कहीं रेम्प तो कहीं खिड़की -दरवाजे टूटे मिले.....रिटर्निंग अधिकारी ने पोलिंग बूथों का लिया जायजा

कहीं रेम्प तो कहीं खिड़की -दरवाजे टूटे मिले.....रिटर्निंग अधिकारी ने पोलिंग बूथों का लिया जायजा

Satya Prakash | Publish: Oct, 13 2018 09:11:25 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 09:11:26 PM (IST) Bassi, Jaipur, Rajasthan, India

-बीएलओ व ग्राम विकास अधिकारी को दुरुस्त कराने के दिए निर्देश

 

 

शाहपुरा। विधानसभा चुनावों को लेकर रिटर्निंग अधिकारी एवं एसडीएम शाहपुरा की ओर से प्रतिदिन विधानसभा क्षेत्र के पोलिंग बूथों का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया जा रहा है। रिटर्निंग अधिकारी राजेन्द्र सिंह चांदावत ने शनिवार को विधानसभा क्षेत्र के 30 पोलिंग बूथों का निरीक्षण कर मूलभूत सुविधाएं देखी। निरीक्षण के दौरान कहीं रेम्प क्षतिग्रस्त थी, तो कहीं पोलिंग बूथ के खिड़की व दरवाजे टूटे मिले। कुछ बूथों पर रेम्प नहीं मिली। इस पर रिटर्निंग अधिकारी ने संबंधित बीएलओ और ग्राम विकास अधिकारी को शीघ्र व्यवस्थाएं दुरुस्त करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी पोलिंग बूथों पर बिजली, पेयजल, छाया, रेम्प आदि मूलभूत सुविधाएं होना जरूरी है।

 


मूलभू सुविधाओं का लिया जायजा


सहायक रिटर्निंग अधिकारी व तहसीलदार सूर्यकान्त शर्मा ने बताया कि पोलिंग बूथों पर बिजली, पेयजल, चारदीवारी, टॉयलेट, छाया, रेम्प आदि मूलभूत सुविधाओं का जायजा लिया जा रहा है। जहां समुचित व्यवस्थाएं नहीं मिली, वहां सुविधाएं उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए। इस दौरान चुनाव शाखा के बाबूलाल मीणा भी उनके साथ थे। दोनों अधिकारियों ने शाम तक इलाके में 30 बूथों का जायजा लिया।


इन गांवों के पोलिंग बूथों का किया निरीक्षण

 

दोनों अधिकारियों ने विधानसभा क्षेत्र के ग्राम तिगरिया, नांगल भरड़ा, नांगल कोजू, हाथनोदा, बरवाड़ा, कुम्भपुरिया, अमरपुरा, कंवरपुरा, बिसनपुरा उर्फ चारणवास समेत करीब 30 पोलिंग बूथों की स्थिति का जायजा लिया।

 

 

 

चुनाव में घनी आबादी में आम सभा की अनुमति नहीं दी जाए

 

 

शाहपुरा कस्बे की घनी आबादी में राजनीतिक आम सभाओं की अनुमति नहीं देने की मांग को लेकर आरटीआई कार्यकर्ता विजय ताम्बी ने मुख्य निर्वाचन आयुक्त को ज्ञापन भेजा है। ज्ञापन में आरटीआई कार्यकर्ता ताम्बी ने बताया कि घनी आबादी क्षेत्र में राजनीतिक आम सभाओं से व्यापारिक नुकसान व यातायात व्यवस्था प्रभावित होती है। ऐसे में आम सभाओं के लिए अन्यत्र जगह निर्धारित करने की मांग की है।
उन्होंने बताया कि कस्बे में पुराना बस स्टैण्ड, बिजली ग्रिड के पास, पीपली तिराहा सबसे व्यस्ततम और प्रमुख व्यापारिक स्थल है। यहां भारी संख्या में वाहनों का भी आना जाना रहता है। इस क्षेत्र से स्टेट हाईवे सीकर, जयपुर व दिल्ली की ओर निकलता है। आवागमन का दबाव रहता है।

 

 

पुलिस उपाधीक्षक और थाना प्रभारी को भी ज्ञापन

 

 

उक्त स्थल के लिए राजनीतिक पार्टियों की आम सभाओं व अन्य आयोजनों के लिए उपखण्ड प्रशासन की ओर से अनुमति दी जाती है। आम सभाओं में काफी तादाद में भीड़ एवं तमाशबीन एकत्र हो जाते है। इससे व्यापार प्रभावित रहता है और यातायात व्यवस्था चौपट हो जाती है। उन्होंने आम सभाओं के लिए अन्यत्र जगह निर्धारित कराने की मांग की है। मुख्य निर्वाचन आयुक्त के अलावा जिला कलक्टर, उपखण्ड अधिकारी, पुलिस अधीक्षक, शाहपुरा पुलिस उपाधीक्षक और थाना प्रभारी को भी ज्ञापन दिया है।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned