कोरोना वायरस बाहर, घरों में इस समस्या से जूझ रहे रहवासी

देश में कोरोना संक्रमण का खतरा होने के कारण लॉकडाउन है, तो दूसरी तरफ कई क्षेत्र के वासी पेयजल के लिए तरस रहे हैं

By: Gourishankar Jodha

Published: 27 Mar 2020, 06:09 PM IST

विराटनगर। देश में कोरोना संक्रमण का खतरा होने के कारण लॉकडाउन है, तो दूसरी तरफ कई क्षेत्र के वासी पेयजल के लिए तरस रहे हैं। कस्बे में पेयजल की सप्लाई की पर्याप्त व्यवस्था नहीं होने के कारण ग्रामीणों को एक दिन छोड़कर तीसरे दिन पेयजल नसीब हो रहा है, वह भी पर्याप्त मात्रा में नहीं। कस्बे के ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि कई वार्डोंं में 3 दिन से पेयजल सप्लाई नहीं हुआ है। इस कारण लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

जलदाय विभाग को बताया पर ध्यान नहीं दे रहे
वार्ड 20 निवासी ओम प्रकाश मुनीम ने बताया कि पिछले तीन दिन से पेयजल आपूर्ति नहीं होने के कारण ग्रामीणों को पीने के पानी की समस्या हो रही है । कोरोना संक्रमण के चलते हैं, लोग घरों में बंद है। समस्या को लेकर बार-बार जलदाय विभाग को अवगत करवाने पर भी कोई ध्यान नहीं दे रहा है। जलदाय विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार कस्बे के वार्ड 3 से 10 एवं 19 व 20 के 19 जोनों में बादशाहपुर में स्थित बोरिंगों से डायरेक्ट सप्लाई की जाती है।

1 दिन छोड़कर नियमित सप्लाई
कस्बे के मेन मार्केट, पोस्ट ऑफिस, सराय मोहल्ला, गणेश मंदिर, अखाड़ा, किले के पास, मेहंदोला सहित कई ढाणियों में टंकियों से पेयजल सप्लाई की जाती है। जलदाय विभाग के सहायक अभियंता तेजपाल सिंह ने बताया कि कस्बे में 1 दिन छोड़कर नियमित सप्लाई की जा रही है, लेकिन सोमवार को दिन में विद्युत आपूर्ति की कटौती के कारण सप्लाई नहीं हो पाई। सोमवार को देर शाम तक या मंगलवार सुबह सप्लाई की जाएगी।

बेमौसम की बारिश
विराटनगर. कस्बे सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्र में गुरुवार दोपहर हुई बूंदाबांदी ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। किसान दिनभर खेतों में पड़ी फसल को समेटते नजर आए। किसानों ने बताया की जौ एवं सरसों की फसल कटी हुई खेतों में पड़ी है, जिसका बरसात होने से रंग खराब होने का डर बना हुआ है। बरसात से मौसम में ठंडक हो गई।

Corona virus
Gourishankar Jodha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned