बिजली को लेकर प्रदर्शन, रखी ये मांगे

मुख्यमंत्री के नाम अजीतगढ़ बिजली निगम की एआरओ को ज्ञापन देकर विभिन्न मांगों को लेकर सीटू यूनियन ने किया प्रदर्शन

By: Gourishankar Jodha

Published: 07 Sep 2020, 08:45 PM IST

गढ़टकनेत। सभी श्रेणी के उपभोक्ताओं की 6 माह के बिजली के बिल माफ किए जाए, घरेलु बिजली की बढ़ाई गई दरों को वापस ली जाए, किसानों की बिजली की 10000 तक की सब्सिडी दुबारा जारी की जाए, गलत वीसीआर भरना बंद करे। साथ ही स्थाई सेवा शुल्क के नाम पर चार्ज वसूलना बंद करें। बिजली की विभिन्न मांगों को लेकर सीटू यूनियन के नेतृत्व में सोमवार को कार्यकर्ताओं एवं लोगों ने अजीतगढ़ बिजली निगम कार्यालय जा कर प्रदर्शन किया।
पांच सूत्रीय मागों का ज्ञापन मुख्यमंत्री के नाम एआरओ को दिया। जानकारी के अनुसार सीटू जिला कमेटी सदस्य कामरेड ओमप्रकाश यादव के नेतृत्व में बिजली निगम अजीतगढ़ के सहायक अभियंता कार्यालय पर प्रदर्शन किया। इस मौके पर सुभाष गुर्जर, महा सचिव राजेंद्र सैनी, कार्यकारिणी सदस्य संपतसिंह, किशोरसिंह, राजेंद्र कुमार, सुरेश, प्रभुदयाल, राजेंद्र रैगर, शंकर गुर्जर, बजरंग लाल सहित कई सदस्य उपस्थित थे।

किसान संघ ने मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन
कस्बे के उप तहसील कार्यालय में सोमवार को नायब तहसीलदार हरीचन्द रैगर को भारतीय किसान संघ के कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। संघ सदस्यों ने प्रदेश में चल रही बिजली की अघोषित कटौती को शीघ्र बन्द करवाने, गांव-गांव में वीसीआर के नाम पर किसानों तथा उपभोक्ताओं से हो रही लुट को बन्द करवाने। बिजली बिलों में विभिन्न बढ़े हुए सरचार्ज को वापस लेने तथा किसानों को 833 रुपए की प्रतिमाह सब्सिडी राशि वापस शुरू करने, सामान्य श्रेणी के कृषि कनेक्शनों पर रोक हटा कर जारी करने, कृषि में बढ़ाए गए विभिन्न सरचार्ज को कम करने सहित विभिन्न समस्याओं में सुधार की मुख्यमंत्री से मांग की। इस दौरान बदरी प्रसाद हरितवाल कालुराम यादव, सुवालाल यादव, रामेश्वर दादरवाल सहित कई लोग मौजूद थे।

Gourishankar Jodha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned