Farmers benefits - किसानों को मिलेंगे यह फायदें, स्वैच्छिक भार वृद्धि घोषणा योजना

- दो लाख यूनिट बढऩे से निगम को होगा दस लाख का फायदा
- किसानों को भी मिलेगा लाभ,
- स्वैच्छिक भार वृद्धि शिविर में उपभोक्ताओं ने दिखाई रुचि
- शिविर में 301 उपभोक्ताओं को 1680 एचपी का लोड बढ़ाया

By: Gourishankar Jodha

Published: 22 Oct 2020, 05:34 PM IST

जमवारामगढ़। जयपुर डिस्कॉम की ओर से रबी सीजन में कृषि क्षेत्र में विद्युत आपूर्ति की गुणवत्ता में वृद्धि कर स्वैच्छिक भार वृद्धि घोषणा योजना का लाभ प्रदान करने के लिए बुधवार को सहायक अभियंता कार्यालय पर शिविर लगा।
शिविर में 301 उपभोक्ताओं ने आवेदन किया। इनकी 1680 एचपी का तत्काल लोड बढ़ाया जाकर राहत देने का काम किया गया। 1680 हॉर्स पॉवर लोड बढऩे से निगम को दो लाख यूनिट का लाभ होने से दस लाख रुपए प्रति माह की आय के साथ वर्ष भर में एक शिविर से सवा करोड़ की आय हो सकेगी। किसानों को लोड बढ़ाने से उच्च क्षमता के ट्रांसफॉर्मर रखे जाएंगे। इससे किसानों के पंपसेट जलने व बार-बार ट्रांसफॉर्मर जलने की समस्या से निजात मिल सकेगी। बिजली आपूर्ति सही मिलने से सिंचाई मे सुविधा रहेगी।

30 रुपए प्रति एचपी धरोहर राशि प्रति माह की दर
सहायक अभियंता जेवीवीएनएल जमवारामगढ़ आरके परेवा ने बताया कि इसमें उपभोक्ताओं ने रुचि दिखाई। शिविर में उपभोक्ताओं की नि:शुल्क भार वृद्धि की गई। किसी प्रकार का अतिरिक्त शुल्क नहीं लिया। परेवा ने बताया की उपभोक्ता बढ़े भार को 30 रुपए प्रति एचपी धरोहर राशि प्रति माह की दर से दो माह के लिए बिलों में डेबिट कर भार वृद्धि नियमितीकरण करेंगे। पांच काटे घरेलू कनेक्शनों को दोबारा जोडऩे के आदेश देकर हाथोहाथ आपूर्ति बहाल की गई। सहायक अभियंता ने बताया दीपावली से पहले 200 नये घरेलू उपभोक्ताओं को घरेलू बिजली देने का लक्ष्य है।

इनका कहना
भार वृद्धि से निगम को दो लाख यूनिट की राशि मिलेगी तथा किसानों को लोड के अनुसार उच्च क्षमता ट्रांसफॉर्मर लगने से अच्छी गुणवत्ता की आपूर्ति होने से पंप सेट व ट्रांसफॉर्मर बार-बार जलने की समस्या से निजात मिल सकेगा।
आरके परेवा, एइन जेवीवीएनएल जमवारामगढ़

स्वैच्छिक भार वृद्धि योजना शिविर
कृषि उपभोक्ताओं के लिए विद्युत लोड बढ़ाने के लिए बुधवार को कानोता सहायक अभियंता कार्यालय पर शिविर लगा। सहायक अभियंता अंशुल वर्मा ने बताया कि स्वैछिक भार वृद्धि योजना के 43 एचपी के आवेदन हुए एवं 105 एचपी भार वृद्धि बिना पेनल्टी के बढ़ाई गई।

Gourishankar Jodha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned