लम्बे समय बाद बाजारों में लौटने लगी खुशियां, गुलजार होने लगे बाजार

दीपावली पर अच्छी बिक्री की उम्मीद

By: Satya

Published: 26 Oct 2020, 08:30 PM IST

शाहपुरा। कोरोना काल में करीब 7 माह तक मंदी की मार झेल रहे बाजारों में अब खुशियां लौटने लगी है। लॉक डाउन में बंद रहने और फिर लगातार ग्राहकों का इंतजार करने के बाद अब सबसे बड़ा त्यौहार दीपावली आया है। ऐसे में अब लोग कोरोना के बीच घरों से बाहर निकलकर बाजारों का रूख करने लगे हैं। जिससे बाजारों में रौनक लौटने लगी है। नवरात्र की शुरुआत से ही बाजारों में ग्राहक लौटने से बाजार गुलजार नजर आने लगे हैं। लगातार कई माह घरों में कैद रहने के बाद अब दीपावली के त्यौहार पर खुशियां लौटने लगी है।

शाहपुरा कस्बा सहित इलाके के बाजारों में सुबह से देर शाम तक ग्राहक नजर आने लगे हैं। कस्बे में कपड़े की दुकान हो, सजावटी सामान हो, इलेक्ट्रिानिक्स हो या फिर मोबाइल, सभी दुकानों पर ग्राहक नजर आने लगे हैं। रेडिमेड व अन्य कपड़े की दुकानों पर तो सुबह से देर शाम तक भीड़ नजर आती है।

इधर, नवरात्र की शुरुआत से ही वाहनों की बिक्री भी जोर पकडऩे लगी है। कई लोग वाहन खरीद रहे हैं तो कई दीपावली को लेकर अभी से बुकिंग कराने में लगे हुए हैं। इलेक्ट्रोनिक्स और इलेक्ट्रिकल्स और मोबाइल की दुकानों पर भी अच्छी बिक्री होने लगी है। बाजारों में ग्राहकों के लौटने से व्यवसायी भी लम्बे समय बाद खुश नजर आने लगे हैं। पहले कोरोना काल में जहां दुकानदार ग्राहकों के लिए तरस गए थे, वहीं इस बार रोशनी का त्यौहार दीपावली खुशियां लौटने लगी है। दुकानदारों ने दीपावली के त्यौहार केा लेकर दुकानों की साफ सफाई कर ग्राहकों के लिए सजा ली है। इस बार सभी तरह के व्यापारियों केा अच्छा व्यापार होने की उम्मीद है।

7 माह बाद सुनहरे दिन देखने को मिल रहे, लौटने लगी रौनक
कपड़ा व्यापार संघ के अध्यक्ष अशोक मंगल व पूर्व अध्यक्ष वेद प्रकाश गोयल ने बताया कि लम्बे समय बाद अब बाजारों में रौनक लौटने लगी है। ग्राहकी को देखते हुए इस बार दीपावली पर अच्छा व्यापार होने की उम्मीद है। इधर, ऑटोमाबाइल एसोसिएशन के प्रमोद गोयल का कहना है कि 7 माह के बाद सुनहरे दिन देखने को मिले हैं। शोरूमों पर ग्राहकों लौटने से रौनक नजर आने लगी है।

प्रतिदिन वाहनों की अच्छी बिक्री हो रही है। अधिकांश लोग फाईनेंस पर वाहन खरीद रहे हैं। फाईनेंस कंपनियों ने भी रियायत शुरू की है। उनका कहना है कि हालांकि पिछले सालों से तुलना करें तो ग्राहक कम है, लेकिन जिस तरह से पिछले कई माह से कोरोना महामारी ने धंधा चौपट कर दिया था। उसके बाद अब नवरात्र व दीपावली का त्यौहार खुशियां लेकर आया है। कई व्यापारियों को तो कोरोना काल में दुकानों का किराया चुकाना ही मुश्किल हो रहा था, वहीं अब उनके चेहरे से भी मायूसी के बादल छंटते जा रहे हैं।

इधर, मोबाइल शॉप के मालिक रामनारायण चौधरी का कहना है कि मोबाइल की इस बार दीपावली पर्व पर अच्छी बिक्री का अनुमान है। प्रत्येक दुकान पर ग्राहक आने लगे हैं।

दीपावली व सावे को लेकर ज्वैलरी व्यवसाय भी उठ गया
इधर, कोरोना काल के बाद दीपावली पर्व आने और देवउठनी एकादशी के सावे को लेकर ज्वैलरी व्यवसाय भी उठने लगा है। हालांकि अनलॉक डाउन के बाद अन्य सामानों की दुकानों पर तो पहले भी कुछ तो बिक्री होती थी, लेकिन ज्वैलरी व्यवसाय अधिक प्रभावित हुआ था। वहीं, अब सोने-चांदी की दुकानों पर भी ग्राहकी शुरू होने लगी है। सर्राफा व्यापार संघ अध्यक्ष मामराज सोनी ने बताया कि लम्बे समय बाद खुशियां देखने को मिल रही है।

करीब 40 फीसदी गिरावट
व्यापारियों का कहना है कि हालांकि कोरोना काल के बाद अब बाजारों में खरीदारी शुरू हुई है। इससे दीपावली पर्व पर अच्छे कारेाबार की उम्मीद जताई जा रही है। लेकिन पिछले साल के कारोबार से तुलना की जाए तो इस बार बाजारों में करीब 40से 50 फीसदी तक की गिरावट है। हालांकि 50 फीसदी तक कारेाबार पटरी पर लौटने लगा है। इससे दिनों दिन बाजार उठने की उम्मीद है। दीपावली और देव उठनी एकादशी को लेकर लोग खरीदारी करने लगे है। कोरोना काल में शादी विवाह बंद थे, अब कई माह बाद देव उठनी एकादशी पर शादियों का सीजन शुरू होगा। ऐसे में कारेाबार पटरी पर लौटने की पूरी उम्मीद है।

Corona virus

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned