ओवरलोड पकडने के लिए नई तकनीक, खनन माफियाओं ने उसका भी निकाला तोड़

खान व परिवहन विभाग ने पकड़ा ओवरलोड डम्पर, ई रवन्ना में अण्डरलोड, डंपर निकला ओवरलोड

 

कोटपूतली. खान विभाग व परिवहन विभाग ने मंगलवार को खनन सामग्री से भरे ओवरलोड वाहन के खिलाफ कार्रवाई करते हुए चालान किया। ट्रक में ई-रवन्ना से अधिक वजन पाया गया। इससे वजन में गड़बड़ी कर फर्जी ई-वे बिल तैयार किया गया है। राजमार्ग पर खड़े डम्पर में क्षमता से अधिक इमारती पत्थर होने की सूचना पर खान विभाग की टीम मौके पर पहुंची तो डम्पर चालक मौके से फरार हो गया। विभाग की टीम शाम तक इंतजार करती रही। मौके पर परिवहन विभाग की टीम पहुंच गई थी। शाम तक चालक के नहीं आने पर इसके रजिस्टे्रशन नम्बर के आधार पर विभाग की ओर से कार्रवाई की गई। इससे पहले भी वजन में गड़बड़ी कर ट्रक में ओवरलोड खनन सामग्री भरने पर दो वाहनों को ब्लैक लिस्ट करने की कार्रवाई की गई थी।

वजन में करते हैं गड़बड़ी

अवैध खनन और ओवरलोड की समस्या के निदान के लिए खनन विभाग ने एक जनवरी से ई-रवन्ना को परिवहन विभाग की वेबसाइट से जोड़कर खान व परिवहन विभाग के सॉफ्टवेयर आपस में लिंक कराए थे। इस बदलाव से खान व ट्रक मालिकों के वाहन में क्षमता से ज्यादा खनन सामग्री भरते ही परिवहन विभाग को अपनी वेबसाइट पर ओवरलोडिंग की जानकारी मिलने पर परिवहन विभाग की आेर से ऑनलाइन ओवरलोड चालान किए गए। इससे अवैध खनन व ओवरलोड पर अंकुश लगा है, लेकिन खान माफियाओं ने इसका भी तोड़ निकाल निकाल लिया है और खान विभाग की ओर से अधिकृत तौल यंत्रों पर मिलीभगत पर ट्रकों में अण्डरलोड वजन दर्शाकर कर इसी अनुसार ई रवन्ना तैयार करवा रहे हैं। इसके चलते परिवहन विभाग की वेबसाइट पर भी पकड़ में नहीं आ रहे हैं, जबकि इनमें क्षमता से अधिक माल भरा होता है। कस्बे के कई ट्रासंपोर्टस ने बताया कि दूसरे क्षेत्रों से आने वाले ट्रक मालिक इस तरह की गड़बड़ी कर रहे हैं। इससे अण्डरलोड चलने वाले वाहन मालिकों को परेशानी होती है।

इमारती पत्थर का होता है खनन

यह क्षेत्र लंबे समय से अवैध खनन की समस्या से जूझ रहा है। यहां के अलावा इससे जुड़े पाटण क्षेत्र में इमारती पत्थर का अवैध खनन होता है। इस पत्थर से तैयार रोड़ी के सैकड़ों ट्रक दिल्ली व हरियाणा में भेजे जाते हैं। परिवहन व खान विभाग के सॉफ्टवेयर लिंक होने से ओवरलोड में कमी आई है। अब राजमार्ग पर पहले की तरह ओवरलोड वाहन दौड़ते नजर नहीं आ रहे हैं।वजन में गड़बड़ी करने वाले तौल यत्रों व क्षमता से अधिक माल खनन सामग्री भरने वाले ट्रकों को चिन्हित कर इनको ब्लैकलिस्टेड किया जाएगा। पूर्व में दो ट्रकों में क्षमता से अधिक खनन सामग्री मिलने पर तौल यंत्रों की अनुमति रद्द करने व खान मालिकों को रवन्ना जारी नहीं करने के लिए खान निदेशालय से अनुशंसा की गई है।संजय शर्मा, सहायक खनिज अभियंता, कोटपूतली फोटो केपीसीबी कोटपूतली में राजमार्ग पर खड़ा खनन सामग्री से भरा ओवरलोड वाहन।

Surendra Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned