पर शुरू होगी सुविधा

शाहपुरा सीएचसी प्रभारी डॉ. हरीश मोहन मुदगल ने बताया कि अस्पताल के एक्स-रे डिपार्टमेंट में ३ कार्मिक है। रेडियोग्राफर, सहायक रेडियोग्राफर और एक संविदाकर्मी रेडियोग्राफर है। जिसमें से सहायक रेडियोग्राफर की 15 अक्टूबर को तेज बुखार होने पर कोरोना की जांच की गई तो रिपोर्ट पॉजिटिव आई। साथ ही उसके दोनों साथी भी संदिग्ध है। ऐसे में अस्पताल प्रशासन ने तीनों कार्मिकों को होम क्वारंटीन कर दिया। जिससे एक्सरे सुविधा ही बंद हो गई। सीएचसी प्रभारी ने बताया कि अब तीनों की कोरोना की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने पर ही एक्स-रे जांच सुविधा शुरू हो सकेगी। सुरक्षा के लिहाज से एक्सरे मशीनों और कक्ष को भी पूरी तरह से सेनेटाइज किया जाएगा। जिससे अन्य मरीजों, घायलों व कार्मिकों में संक्रमण नहंी फैले।
---------------

अस्पताल में अब तक 13 कार्मिक आ चुके संक्रमण की चपेट में
सीएचसी प्रभारी के मुताबिक शाहपुरा सीएचसी में अब तक 13 कार्मिक कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें चिकित्सक, नर्सिंगकर्मी, फार्मासिस्ट, लैब ब्वॉय, सफाईकर्मी सहित अन्य कार्मिक शामिल है। वर्तमान में एक सहायक रेडियोग्राफर, एक नर्सिंगकर्मी कोरोना पॉजिटिव है। साथ ही इनके संपर्क में आए करीब दो चिकित्सक, नर्सिंगकर्मी और अन्य कार्मिकों को भी संदिग्ध मानते हुए कोरोना जांच कराने के निर्देश दिए है।

मनेाहरपुर व अमरसर में सीएचसी में तीन पॉजिटिव
शाहपुरा ब्लॉक की मनेाहरपुर व अमरसर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भी तीन चिकित्सा कार्मिक कोरोना पॉजिटिव है। अमरसर रेपिड रेस्पॉन्स टीम के प्रभारी डॉ. दीपक चौधरी ने बताया कि अमरसर सीएचसी में एक नर्सिंगकर्मी और एक लिपिक पॉजिटिव आने से होम क्वारंटीन कर रखा है। जबकि मनेाहरपुर सीएचसी में लैब टैक्निशियन पॉजिटिव है।
---------------

ब्लॉक में कुल 390 कोरोना पॉजिटिव केस, जिसमें 23 चिकित्साकर्मी
बीसीएमएचओ शाहपुरा डॉ. विनोद शर्मा ने बताया कि ब्लॉक में अब तक कुल 390 जने कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं। जिनमें 23 चिकित्साकर्मी शामिल है। ब्लॉक में कुल 390 केस में से 295 मरीज रिकवर हो चुके हैं। जबकि 90 केस अभी एक्टिव है। अब तक कोरोना संक्रमण से 5 जनों की मौत हो चुकी है।
-------------------

सैंपलिंग बढऩे के साथ बढ़ रहे मरीज, ब्लॉक में 6120 की सैंपलिंग
शाहपुरा ब्लॉक में सैंपलिंग बढऩे के साथ ही कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। बीसीसमएचओ के मुताबिक ब्लॉक में अब तक कुल 6120 मरीजों की सैंपलिंग हो चुकी है। जिसमें 390 जने कोरोना पॉजिटिव आए हैं। इधर, शाहपुरा नगरपालिका क्षेत्र में सबसे अधिक सैंपलिंग हुई है। शाहपुरा सीएचसी प्रभारी डॉ. मुदगल के मुताबिक शाहपुरा में अब तक साढे तीन हजार लोगों की सैंपलिंग हो चुकी है। जिसमें 2 से 4 प्रतिशत कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा है।
---------------

गंभीर मरीज ही अस्पताल आएं, फोन पर भी ले सकते हैं सलाह
सीएचसी प्रभारी ने बताया कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए गंभीर मरीजों को ही अस्पताल में आने के निर्देश दिए हुए हैं। छोटी मोटी समस्या होने पर मरीज घर पर ही उपचार लें। समस्या होने पर ही अस्पताल में आएं। साथ ही कोरोना से बचाव के लिए मास्क और सोशल डिस्टेंस का पालन आवश्यक रूप से करें। सीएचसी गार्ड को भी नो मास्क नो एन्ट्री के निर्देश दिए हुए हैं। मरीजों की सुविधा के लिए सीएचसी प्रशासन की ओर से हैल्पलाइन नम्बर भी जारी किए हुए हैं। छोटी मोटी समस्या होने पर मरीज चिकित्सक से फोन पर भी सलाह ले सकते हैं।

-----------------

अस्पताल के एक्स-रे डिपार्टमेंट में तीन में से एक कार्मिक कोरोना पॉजिटिव है और दो संदिग्ध है। ऐसे में तीनों को होम क्वारंटीन किया हुआ है। तीनों की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने पर ही एक्स-रे सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। सभी चिकित्सकों को आवश्यक होने पर ही मरीजों को एक्स रे लिखने के निर्देश दिए हुए हैं। जिससे मरीजों को परेशानी नहीं हो।----डॉ. हरीश मोहन मुदगल, प्रभारी राजकीय अस्पताल, शाहपुरा

Corona virus

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned