scriptUkraine-Russia war, Indian students plead for help | यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्र बोले, युद्ध के बाद बढ़ी महंगाई और एटीएम हुए खाली, पैसे भी नहीं निकाल पा रहे | Patrika News

यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्र बोले, युद्ध के बाद बढ़ी महंगाई और एटीएम हुए खाली, पैसे भी नहीं निकाल पा रहे


सरकार से मदद की गुहार


कीव में धमाकों के बाद मची अफरातफरी, जान बचाने के लिए भाग रहे लोग

 

यूक्रेन में फंसे अमरसरवाटी शाहपुरा, चौमूं व श्रीमाधोपुर इलाके के छात्रों को स्वदेश वापसी की सता रही चिंता

बस्सी

Published: February 26, 2022 11:21:36 pm


शाहपुरा (जयपुर)।

रूस की ओर से किए गए आक्रमण के बाद यूक्रेन में जान बचाने के लिए अफरातफरी सी मची हुई है। मेडिकल की पढ़ाई करने गए भारतीय छात्र भय की स्थिति में है। जयपुर जिले के अमरसरवाटी शाहपुरा, कोटपूतली, रामुपरा डाबड़ी, श्रीमाधोपुर सहित प्रदेश के कई जिलों से मेडिकल की पढ़ाई करने गए विद्यार्थी यूक्रेन के विभिन्न विश्वविद्यालयों में फंसे हुए हैं। कोटपूतली के छात्र बंकरों में छिपकर जान बचा रहे हैं और उजगोरोद विश्वविद्यालय में पढ़ाई करने गए अमरसरवाटी शाहपुरा के राडावास, जगतपुरा और चौमूं के रामपुरा डाबड़ी व श्रीमाधोपुर निवासी मेडिकल छात्र भी फंसे हुए हैं। जिससे उनके परिजन चिंता में है।
यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्र बोले, युद्ध के बाद बढ़ी महंगाई और एटीएम हुए खाली, पैसे भी नहीं निकाल पा रहे
यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्र बोले, युद्ध के बाद बढ़ी महंगाई और एटीएम हुए खाली, पैसे भी नहीं निकाल पा रहे
शाहपुरा के राडावास निवासी एमबीबीएस फाइनल ईयर के छात्र बलवीर सिंह शेखावत व तेजपुरा निवासी पवन चाहर ने फोन पर बताया कि वे कीव से दूर उजगोरोद विवि में है। एक दिन पहले तक यहां सबकुछ ठीक था, लेकिन कीव में शुक्रवार को हुए धमाकों के बाद यहां भी अफरा तफरी सी मच गई है।
हालात इतने भयावह है कि रूस की ओर से कीव में किए गए धमाकों के बाद 800 किलोमीटर दूर यूक्रेन के वेस्टर्न हिस्से उजगोरोद तक अफरातफरी मच गई है। कीव से लोग अपनी जान बचाने के लिए अब उजगोरोद सहित बाहरी इलाकों की तरफ भाग रहे हैं। आवागमन बंद करने से वहां फंसे भारतीय छात्र स्वदेश भी नहीं लौट पा रहे हैं।

छात्रों ने बताया कि युद्ध के चलते लोगों ने सामान का स्टॉक कर लिया और बाहर से सामान आ नहीं रहा, जिससे मॉल्स में राइस सहित खाने, पीने का सामान लगभग समाप्त हो गया है, जिससे भोजन का भी संकट पैदा हो गया है। रोजमर्रा की सभी चीजें महंगी हो गई है। युद्ध के चलते विश्वविद्यालय प्रशासन ने भी 13 मार्च तक के लिए कक्षाएं बंद कर छुटटी कर दी। दो दिन से उनको बाहर नहीं जाने दिया जा रहा। इसलिए कमरे ही बंद रहना पड़ रहा है ।

एटीएम में पैसे खत्म, छात्रों के सामने पैसे का भी संकट

युक्रेन में फंसे राडावास शाहपुरा निवासी मेडिकल छात्र बलवीर सिंह शेखावत ने बताया कि हमले के बाद से बैंकों में पैसे निकालने वालों की कतारें लगी हुई है और एटीएम में पैसे खत्म हो गए। ऐसे में अब यहां फंसे छात्र पैसे तक नहीं निकाल पा रहे। जबकि खाने, पीने के सामान कई गुना महंगे होने से पैसे खत्म होते जा रहे हैं। ऐसे में अब पैसे का भी संकट पैदा हो गया है।अब उनको सुरक्षित स्वदेश वापसी की चिंता सता रही है। छात्रों ने भारत सरकार से मदद की गुहार की है।
परिजनों की बढ़ी चिंता, सुरक्षित वापसी के लिए मंदिरों में लगा रहे धोक


मेडिकल की पढ़ाई करने विदेश गए अपने लाडलों के वहां फंसने से अब परिजनों की चिंता बढ़ती जा रही है। राडावास निवासी छात्र बलवीर सिंह के पिता फतेह सिंह शेखावत ने बताया कि युद्ध शुरू होने के बाद से सभी परिजन लगातार फोन पर संपर्क में है। हालांकि उजगोराद में अभी तक हालात इतने खराब नहीं है, लेकिन स्वदेश वापसी की चिंता सता रही है। छात्र के परिजन मंदिर में धोक लगाकर उसके सुरक्षित वापसी की प्रार्थना कर रहे हैं। यहीं हाल तेजपुरा निवासी मेडिकल छात्र पवन चाहरके परिजनों का है। पवन के पिता प्रहलाद ने बताया कि बेटे को लेकर हर पल परिवार के लोग बेचैन हो रहे हैं । बार-बार मोबाइल से संपर्क कर सुरक्षित रहने को कह रहे हैं।

छात्रों के 4 दिन में स्वदेश लौटने की उम्मीद


राडावास निवासी छात्र बलवीर सिंह शेखावत ने बताया कि यूक्रेन के उजगोराद विवि में भारत के बहुत से छात्र मेडिकल की पढ़ाई कर रहे हैं। जिनमें 30 से 40 छात्र जयपुर जिले के बताए जा रहे हैं। बलवीर व उसका साथी तेजपुरा निवासी पवन चाहर एक कमरे में रहते हैं। उनके पास पास ही दूसरे कमरे में रामपुरा डाबड़ी के छात्र धीरज कुमावत और श्रीमाधोपुर निवासी राकेश रहते हैं। चारों वहीं फंसे हुए है। बलवीर ने बताया कि अब तक विवि के 240 छात्र स्वदेश के लिए रवाना हो चुके। अब विवि प्रशासन का कहना है कि चार दिन में सभी भारतीय छात्रों की स्वदेश वापसी हो जाएगी।
कीव में धमाकों के बाद 800 किमी दूर तक मची भगदड़, रात को कफ्र्यू


छात्र बलवीर ने बताया कि कीव में कीव में हुए धमाकों के बाद 800 किलोमीटर दूर यूक्रेन के वेस्टर्न हिस्से उजगोरोद तक अफरातफरी व भगदड़ मच गई है। यहां दो दिन पहले तक सब सामान्य था, लेकिन शुक्रवार को कीव से लोग जान बचाने के लिए भागकर यहां बाहरी इलाकों की तरफ आने लगे हैं। जिससे दिन में सडक़ों पर ट्रेफिक बढ़ गया। शाम को ७ बजे बाद यहां कफ्र्यू लगा दिया गया। ताकि कोई बाहर नहीं जा सके।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट से मंदिर-मस्जिद के सबूतों का नया अध्याय, एक्सक्लूसिव रिपोर्ट सिर्फ पत्रिका के पास, जानें क्या है इन सर्वे रिपोर्ट में...दिल्ली हाई कोर्ट से AAP सरकार को झटका, डोर स्टेप राशन डिलीवरी योजना पर लगाई रोकसुप्रीम कोर्ट का फैसला: रोड रेज केस में Navjot Singh Sidhu को एक साल जेल की सजा, जानें कांग्रेस नेता ने क्या दी प्रतिक्रियाGST पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, जीएसटी काउंसिल की सिफारिश मानने के लिए बाध्य नहीं सरकारेंIPL 2022 RCB vs GT live Updates: गुजरात ने बेंगलुरु को दिया जीत के लिए 169 रनों का लक्ष्य6 साल की बच्ची बनी AIIMS की सबसे कम उम्र की ऑर्गन डोनर; 5 लोगों को दिया नया जीवनGyanvapi Masjid-Shringar Gauri Case: सुप्रीम कोर्ट में 20 मई और वाराणसी सिविल कोर्ट में 23 मई को होगी सुनवाईपंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ BJP में शामिल, दिल्ली में जेपी नड्डा ने दिलाई पार्टी की सदस्यता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.