आजादी के 70 साल बाद भी इन गांवों में रोडवेज बस सेवा नहीं

युवा विद्यार्थियों की पढ़ाई पर पड़ रहा असर, आजादी के 70 साल बाद भी निजी वाहनों से यात्रा करते लोग

By: Gourishankar Jodha

Published: 22 Oct 2020, 07:35 PM IST

गोहन्दी। आजादी के 70 साल बाद भी ग्राम पंचायत गोहन्दी, लदाना, अमरपुरा, जाबड, हीरापुरा, रायथल, गुलाबपुरा, ग्राम बस सेवा से वंचित है।
ग्रामीणों ने बताया कि आजादी मिलने के बाद कई सरकारे आई और चली गई, लेकिन आज तक किसी ने भी विधायक सांसद सहित जनप्रतिनिधियों ने ग्रामीणों की इस गंभीर समस्या का समाधान और निराकरण आज तक नहीं किया है।

इन गांवों में नहीं पहुंचती बसें
गांव में बस सेवा निकलने से बालिकाओं व कुछ युवा उच्च शिक्षा ग्रहण करने के लिए वंचित रहे रहे हैं, निजी साधनों वाले ही आगे पढ़ाई के लिए जयपुर में अन्य शहरों में जा सकते हैं। ग्राम गोहन्दी, लदाना, अमरपुरा, जाबड़, हीरापुरा, रायथल, किरतपुरा, गुलाबपुरा के लोगों को 4 से 10 किलोमीटर दूर पैदल चलकर रेनवाल माजी या हरसुलिया मोड़ पर जाकर बस का सहारा लेना पड़ता है।

सभी गांव डामरीकरण सड़क से जुड़े
गांव में डॉक्टर पटवारी सरकारी अध्यापक होने के बाद भी बस सेवा नहीं गोहन्दी, लदाना, अमरपुरा, जाबड़, हीरापुरा, रायथल, किरतपुरा, गुलाबपुरा में पटवारी डॉक्टर अध्यापक आदी होने के बाद भी गांव सेवा से जुड़ नहीं सकता सभी गांव डामरीकरण सड़क से जुड़े हुए हैं। इस बारे में ग्रामीणों कहीं बार ज्ञापन देने के बाद भी समस्या जस की तस बनी हुई है

Show More
Gourishankar Jodha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned