शहीद पुलिया की सुरक्षा को खतरा, विशेषज्ञों की जांच में मिली खामी, 1994 में बनी पुलिया से टोल कम्पनी ने रोक दिया वाहनों का आवागमन

Arun Sharma

Publish: Mar, 14 2018 05:09:51 PM (IST)

Bassi, Jaipur, Rajasthan, India
शहीद पुलिया की सुरक्षा को खतरा, विशेषज्ञों की जांच में मिली खामी,  1994 में बनी पुलिया से टोल कम्पनी ने रोक दिया वाहनों का आवागमन

जयपुर-आगरा हाईवे पर जटवाड़ा के पास विशेषज्ञों की जांच के बाद मरम्मत शुरू

बस्सी (जयपुर)। जयपुर-आगरा हाईवे पर जटवाड़ा के पास वर्ष 1994 में शहीद की पुलिया का निर्माण किया गया था। जयपुर-आगरा हाईवे की पुलिया सुरक्षा संबंधी मापदंडों को पूरा करती है या नहीं। इसको लेकर कम्पनी ने विशेषज्ञों से जांच करवाई तो जटवाड़ा पुलिस चौकी के पास बनी शहीद की पुलिया सुरक्षा मानकों पर खरी नहीं उतरी। ऐसे में विशेषज्ञों ने शीघ्र ही मरम्मत करवाने की सलाह दी। वहीं यहां से रोजाना 14 से 16 हजार वाहन गुजरते है। इसके बाद कम्पनी ने पुलिया की मरम्मत शुरू करवा दी। इससे हाईवे पर करीब एक किलोमीटर की दूरी में यातायात को एक तरफ से गुजारा जा रहा है, जिससे वाहन चालक परेशान है लेकिन कम्पनी के अधिकारी सुरक्षा की दृष्टि से जरूरी बता रहे हैं।

READ NEWS : ऐसा क्या किया कांस्टेबल ने की रस्सियों से बांध दिया, फिर गला दबाकर उतारा मौत के घाट, शव को हाईवे के पास फेंका, नहीं मिली वर्दी

खतरे से कम नहीं था वाहनों का गुजरना
जानकारी अनुसार जयपुर-आगरा हाईवे पर बनी पुलिया पर जयपुर-महुवा टोल-वे प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी की ओर से 8 मार्च से इस पुलिया का मरम्मत एवं रखरखाव कार्य शुरू किया गया। सूत्रों की माने तो सुरक्षा के मद्देनजर पुलिया से वाहनों को गुजरना किसी खतरे से कम नहीं था।

READ NEWS : चाकसू शीतला माता मेले में हुआ ऐसा कि हर तरफ लगी रही भीड़, कैमरों से निगरानी, सादा वस्त्रों में तैनात रहे पुलिसकर्मी

वाहनों की आवाजाही बंद
मरम्मत कार्य के दौरान कोई वाहन यहां तक कि साइकिल भी नहीं गुजरे। पुलिया क्षेत्र से वाहनों की आवाजाही पूरी तरह बंद करवा दी गई है। कम्पनी के कार्मिकों ने पुलिया से पहले मदनपुरा-पाटन कट से जटवाड़ा स्टेशन कट तक करीब एक किलोमीटर क्षेत्र में जयपुर से दौसा की तरफ की लेन को बंद कर दिया। इस दूरी में हाईवे को वन-वे करके वाहनों को गुजारा जा रहा है। इससे वाहन चालकों को परेशानी हो रही हैै। हाईवे पर वाहनों का दबाव बढऩे पर यातायात रेंगकर चलता है, जिससे कई बार तो जाम की स्थिति बन जाती है।

READ NEWS : चाकसू में वैन सवार लोगों में अचानक मची चीख पुकार, हर कोई आवाज सुनकर दौड़ पड़ा, पुलिस को दी सूचना...

 

Jaipur  <a href=agra Highway puliya par khatare ka andesha" src="https://new-img.patrika.com/upload/2018/03/14/bassi03_2491232-m.jpg">

जरूरी था काम करवाना
सूत्रों ने बताया कि शहीद की पुलिया का काम वर्ष 1994 में किया गया था। जयपुर-आगरा हाईवे की पुलिया सुरक्षा संबंधी मापदंडों को पूरा करती है या नहीं। इसके लिए कम्पनी ने विशेषज्ञों को हायर करके जांच पड़ताल करवाई थी, जिसमें जटवाड़ा पुलिस चौकी के निकट बनी शहीद की पुलिया सुरक्षा मानकों पर खरी नहीं उतरी। विशेषज्ञों ने इसकी मरम्मत तुरंत प्रभाव से करवाने की सलाह दी। विशेषज्ञों ने बताया कि मानसून से पहले इसकी मरम्मत जरूरी है, अन्यथा पुलिया को नुकसान पहुंच सकता है।

READ NEWS : हत्या कर महिला के शव को लहंगे की जगह पेंट पहनाकर बाइक पर ले गए, फिर कुएं में डाल दिया, आखिर भाई को प्रेम प्रसंग क्यो नागवार गुजरा

करीब 15-20 दिन लगेंगे
इसे लेकर टोल प्लाजा कम्पनी ने पुलिया का मरम्मत कार्य शुरू करवाया है। कम्पनी सूत्रों की मानें तो इस काम को पूरा होने में करीब 15-20 दिन और लगेंगे, तब तक पुलिया से वाहनों के गुजरने पर पाबंदी रहेगी। कंपनी ने आगाह किया कि यदि मरम्मत कार्य के दौरान कोई भी दुपहिया वाहन चालक भी वहां नहीं गुजरे, अन्यथा उसे हानि हो सकती है।

READ NEWS : नेशनल हाईवे 8 पर टकराए पांच वाहन, टैंकर से तेल बिखरने पर मचा हड़कम्प, हाईवे पर लगा जाम,फिसलते रहे दुपहिया वाहन चालक

इनका कहना है
विशेषज्ञों से जांच में शहीद की पुलिया, जटवाड़ा में सुरक्षा संबंधी कमी सामने आई थी। उनकी राय के बाद मरम्मत कार्य शुरू करवाया गया है। इसमें करीब 15-20 दिन और लग सकते हैं। सुरक्षा की दृष्टि से यह जरूरी था। यातायात बाधित न हो। इसके लिए कंपनी ने कर्मचारी भी लगा रखे हैं।
वसुंधरा राव, मुख्य प्रबंधक, जयपुर-महुवा टोल-वे प्रा.लि. राजाधोक

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned