सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की उड़ रही धज्जियां: नेशनल हाइवे 12 पर बिना नम्बरों के ट्रकों में अवैध बजरी परिवहन और एस्कॉर्ट करती है कारें

vinod Sharma

Publish: May, 17 2018 09:11:33 PM (IST)

Chaksu, Jaipur, Rajasthan, India
सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की उड़ रही धज्जियां: नेशनल हाइवे 12 पर बिना नम्बरों के ट्रकों में अवैध बजरी परिवहन और एस्कॉर्ट करती है कारें

सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की उड़ रही धज्जियां : नेशनल हाइवे 12 बना अवैध बजरी परिवहन मार्ग

कादेड़ा (जयपुर)। उच्चतम न्यायालय के बजरी खनन पर रोक के बाद भी अवैध बजरी खनन की कार्रवाई रुकने का नाम नहीं ले रही है। अवैध बजरी खनन करने वाले मुहं मांगे दामो पर जयपुर और आसपास के जिलों में अवैध बजरी परिवहन करवाते है सर्वाधिक मात्रा में बजरी परिवहन रात के समय धडल्ले से किया जाता है। वहीं पुलिस भी समय समय पर कार्रवाई करते हुए अवैध परिवहन करने वाले वाहनों पर कार्रवाई कर लेती है। जबकि आस-पास में बजरी खनन टोंक जिले के बनास नदी क्षेत्र से किया जाता है। बजरी की जयपुर, अजमेर , अलवर, दौसा, भीलवाड़ा तक अधिक मांग है।

गिरोह बनाकर अवैध बजरी परिवहन
कुछ दिनों से नेशनल हाइवे 12 पर कुछ लोग गिरोह बनाकर अवैध बजरी परिवहन करने की कोशिश कर रहे है। इसकी सूचना मिलने पर चाकसू उपखण्ड अधिकारी रणजीत सिंह गोदारा ने टीम गठित कर दी। इसके बाद टीम के साथ कार्रवाई करते हुए ट्रक को रूकने का इशारा किया। इस दौरान एक कार ने टीम की कार्रवाई में व्यवधान डालने का प्रयास किया और एसडीएम की कार के आगे कार लगा दी। जिससे अवैध बजरी परिवहन के वाहनों को भगाने का प्रयास किया। लेकिन टीम की सतर्कता के आगे बिरोह की एक न चली और 2 डम्पर व 1 ट्रोले को पकड़ लिया। वहीं एक खाली डम्पर मौका पाकर फरार हो गया।

बिना नम्बरों के ट्रोले
उपखण्ड़ अधिकारी ने बताया कि गुरुवार सुबह 11 बजे के आस पास अवैध बजरी परिवहन की सूचना पर यहां नेशनल हाइवे 12 पर आकोडिय़ा के पास कार्रवाई के दौरान बजरी से भरे ड़म्पर और ट्रोले को रुकने का इशारा किया तो इनको एस्कॉर्ट कर रही थार जीप ने कार्रवाई में अवरोध का प्रयास किया। गिरोह अवैध बजरी परिवहन के दौरान बिना नम्बरों के तीन ट्रोले को एस्कॉर्ट कर रहा था। इस दौरान टीम ने कार्रवाई करते हुए एक ट्रोला और दो डम्पर पकड़ लिया ओर एक डम्पर बजरी खाली करके भाग गया। गाड़ी के नम्बर को ट्रेस करने हुए डीसीपी, एसीपी, थानेदार, माईनिंग विभाग व डीटीओ टोंक को आवश्यक कार्रवाई के लिए लिखा है। उपखण्ड़ अधिकारी ने बताया कि यह थार जीप अक्सर चाकसू थाने के आस पास घूमते दिख जाती है। अवैध बजरी परिवहन पर कार्रवाई करने को लेकर चाकसू एसएचओ को सूचित कर दिया है।

एसडीएम ने कसी कमर
एसडीएम ने उच्चतम न्यायालय के आदेशों का पालन करवाने के लिए कमर कस ली है। उन्होंने बताया कि यह अभियान व्यापक स्तर पर व दिन रात चलाया जाएगा। इसको लेकर टीम तैयार कर ली है जिसमें माइनिंग विभाग व चाकसू प्रशासन की संयुक्त टीम का गठन किया है जो क्षेत्र में लगातार प्रमुख मार्गो पर गश्त पर रहेगी। साथ ही चेक पोस्टो का ओर आवश्यक कार्रवाई करेगी। यह अभियान अवैध बजरी परिवहन रुकने तक जारी रहेगा उच्चतम न्यायालय के आदेशों के पालन करने के लिए अभियान चलाया गया है।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned