कोरोना वायरस की स्क्रीनिंग में पूरी सतर्कता

कलक्ट्रेट सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति तथा कोटपा समिति की बैठक

Arun Sharma

February, 0602:55 PM

जयपुर। सीएमएचओ डॉ. नरोत्तम शर्मा ने जिला कलक्टर को अवगत करवाया कि कोरोना वायरस की गम्भीरता को देखते हुए जिले में पूरी सतर्कता से स्क्रीनिंग की जा रही है। चीन से आए यात्रियों में संदिग्धों को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है और इनके परिजनों की भी निगरानी रखी जा रही है।
कलक्टर ने तंबाकू मुक्त करने का प्लान मांगा
जिला कलक्टर डाॅ. जोगाराम ने कहा कि जयपुर जिले को तम्बाकू मुक्त बनाने के लिए सभी ब्लाॅक सीएमएचओ अपने-अपने क्षेत्रों की अंतिम कार्य योजना 15 फरवरी तक प्रस्तुत करें। उन्होंने कहा कि जिले को 31 मई तक तम्बाकू मुक्त बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए ब्लाॅक स्तर पर निगरानी की व्यवस्था अपनाई जाएगी। इसके लिए उपखण्ड अधिकारियों के निर्देशन में छोटे-छोटे दलों का गठन किया जाएगा जो सार्वजनिक स्थानों पर तम्बाकू उत्पादों के सेवन तथा तथा विभागीय कार्यालयों में सेवन एवं बिक्री की रोक सुनिश्चित करेंगे। बैठक में अवगत कराया गया कि पुलिस विभाग में सिगरेट एवं अन्य तम्बाकू उत्पाद अधिनियम (कोटपा) की अच्छी पालना की गई है। जिला कलक्टर ने कहा कि जिन विभागों ने तम्बाकू मुक्त परिसर के सम्बंध में अभी तक अपने कार्यालय परिसरों की रिपोर्ट भिजवाएं। बैठक में जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी डाॅ. भारती दीक्षित सहित विभिन्न चिकित्सा अधिकारी तथा स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे।

चिकित्सा सेवाएं बेहतर रखने के निर्देश
जिला कलक्टर डाॅ. जोगाराम ने बैठक में निर्देश दिए कि जिले के सभी ब्लाॅक सीएमएचओ अपने-अपने क्षेत्रों में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य केन्द्रों के सतत निरीक्षण करें ताकि जिले में स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सेवाओं के बेहतर डिलीवरी सुनिश्चित की जा सके। अब जयपुर शहरी क्षेत्र में स्थित स्वास्थ्य केंद्रों को भी चार क्षेत्रों में विभाजित करते हुए माॅनिटरिंग सिस्टम लागू किया जाएगा। डाॅ. जोगाराम बुधवार शाम कलक्ट्रेट सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति तथा कोटपा समिति की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। बैठक में उन्होंने पूर्व में निर्धारित इंडिकेटर्स के आधार पर जिले के सभी ब्लाॅक सीएमएचओ की रैंकिंग की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि आगामी रैंकिंग में ब्लाॅक सीएमएचओ द्वारा किए गए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के निरीक्षण को भी इंडीकेटर के रूप में शामिल किया जाएगा। जिला कलक्टर ने जमवारामगढ़ तथा चौमूं ब्लाॅक में स्त्री रोग विषेषज्ञों की लगातार अनुपस्थिति की शिकायत पर सीएमएचओ-प्रथम डाॅ. नरोत्तम शर्मा को निर्देश दिए कि जिले में कहीं भी लम्बे समय से अनुपस्थित चल रहे चिकित्सकों के विरुद्ध कार्यवाही करें और सेवा नियमों के तहत चार्जषीट प्रस्तावित करें।

Arun sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned