scriptGetting the East Rajasthan Canal Project approved and bringing it on t | पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को स्वीकृत करवाकर धरातल पर लाना राजस्थान सरकार का मुख्य ध्येय--गहलोत | Patrika News

पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को स्वीकृत करवाकर धरातल पर लाना राजस्थान सरकार का मुख्य ध्येय--गहलोत

गरीब को गणेश मान कर सेवा करना ही जनप्रतिनिधि का सच्चा कर्तव्य


भीलवाड़ा मॉडल को देश-विदेशों में सराहा

बस्सी

Published: October 29, 2021 09:52:05 pm


शाहपुरा।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को स्वीकृत करवा कर धरातल पर लाना ही राजस्थान सरकार का मुख्य ध्येय है। इस योजना के धरातल पर आने के बाद प्रदेश के 13 जिलों को इसका फायदा मिलेगा। जिसमें जयपुर जिला भी शामिल है। सरकार इस योजना के लिए प्रयासरत है।
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को स्वीकृत करवाकर धरातल पर लाना राजस्थान सरकार का मुख्य ध्येय--गहलोत
पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को स्वीकृत करवाकर धरातल पर लाना राजस्थान सरकार का मुख्य ध्येय--गहलोत
योजना को लागू कराने के लिए राजस्थान का मुख्यमंत्री होने के नाते मैं प्रधानमंत्री का पीछा नहीं छोडूंगा। जोधपुर के सांसद गजेन्द्र सिंह शेखावत, जो कि केन्द्र में मंत्री भी है, उनको भी प्रदेशवासियों की भावनाओं को देखते हुए इसके लिए प्रयास करने चाहिए।
यह बात मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को शाहपुरा तहसील की करीरी ग्राम पंचायत में आयोजित प्रशासन गांवों के संग शिविर के दौरान संबोधित करते हुए कही। गहलोत ने कहा कि प्रदेश सरकार पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को राष्ट्रीय योजना घोषित करने में जुटी हुई है। केंद्रीय जल शक्ति मंत्री की ओर इशारा करते हुए कहा कि प्रदेश के हित के लिए केंद्रीय मंत्री को इस योजना को राष्ट्रीय योजना घोषित करने में योगदान देना चाहिए।
कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि गरीब को गणेश मान कर सेवा करना ही जनप्रतिनिधि का सच्चा कर्तव्य होता है। प्रदेश की जनता के आशीर्वाद व समर्थन से ढाई साल पहले बनी कांग्रेस सरकार ने सरकार के 21 विभागों के कामकाज के लिए प्रशासन गांवों के संग व प्रशासन शहरों के संग अभियान शुरू कर सरकार को आम आदमी के दरवाजे तक पहुंचाने का काम किया है।
समारोह की अध्यक्षता करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष व शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि सरकार ने अपने गठन से पूर्व किए गए वादों में 72 प्रतिशत वादे पूरे किए हैं। प्रदेश अध्यक्ष डोटासरा ने कहा कि मुख्यमंत्री ने प्रशासन गांवों के संग व प्रशासन शहरों के संग अभियान की सार्थकता की जांच करने के लिए प्रदेश के हर जिले में दौरा कर रहे हैं। डोटासरा ने कहा कि कोविड-19 महामारी के दौरान प्रदेश सरकार के कामकाज को प्रधानमंत्री सहित केंद्र सरकार व विदेशों में भी सराहा गया है। डोटासरा ने कहा कि प्रदेश के युवाओं को रोजगार देने के लिए राज्य सरकार ने शिक्षक भर्ती, आरएएस भर्ती सहित अन्य पदों पर भर्तियां निकाली है और अन्य भर्तियों की तैयारी है।
कार्यक्रम संयोजक शाहपुरा विधायक आलोक बेनीवाल ने मुख्यमंत्री व प्रदेश अध्यक्ष द्वारा विधानसभा क्षेत्र में किए गए विकास कार्यों के लिए आभार जताते हुए विधानसभा क्षेत्र की मुख्य जरूरतों व राज्य सरकार द्वारा कराए गए कार्यों पर प्रकाश डाला। विधायक ने कहा कि सीएम ने शाहपुरा विधानसभा क्षेत्र को कई सौगातें दी है, जिससे शाहपुरा विकास के पथ पर अग्रसर हो रहा है। कार्यक्रम में संस्कृत शिक्षा मंत्री डॉ सुभाष गर्ग भी पहुंचे। हेलीपैड पर मुख्यमंत्री व अन्य पदाधिकारियों का मोटर गैरेज राज्य मंत्री राजेंद्रसिंह यादव व विधायक आलोक बेनीवाल ने सूत की माला भेंट कर स्वागत किया।
70 हजार पदों पर भर्ती की तैयारी
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने एक लाख युवाओं को रोजगार देने के लिए भर्तियां निकाली है व 70 हजार पदों पर भर्तियां और निकालने की तैयारी है। साथ ही प्रदेश के हर नागरिक को राहत देने के लिए सरकार ने पेंशन 500 रुपए से बढाक़र 750 तथा 750 से बढ़ाकर 1000 रुपए कर दी है।
भीलवाड़ा मॉडल को देश व विदेशों में भी लागू किया
मुख्यमंत्री ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर भीलवाड़ा में लागू किए गए मॉडल की सराहना करते हुए कहा कि कोरोना काल के दौरान प्रथम मरीज से पहचान कर हर व्यक्ति तक इलाज पहुंचाने वाले भीलवाड़ा मॉडल को प्रदेश सहित देश व विदेशों में भी लागू किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के दौरान प्रदेश सरकार ने व्यवस्थाओं के लिए केंद्र सरकार सहित अन्य एजेंसियों से भी व्यवस्था को लेकर लगातार संपर्क रखा था। राज्य सरकार की थीम प्रदेश का हर नागरिक रहे निरोगी है, जिसके तहत प्रदेश में चिरंजीवी योजना लागू की गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के दौरान हजारों, लाखों लोग मारे गए, जिसमें गंगा किनारे लाशें तैरते देखना दुर्भाग्यपूर्ण था।
अभी कोरोना गया नहीं इसलिए मास्क लगना जरूरी
सीएम गहलोत ने कहा कि अभी कोरोना संक्रमण गया नहीं है, इसीलिए लोगों को मास्क अनिवार्य रूप से लगाना चाहिए। मास्क लगाने से प्रदेश में दमा रोग वाले मरीजों की संख्या में भी गिरावट आई है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.