ओलावृष्टि से 700 हैक्टेयर में सब्जियां चौपट, सांसद ने मुख्यमंत्री से की बात

राठौड़ व पूर्व विधायक ने खराब हुई फसलों का जायजा लिया

By: Surendra

Published: 05 May 2020, 10:05 PM IST

शाहपुरा/मैड़. लॉक डाउन से भाव नहीं मिलने से परेशान किसानों के सपनों पर ओलावृष्टि ने पानी फेर दिया। विराटनगर विधानसभा क्षेत्र में कई जगह सब्जी की फसलें चौपट हो गई। मंगलवार को सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़, पूर्व विधायक डॉ. फूलचंद भिण्डा, विराटनगर विधानसभा प्रभारी विक्रम सिंह चौधरी ने शाहपुरा क्षेत्र के ग्राम देवन होते हुए जवानपुरा, खातोलाई, चतरपुरा, धोली कोठी, बीलवाड़ी, मैड़, पूरावाला में खराब हुई फसलों का जायजा लिया। सांसद व पूर्व विधायक ने कहा कि प्रदेश सरकार शीघ्र गिरदावरी कर किसानों को मुआवजा देने की कार्रवाई करें।

टीम ने किया सर्वे

विराटनगर एसडीएम राजवीर सिंह यादव ने कृषि विभाग की टीम के साथ जायजा लिया। मैड़ सहायक कृषि अधिकारी अशोक कुमार चौधरी की टीम ने कूण्डला क्षेत्र में सर्वे कर नुकसान का आंकलन किया और रिपोर्ट तैयार की। सहायक कृषि अधिकारी अशोक कुमार चौधरी ने बताया कि मैड़ कूण्डला क्षेत्र में 1100 हैक्टेयर क्षेत्र में किसानों ने सब्जी की फसल बोई है। जिसमें 50 प्रतिशत टिण्डा व 50 प्रतिशत अन्य सब्जी मिर्च, टमाटर, बैंगन, तुरई बोई है। ओलावृष्टि से 700 हैक्टेयर क्षेत्र में सब्जी की फसल को नुकसान हुआ है। क्षेत्र में भारी ओलावृष्टि से मैड़, बड़ोदिया, बामनावास, पालड़ी, भामोद, पुरावाला, जौधुला, छींड क्षेत्र में अधिक नुकसान हुआ है। ओलावृष्टि से नुकसान हुई फसलों की रिपोर्ट तैयार कर उच्च अधिकारियों को भेज दी गई है।सर्वे के दौरान किसान फूलचंद यादव, उपसरपंच भोलाराम मीणा, अर्जुन लाल सैनी, हजारी लाल गुर्जर, मैड़ जीएसएस अध्यक्ष शिवदान फागणा, बजरंग सिंह शेखावत ने मुआवजे की मांग की। सर्वे के दौरान कृषि विभाग की टीम में मैड़ सहायक कृषि अधिकारी अशोक कुमार चौधरी, पर्यवेक्षक हनुमान प्रसाद यादव, ओम भारती सिसोदिया, राकेश गुर्जर, महेन्द्र कुमार गुर्जर मौजूद रहे।

बारिश के साथ ओलावृष्टि से सब्जियों को नुकसान

चंदवाजी/ अचरोल/ जैतपुर खींची. कस्बे सहित क्षेत्र के चिताणु, सुंदरपुरा, बीलपुर, सिरोही, रूण्डल, निम्स यूनिवर्सिटी, पीलवा, ताला मोड़, लखेर में मंगलवार दोपहर को बारिश के साथ ओलावृष्टि हुई। ओलावृष्टि से धरती पर मक्का व बेर के आकार के ओलों की सफेद चादर बिछ गई। ओलावृष्टि से टमाटर तथा मिर्ची की फसल को काफी नुकसान पहुंचा है। बारिश के बाद लोगों को गर्मी से राहत मिली। ओलावृष्टि से कई पक्षियों की भी मौत हुई है। आमेर के अचरोल,लबाना, गुणावता,तालामोड सहित कई इलाकों में बारिश के साथ ओले गिरे। लबाना में 30 मिनट तक ओले गिरे।

लिया जायजा

कोटपूतली. जयपुर ग्रामीण सांसद कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ ने जमवारामगढ़, शाहपुरा, विराटनगर एवं बानसूर में पिछले दो दिनों में हुई ओलावृष्टि से फसल खराबे का जायजा लिया। मृतक के परिजनों से मिलकर उन्हें ढांढस बधाया। फसल खराबे को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से बात की और शीघ्र गिरदावरी करवाकर मुआवजे दने की मांग की।कर्नल राज्यवर्धन ने बानसूर में चिकित्सकों के लिए पीपीई किट एवं मास्क उपलब्ध करवाए। तूफान से क्षतिग्रस्त गौशाला का दौरा कर इसे ठीक करवाने के निर्देश दिए है। तेज तूफान के कारण गौशाला को भारी नुकसान हुआ था। जमवारामगढ़ विधानसभा क्षेत्र एसडीएम सभागार में एसडीएम विश्वामित्र मीणा की मौजूदगी में बैठक लेकर गर्मी में आमजन के लिए पेयजल की माकूल व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

Surendra
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned