पथरीले रास्ते पर चलते-चलते पथरा गई आंखें, पैरों में पड़ गए छाले

बदहाली पर आंसू बहा रहा खुराड़ गांव

By:

Updated: 07 Jun 2018, 10:55 PM IST

अचरोल. आमेर तहसील की कूकस ग्राम पंचायत का खुराड़ गांव बदहाली पर आंसू बहाने को मजबूर है। वर्षों पुराना यह गांव पंचायत एवं तहसील मुख्यालय से आज भी सड़क मार्ग से कटा हुआ है। पथरीले रास्तों पर चलते-चलते कई बुजुर्गों की आंखें पथरा गई हैं, लेकिन लेकिन कूकस और आमेर को खुराड़ से जोडऩे वाले रास्ते को आज तक डामरीकरण का इंतजार है। ऐसा नहीं है कि रास्ते पर डामरीकरण के लिए खुराड़ वासियों ने सरकार और प्रशासन से गुहार नहीं लगाई हो। ग्रामीण कूकस सरपंच रामगोपाल शर्मा के नेतृत्व में कई बार वन विभाग, प्रशासन और सरकार को अपनी पीड़ा बता चुके हैं, लेकिन सुनवाई नहीं हुई।

Grvel road waiting for damar
Praveen Sharma IMAGE CREDIT:

वन विभाग का अड़ंगा


रास्ते पर डामरीकरण नहीं होने की सबसे बड़ी वजह वन विभाग से अनापत्ति प्रमाण पत्र नहीं मिलना है। अधिकांश रास्ता वन विभाग और नाहरगढ़ सेंच्यूरी में आने के कारण वन विभाग एनओसी नहीं दे रहा और रास्ते पर डामरीकरण नहीं हो पा रहा है।


लहूलुहान हो जाते हैं स्कूली बच्चे
उपसरपंच रामकिशन मीना, सुरेश मीना, रामपाल मीना आदि ने बताया कि गांव में अनुसूचित जनजाति के लोग सैकड़ों वर्षों से निवास कर रहे हैं। यहां केवल प्राथमिक विद्यालय है। इसके बाद बच्चों को पढऩे के लिए पैदल ही आमेर या कूकस जाना पड़ता है। रास्ता पथरीला होने से बच्चों के पैरों में छाले पड़ जाते हैं एवं खून तक निकलना शुरू हो जाता है। साथ ही रास्ते में जंगली जानवरों के भय के कारण कई बार अभिभावकों को भी साथ जाना पड़ता है। ग्रामीणों ने जल्द रास्ते पर डामरीकरण कराने की मांग की है।


इनका कहना है...
ग्राम खुराड़ और नमस्तीपुर करीब 350 वर्ष पुराने गांव हैं। वन विभाग की आपत्ति के कारण सड़क नहीं बन पा रही है। कई बार सरकार और वन विभाग को एनओसी देने एवं खुद सड़क बनाने के लिए पत्र लिखे हैं। जल्द गांववासियों का सड़क का सपना पूरा होगा।


रामगोपाल शर्मा, सरपंच, ग्राम पंचायत कूकस

जिला परिषद से पांच लाख दिलवाने को तैयार हूं। पंचायत भी तैयार है। वन विभाग अधिकारियों से भी इस बारे में चर्चा हुई है। जल्द ही जिला कलक्टर को अवगत करवाया जाएगा।


गिर्राज जांगिड़, जिला पार्षद वार्ड संख्या 38

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned