ट्रांसफार्मर का अभाव: बिजली नहीं मिलने से फसल में सिंचाई नहीं हो पा रही, किसानों को सता रहा फसल सूखने का डर

vinod Sharma

Publish: Jan, 13 2018 06:24:51 (IST)

Kotputli, Jaipur, Rajasthan, India
ट्रांसफार्मर का अभाव: बिजली नहीं मिलने से फसल में सिंचाई नहीं हो पा रही, किसानों को सता रहा फसल सूखने का डर

जले ट्रांसफार्मर बदलने के लिए किसान निगम में चक्कर काट रहे हैं...

कोटपूतली (जयपुर)। विधुत वितरण निगम में इन दिनों ट्रांसफार्मरों की किल्लत के चलते किसानों को परेशानी से जूझना पड़ रहा है। ट्रांसफार्मर के अभाव में बिजली नहीं मिलने से फसल में सिंचाई नहीं हो पा रही। इससे किसानों को फसल सूखने का डर सताने लगा है।

यह भी पढ़े: नेशनल हाईवे के बीच में कार रोककर गाने बजाना और केक काटकर सेल्फी लेना युवकों को पड़ा महंगा, पुलिस ने हिरासत में लिया
http://bit.ly/2meTaI5

जानकारी अनुसार केन्द्रीय भंडार से गत दो माह से पर्याप्त संख्या में ट्रांसफार्मर नहीं मिल रहे। सिंचाई का सीजन होने के कारण विधुत खपत बढ़ जाने से ट्रांसफार्मर जलने की शिकायतें इन दिनों बढ़ जाती हैं। करवास में कृषि कनेक्शन के लिए 10केवी का ट्रांसफार्मर जले करीब दो माह हो गए, लेकिन अभी तक ट्रांसफार्मर नहीं मिला।

यह भी पढ़े: अब वाहनों की प्रदूषण जांच के लिए नहीं खाने पड़ेंगे धक्के, वाहन डीलरों के यहां शुरू होंगे प्रदूषण जांच केन्द्र

चतुर्भुज, बनेठी, गोपीपुरा व सरुंड ग्राम में भी करीब डेढ़ माह पहले जले हुए आधा दर्जन ट्रांसफार्मर अभी तक नहीं बदले गए हैं। जयसिंहपुरा, पनियाला, सांगटेडा, खेडकी मुक्कड, गोनेडा, खरकडी, बडाबास, शुक्लावास, फतेहपुरा व पूरण नगर में भी जले ट्रांसफार्मर बदलने के लिए किसान तीन-तीन सप्ताह से निगम में चक्कर काट रहे हैं।

यह भी पढे: विधुत निगम में करे कोई भरे कोई...मीटर कहां लगाया पता नहीं, कनेक्शन काटने का डर दिखाकर दूसरे उपभोक्ता से भरवा रहे बिल

बिजली निगम ग्रामीण क्षेत्रों के ट्रांसफार्मरों जलने के बाद किसानों को जल्द ट्रांसफार्मर उपलब्ध नहीं करा रहा है। ऐसे में किसानों के सामने फसल की सिंचाई का संकट खड़ा हो गया है। ऐसे में किसानों को विधुत निगम के चक्कर लगाने पड़ रहे है।

यह भी पढ़े: बस्सी के चारणवास स्कूल भवन के लिए लाखों खर्च, फिर भी शिक्षक विधार्थियों को पेड़ के नीचे पढ़ा रहे

इनका कहना है
केन्द्रीय भंडार से थ्री फेज ट्रांसफार्मर की आपूर्ति नियमित नहीं मिल रही। उच्चाधिकारियों को लगातार डिमांड भेजी जा रही है। फिलहाल अलग-अलग क्षमता के करीब दो दर्जन ट्रांसफार्मर बदले जाने हैं लेकिन स्टोर में उपलब्ध नहीं है।
जीएस यादव एईएन, विधुत निगम कोटपूतली

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned