Video: ठंड ने मादा पैंथर की लील ली जान, तीन दिन में दूसरी मौत

-5 साल आयु की थी मादा पैंथर
-सर्दी से निमोनिया फिर फेफडों में फैला संक्रमण

By: Kailash

Published: 06 Jan 2020, 06:18 PM IST

Bassi, Jaipur, Rajasthan, India

शाहपुरा.
हाड़ कंपाने वाली सर्दी के कहर से आमजन के साथ पशु-पक्षी और वन्य जीव भी बेहाल है। सर्दी के कारण दो दिन पहले बुचारा पहाड़ी में एक पैंथर मृत मिला था। वहीं विराटनगर में एक पैंथर की ठंड से मौत हो गई है।

सोमवार को विराटनगर रेंज में एसडीएम राजवीर सिंह, रेंजर कैलाश गुर्जर व मनोज मीणा की मौजूदगी में पशु चिकित्सकों ने पैंथर का पोस्टमार्टम किया। चिकित्सकों ने बताया कि पैंथर के सर्दी की वजह से निमोनिया होना पाया गया है। जिससे फेफडों में संक्रमण फेल गया। जिसकी वजह से वह शिकार भी नहीं कर पाया है।

पैंथर की आंत और आमाशय खाली पाया गया है। पैंथर की आयु पांच साल है। इससे पहले बुचारा पहाड़ी में भी ठंड से एक पैंथर की तीन दिन पहले मौत हो गई थी।
विराटनगर रेंजर गुर्जर ने बताया कि ग्राम तालवा की पायलों की ढाणी के समीप वन क्षेत्र की पहाड़ी पर पशु चरा रहे लोगों ने वन चौकी कर्मियों को एक पैंथर के पड़े होने की सूचना दी। जिस पर मौके पर पहुंचे वन अधिकारियों ने घटनास्थल का मौका मुआयना किया और मौजूद लोगों से पूछताछ की।

 

वनकर्मियों ने पैंथर को कब्जे में लेकर वन रेंज कार्यालय विराटनगर में ले आए। सूचना पर विराटनगर एसडीएम राजवीर सिंह, तहसीलदार और थाना प्रभारी भी मौके पर पहुंच गए। उनकी मौजूगी में पशु चिकित्सक एवं नोडल प्रभारी डॉ. बनवारीलाल यादव के नेतृत्व में डॉ. महावीर स्वामी मैड़, डॉ. कैलाश डागर आंतेला ने मृत पैंथर का पोस्टमार्टम किया।

 

ठंड से 9 मोर भी बने काल ग्रास
शाहपुरा रेंज कार्यालय के अधीन देवीपुरा मोड़ के पास करीब पांच दिन पहले 9 मोर भी ठंड के चलते काल का ग्रास बन गए थे। फोरेस्टर नंदलाल शर्मा ने बताया कि सभी मोरों का पोस्टमार्टम करवाया गया था। जिनकी संभवतया ठंड से मौत होना माना गया है। हालांकि अभी पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं आई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned