छात्राओं ने सीखा पंच मारना.....महिला कॉलेज की छात्राओं को सिखाए आत्म रक्षा के गुर

-प्रशिक्षक बोली---महिलाएं कोमल है, कमजोर नहीं

By: Satya

Updated: 12 Oct 2018, 09:17 PM IST

 

शाहपुरा। कस्बे के बाबा गंगादास राजकीय महिला महाविद्यालय में युवा कौशल विकास प्रकोष्ठ के मानवाधिकार प्रकोष्ठ, राष्ट्रीय सेवा योजना एवं महिला प्रकोष्ठ के संयुक्त तत्वावधान में गुरुवार को आत्मरक्षा के गुर विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला व प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित हुआ।
इस दौरान पुलिस मुख्यालय जयपुर से आई प्रशिक्षक ने छात्राओं को आत्मरक्षा के गुर सिखाए। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्राचार्य डॉ. अनामिका सिंह ने कहा कि वर्तमान में छात्राओं को आत्म सुरक्षा की जागरुकता एवं कौशल को जानना जरूरी है। इस तरह के प्रशिक्षण से छात्राओं को आत्मरक्षा के टिप्स मिलते हैं, साथ ही आत्मविश्वास भी बढ़ता है।
पुलिस प्रशिक्षक गायत्री ने कहा कि वर्तमान समय में महिलाओं को आपातकालीन परिस्थिति में ही नहीं, बल्कि सभी परिस्थितियों में स्वयं की रक्षा करना आना चाहिए।


उन्होंने कविताओं के माध्यम से भी छात्राओं का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि महिलाएं कोमल है, पर कमजोर नहीं। शक्ति का दूसरा नाम नारी है। नर को जीवन देने वाली, मौत को भी परास्त करने वाली है। छात्राओं ने भी उत्साह से भाग लेकर प्रशिक्षण लिया। कार्यक्रम में सभी संकाय सदस्य एवं छात्राएं मौजूद थी। मंच संचालन डॉ. रुपा मंगलानी ने किया। अंत में प्राचार्य ने प्रशिक्षण का सम्मान किया।

 

छात्राओं को सिखाया पंच मारना

 

कार्यक्रम में राजस्थान पुलिस की आत्म सुरक्षा विशेषज्ञ गायत्री ने छात्राओं को आपात स्थिति में आत्म सुरक्षा के गुर सिखाए। उन्होंने सामने वाले के पंच मारना, किक, हैण्ड मूवमेंट, ब्लॉकेज, थ्रो व विभिन्न तकनीक का प्रशिक्षण करके सिखाया। प्रशिक्षण के बाद छात्राओं से भी पंच मारना, थ्रो आदि कराया गया। कार्यक्रम में सार्वजनिक स्थानों आत्मसुरक्षा के तौर तरीके बताए गए।

 

शारीरिक शिक्षकों को भी दी जा रही ट्रेनिंग

 

प्रशिक्षक गायत्री ने बताया कि प्रशिक्षण लेने के बाद अब तक हजारों छात्राओं और महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। जयपुर के अलावा कई जिलों के स्कूल, कॉलेजों में छात्राओं और महिलाओं को प्रशिक्षण दिया है। अभी वर्तमान में सरकारी स्कूल, कॉलेजों के शारीरिक शिक्षकों को भी प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जिससे कि वे छात्राओं को प्रशिक्षण दे सके।

 

sp

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned