Corona call school-निजी स्कूलों में मचा हड़कम्प

कोरोना काल में विद्यालय संचालित करने तथा बिना मान्यता के स्कूल चलाने की मिली थी शिकायतें, नियम तोडऩे वाले लाइब्रेरी और कोचिंग संस्थानों पर भी होगी कार्रवाई

By: Gourishankar Jodha

Published: 14 Sep 2020, 11:43 PM IST

आमेर(अचरोल)। आमेर उपखण्ड के अचरोल क्षेत्र में पिछले कई दिनों से कोरोना काल में निजी स्कूलों द्वारा कक्षाएं संचालित करने तथा बिना मान्यता के विद्यालय चलाने की लगातार शिकायत मिलने पर शिक्षा विभाग ने सोमवार को क्षेत्र में निजी स्कूलों पर छापेमारी की।
शाला प्रभारी लल्लूराम बुनकर ने बताया कि कई दिन से इस तरह की शिकायत मिलने के बाद राजकीय उच्च माध्यमिक अचरोल पीईईओ ने एक टीम गठित कर अचरोल में निजी स्कूलों की जांच की। बुनकर ने बताया कि जांच में कई विद्यालयों में अनियमितता पाई गई।

बिना मान्यता के स्कूल संचालन करने पर कार्रवाई
इस दौरान कई विद्यालयों की मान्यता भी नहीं पाई गई, जिसकी रिपोर्ट उच्चधिकारियों को भेजी गई है। बिना मान्यता के स्कूल संचालन करने पर विभाग ने इन विद्यालयों पर कार्यवाही करने की बात कही है। वही सभी निजी स्कूल संचालकों को कोविड-19 में विद्यालयों में बच्चों को बुलाना सरकारी आदेशों की खुली अवेहलना है। साथ ही बच्चों के जीवन को खतरे में डालना है।

नहीं तो होगी कड़ी कार्रवाई
अगर किसी विद्यालय में बिना राज्य सरकार के आदेश के कोई भी शिक्षक और अन्य गतिविधियां संचालित पाई गई तो सरकार की ओर से कड़ी कानूनी कार्यवाही की जाएगी। इसके लिए सभी संचालकों को निर्देश दिए गए। शाला प्रभारी लल्लूराम बुनकर ने बताया कि क्षेत्र में अवैध रूप से और राज्य सरकार के आदेशों की अवेहलना करने वाले कोचिंग संस्थानों तथा लाइब्रेरी सहित अन्य शैक्षिक गतिविधियों को संचालित करने वालो की भी शिकायते मिली है। बहुत जल्द इन पर भी कार्यवाही की जाएगी। जांच दल में वीरेंद्र सिंह, योगेश ड्डचानिया, कैलाश मीणा, गजानन्द शर्मा शामिल थे।

Gourishankar Jodha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned