scriptWater supply department caught water theft from rising line | जलदाय विभाग ने राइजिंग लाइन से की जा रही हजारों लीटर पानी की चोरी पकड़ी | Patrika News

जलदाय विभाग ने राइजिंग लाइन से की जा रही हजारों लीटर पानी की चोरी पकड़ी

जलदाय विभाग ने जांच की तो राइजिंग लाइन में मिले 13 अवैध कनेक्शन


राइजिंग लाइन में सेंधमारी करने वालों के खिलाफ पीएचईडी की कार्रवाई, 13 अवैध कनेक्शन काटे

 

जारी रहेगा अभियान, कानूनी कार्रवाई भी होगी

बस्सी

Published: April 22, 2022 10:28:58 pm

भीषण गर्मी में पेयजल समस्या से जूझ रहे उपभोक्ता, अवैध कनेक्शनधारियों की मौज

शाहपुरा (जयपुर)। भीषण गर्मी में कई जगह पेयजल उपभोक्ता पानी को तरस रहे हैं, जबकि अवैध कनेक्शनधारी मौज ले रहे हैं। जलदाय विभाग ने राइजिंग लाइन से हजारों लीटर पानी की चोरी पकड़ी हैं। जलदाय विभाग की टीम ने शुक्रवार को शाहपुरा इलाके में राइजिंग लाइन की जांच की जो की तो लाइन में 13 जगह अवैध कनेक्शन मिले। इस पर टीम ने सख्ती बरतते हुए राइजिंग लाइन में सेंधमारी कर किए गए सभी 13 अवैध कनेक्शनों को काट दिया।
जलदाय विभाग ने राइजिंग लाइन से की जा रही हजारों लीटर पानी की चोरी पकड़ी
जलदाय विभाग ने राइजिंग लाइन से की जा रही हजारों लीटर पानी की चोरी पकड़ी
जलदाय विभाग के एक्सईएन विशाल सक्सैना के नेतृत्व में एईएन शिशुपाल सैनी व विभाग की टीम ने शाहपुरा इलाके में मिलन होटल से लेकर साबी नदी क्षेत्र तक जलदाय विभाग की राइजिंग लाइन की जांच की। जिसमें मिले 13 अवैध कनेक्शनों को काटा गया। एईएन ने बताया कि राइजिंग लाइन में 24 घंटे पेयजल सप्लाई होता है। ऐसे में अवैध कनेक्शनों के काटने से हजारों लीटर पेयजल की आवक बढ़ेगी, जिससे उपभोक्ताओं को राहत मिलेगी।
इस दौरान एक्सईएन विशाल सक्सैना, एईएन शिशुपाल सैनी, जेईएन पांचू राम स्वामी, तानसिंह चौधरी, पंप चालक सुरेश स्वामी व कुशाल ढबास और ठेकेदार सहित टीम में कई लोग शामिल थे।


राइजिंग लाइन में सेंधमारी करने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई

एईएन ने बताया कि राइजिंग लाइन में अवैध कनेक्शनों के खिलाफ विभाग का अभियान जारी रहेगा। शनिवार को भी इलाके में जांच कर अवैध कनेक्शनों को काटा जाएगा। साथ ही लाइन में सेंधमारी कर अवैध कनेक्शन करने वालों के खिलाफ कानूूनी कार्रवाई भी की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि इन दिनों भीषण गर्मी के चलते दिनोंदिन पेयजल की मांग बढ़ती जा रही है। मांग के अनुपात में जलदाय विभाग के पास पेयजल की आवक कम है। ऐसे में गर्मी में पेयजल उपभोक्ताओं को कई जगह पर्याप्त पेयजल नहीं मिल पा रहा है। शाहपुरा में दो दिन में एक बार तो विराटनगर में अनियमित रूप से पेयजल आपूर्ति विभाग की ओर से की जा रही है। हालांकि विभाग की ओर से काफी प्रयास किए जा रहे हैं, लेकिन बोरिंग से पेयजल की आवक कम होने से उसी अनुरूप आपूर्ति की जा रही है। अब जल जीवन मिशन येाजना के धरातल पर आने के बाद जनता की पेयजल समस्या दूर होने की उम्मीद है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Bharat Drone Mahotsav 2022: दिल्ली में ड्रोन फेस्टिवल का उद्घाटन कर बोले मोदी- 2030 तक ड्रोन हब बनेगा भारतपहली बार हिंदी लेखिका को मिला International Booker Prize, एक मां की पाकिस्तान यात्रा पर आधारित है उपन्यासजम्मू कश्मीर: टीवी कलाकार अमरीन भट की हत्या का 24 घंटे में लिया बदला, तीन दिन में सुरक्षा बलों ने मारे 10 आतंकीखिलाड़ियों को भगाकर स्टेडियम में कुत्ता घुमाने वाले IAS अधिकारी का ट्रांसफर, पति लद्दाख तो पत्नी को भेजा अरुणाचलपाकिस्तान में 30 रुपए महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल, Pak सरकार को घेरते हुए इमरान खान ने की मोदी की तारीफRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चअजमेर शरीफ दरगाह में मंदिर होने के दावे के बाद बढ़ाई गई सुरक्षा, पुलिस बल तैनातचांदी के गहने-सिक्के की भी हो सकती है हॉलमार्किंग
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.