जयपुर ग्रामीण: विवाहिता का अपहरण कर सामुहिक बलात्कार किया

जयपुर ग्रामीण: विवाहिता का अपहरण कर सामुहिक बलात्कार किया

Satya Prakash | Updated: 04 Jun 2019, 09:11:26 PM (IST) Bassi, Jaipur, Rajasthan, India

-एक माह तक चितौडग़ढ़ में किराए के कमरे में रखा विवाहिता को
- अमरसर थाना क्षेत्र निवासी है पीडि़ता

 

 

शाहपुरा/अमरसर.
थानागाजी का गैंगरेप मामला अभी ठंडा भी कि शाहपुरा तहसील के अमरसर इलाके में भी सामुहिक बलात्कार की शर्मनाक घटना सामने आई है। अमरसर थाना क्षेत्र की निवासी एक विवाहिता का अपहरण कर जान से मारने की धमकी देकर करीब एक माह तक सामुहिक बलात्कार करने का मामला सामने आया है। आरोपितों ने विवाहिता के साथ चित्तौडग़ढ में किराए के कमरे में बलात्कार किया।

 

 

दरअसल विवाहिता करीब एक माह से घर से लापता थी। महिला ने शिकायत में तीन जनों पर आरोप लगाया है। बलात्कार के बाद आरोपित १ जून की रात को विवाहिता के साथ मारपीट कर गोविन्दगढ़ पुलिस थाना इलाके में पटक गए। जहां से अमरसर थाना पुलिस ने विवाहिता को दस्तयाब किया।

 

 

विवाहिता ने बलात्कार का आरोप लगाते हुए अपने बयान दर्ज कराए है। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपितों की तलाश शुरू कर दी है।पुलिस के मुताबिक विवाहिता २० अप्रेल से घर से लापता थी। परिजनों ने आसपास व रिश्तेदारी में तलाश करते हुए ११ मई को अमरसर पुलिस थाने में विवाहिता के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। काफी प्रयास के बाद भी विवाहिता का कहीं सुराग नहीं लगा था।

 

 

 

बलात्कार के बाद मारपीट कर पटक गए आरोपित


पुलिस के मुताबिक बलात्कार के बाद आरोपित 1 जून को विवाहिता के साथ मारपीट कर गोविन्दगढ़ पुलिस थाना इलाके में पटक गए। जहां से वह पुलिस चौकी खेजरोली पहुंची और पुलिस को मामले की जानकारी दी। महिला को चौकी के अधीन नांगल गांव के पास नदी में छोड़कर जाने की बात सामने आई है। इसके बाद सूचना पर अमरसर थाना पुलिस ने वहां से विवाहिता को दस्तयाब किया।

 

 


सवा महिने तक चित्तौडग़ढ़ में कमरे में रखा

 

विवाहिता का आरोप है कि 20 अप्रेल रात 10 बजे उसके पास की दो महिलाएं उसे बहला-फुसलाकर घर से रींगस ले गई। जहां से उसे चित्तौडग़ढ़ ले जाकर यहीं के निवासी तीन जनों ने एक कमरे में बंधक बना लिया और जान से मारने की धमकी देकर एक माह तक दुष्कर्म करते रहे। इसके बाद १ जून को रात 9 बजे आरोपित मारपीट उसे गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के नांगल गांव के पास नदी में छोड़कर फरार हो गए।

 

 


न्यायालय में हुए महिला के बयान


पुलिस थाना अमरसर की टीम ने 2 जून को विवाहिता को गोविंदगढ़ पुलिस थाने से दस्तयाब किया। 3 जून को न्यायालय में पेश किया, लेकिन पीडि़ता के बयान नहीं हो पाए। मंगलवार को पुलिस ने न्यायालय में पीडि़ता के बयान और मेडिकल बोर्ड से मेडिकल मुआयना कराया। इसके बाद पीडि़ता को परिजनों के सुपुर्द किया।


आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग, थाने में पहुंचे लोग

 


घटना की जानकारी पर गोविंदपुरा बासड़ी गांव के ग्रामीण मंगलवार को अमरसर पुलिस थाने में पहुंचे और घटना को लेकर विरोध जताते हुए आरोपितों को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग की। ग्रामीणों ने पुलिस थाने के मुख्य द्वार पर विरोध जाहिर किया। उन्होंने आरोपितों को पकड़कर सख्त कार्रवाई करने की मांग की। इस दौरान काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।


इनका कहना है--पीडि़ता के बयान करवाकर मेडिकल करवा दिया है। मामले को गंभीरता से लेकर जांच शुरू कर दी है। उक्त महिला के लापता की एक माह पहले परिजनों ने रिपोर्ट भी दर्ज करवाई थी। पीडि़ता ने बलात्कार का आरोप लगाया है। ---सुरेश रोलन, थाना प्रभारी, अमरसर।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned