योजनाओं को पात्र व्यक्ति तक पहुंचाना शिविर का मुख्य उद्देश्य

-राजस्थान उच्च न्यायालय के न्यायाधिपति ने किया संबोधित
-शाहपुरा में विधिक सेवा शिविर आयोजित

By: Kailash Chand Barala

Published: 07 Jul 2019, 07:50 PM IST

शाहपुरा.
राजस्थान उच्च न्यायालय के न्यायाधिपति वीएस सिराधना ने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार ने अनेक जनकल्याणकारी योजनाएं संचालित कर रखी है, लेकिन अशिक्षा, जागरुकता एवं अज्ञानता के कारण जरूरतमंद व्यक्ति योजनाओं का लाभ नहीं उठा पाते है। ऐसी जनकल्याणकारी योजनाओं को पात्र व्यक्ति तक पहुंचाना ही प्राधिकरण एवं शिविर का मुख्य उद्देश्य है। उन्होंने शाहपुरा के श्रीकल्याणसिंह राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय परिसर में रविवार को राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में आयोजित विधिक सेवा शिविर में संबोधित किया। मुख्य अतिथि न्यायाधिपति सिराधना ने कहा कि अपने बच्चों को गुणवत्ता युक्त एवं अच्छी शिक्षा दिलाए। साथ ही स्वयं जागरूक होकर योजनाओं से लाभ लेना चाहिए। साथ ही अपने पड़ोसियों को भी योजनाओं के प्रति जागरूक करना है। अध्यक्षता करते हुए जिला एवं सत्र न्यायाधीश मदन गोपाल व्यास ने कहा कि न्याय सबके लिए समान है और सबको समान अवसर प्रदान करता है। इसी उद्देश्य से राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में शिविरों का आयोजन कर जरूरतमंद को योजनाओं से लाभ दिलाना और जागरूक करना है। विशिष्ठ अतिथि शाहपुरा एडीजे अश्विनी कुमार यादव, कोटपूतली एडीएम राजवीर सिंह व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भरतलाल मीणा ने कहा कि जरूरत वंचित व्यक्ति को सहायता प्रदान करने में सरकारी अधिकारियों को ही नहीं, बल्कि सामाजिक सेवा में रत सामाजिक कार्यकर्ताओं एवं वकीलों को भी आगे आना चाहिए। शिक्षक कमलकांत शर्मा ने सरकार की संचालित योजनाओं की जानकारी दी। प्रधानाचार्य जगदीश प्रसाद यादव ने अतिथियों को पुष्प गुच्छ भेंट कर स्वागत किया। मंच संचालन करते हुए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव एवं अपर जिला एवं सैशन न्यायाधीश सत्यप्रकाश सोनी ने जरूरतमंद एवं पात्र व्यक्ति तक न्याय एवं योजना पहुंचाने के लिए किए जा रहे प्रयासों के बारे में जानकारी दी। शिविर में शाहपुरा एसडीएम नरेन्द्र कुमार मीणा, डीएसपी राजेश मलिक, विकास अधिकारी सत्यनारायण सैनी, शाहपुरा बार एसोसिएशन के अध्यक्ष पवन व्यास, पूर्व अध्यक्ष सतीश शर्मा, बाबूलाल यादव, एडवोकेट जितेन्द्र चौधरी, भैंरूराम जाट सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे। (का.सं.)

 

मिली ट्राई साइकिल, खिले चेहरे

शिविर में दिव्यांगों को ट्राई साइकिल वितरित की गई। जिससे उनके चेहरे खिल उठे। उपखंड क्षेत्र की विभिन्न पंचायतों से पहुंचे दिव्यांगों को अतिथियों ने ट्राई साइकिल बांटी। इसके अलावा पोप योजना के तहत राजकुमार असवाल को 10 हजार का अनुदान स्वीकृति आदेश, अनेक लोगों को पेंशन ऑर्डर, नि:शुल्क बीज वितरण, श्रमिक कार्ड, पंचायतों की ओर से जारी पट्टे सहित कई प्रकार की योजनाओं की स्वीकृति आदेश मौके पर लाभार्थियों को सौंपे गए।

 

बाल आश्रम के कलाकारों ने नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत किया

नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी के बाल आश्रम के नन्हें कलाकारों ने बाल श्रम से होने वाले बालकों पर कुप्रभाव के बारे में नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत किया। नाटक का मंचन करते हुए उन्होंने बच्चों के हक और अधिकार की जानकारी दी। एनसीसी स्काउट गाइड के बालकों ने सलामी दी। जिसका अतिथियों ने सराहना की। विधिक सेवा प्राधिकरण का थीम गाना एक मु_ी आसमान पर हमारा भी हक है का चलचित्र द्वारा प्रदर्शन किया।

 

पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण का दिया संदेश

शिविर के बाद न्यायाधिपति सिराधना समेत अन्य अतिथियों ने विद्यालय परिसर में पौधारोपण भ भी किया। उन्होंने लगाए पौधों की सार-संभाल करने और अधिक से अधिक पौधे लगाने का आह्वान किया। ताकि पर्यावरण का संतुलन अच्छा हो सके। वहीं एनसीसी, स्काउट गाइड के विद्यार्थियों ने कस्बे के मुख्य मार्गों से विधि चेतना शिविर एवं प्राधिकरण के नारों की तख्ती लेकर रैली निकाली।

Kailash Chand Barala Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned