लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे महिला व पुरुष की गोली मार कर दी हत्या, इलाके में फैली सनसनी

कोटपूतली में हुआ दोहरा हत्याकांड

By: Satya

Published: 09 Jan 2021, 09:30 PM IST


शाहपुरा/कोटपूतली। कोटपूतली कस्बे में राजमार्ग पर खटाना मार्केट के सामने शिव कॉलोनी में लिव इन रिलेशनशिप में दो वर्ष से रह रहे एक महिला व पुरुष की किसी ने सिर में गोली मारकर हत्या कर दी। इस दोहरे हत्याकांड की घटना के बाद से कोटपूतली सहित आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई।


पुलिस के मुताबिक महिला पहले से शादीशुदा थी और अपने पति से कई वर्षों से अलग रह रही थी। महिला के पुत्र व पुत्री है। मृतक पुरूष भी शादीशुदा था और उसके भी पांच संतानें हैं। मृतक पुरूष आयुर्वेद चिकित्सक था, जो निजी प्रैक्टिस करता था। यह पिछले दो साल से महिला के सम्पर्क में था और उसी के साथ रह रहा था। हादसे के बाद मृतका के २० वर्षीय बेटे ने अपनी बहन व मौसी को गोली चलने की सूचना दी। घटना के बाद से वह फरार है। पुलिस अधिकारियों सहित एफएसएल की टीम ने घटनास्थल का निरीक्षण कर साक्ष्य जुटाए।

पुलिस अधीक्षक जयपुर ग्रामीण शंकरदत्त शर्मा ने बताया कि बानसूर तहसील की ढाणी धोली वाली निवासी मातादीन सिंह शेखावत (42) पुत्र प्रहलाद सिंह और बूढवाल निवासी सुमन (40) पत्नी राजेश चौधरी दो वर्षों से शिव कॉलोनी स्थित मकान में लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे थे। इनके शव सुबह कमरे में पड़े होने की सूचना सुमन की बहन मनीषा ने पुलिस को दी। इस पर एएसपी रामकुमार कस्वां व डीएसपी दिनेश कुमार यादव सहित कई पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे।

मौके पर दोनों के शव कमरे में फर्श पर पास पास पड़े थे। इनको नजदीक से पिस्टल से सिर में गोली मारने से फर्श पर खून बह रहा था।


पति से अलग रह रही थी मृतका
मृतका सुमन व बहन मनीषा की शादी १९९८ में एक ही घर में बूढवाल थाना नांगल चौधरी हरियाणा निवासी राजेश चौधरी व मनोज चौधरी के साथ हुई थी। इनका पीहर ग्राम भांकरी में है। इनके पिता वहां के सरपंच रहे हैं। जबकि मनोज चौधरी अभी बूढवाल के सरपंच हैं। शादी के कुछ वर्षों बाद से ही दोनों बहने पतियों से अलग हो गई थी। इनमें सुमन यहां मकान बना कर रहने लग गई। जबकि छोटी बहन नीमराणा में निजी कम्पनी में सर्विस करने लग गई।


बेटे ने बहन-मौसी को दी सूचना
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मौका मुआयना के दौरान मृतका की बहन व उसकी बेटी भी वहां मौजूद थी। जबकि इसका २० वर्षीय पुत्र पंकज नहीं मिला। वह पिछले पांच महिनों से मां के साथ रह रहा था। इससे पहले वह बूढवाल में पिता के साथ रह रहा था। उसने ही सुबह अपनी बहन खशुबु व मौसी को गोली चलने की सूचना दी और पुलिस व एम्बुलेंस लेकर आने को कहा। उसके बाद से वह फरार हो गया। उसका मोबाइल फोन बंद आ रहा है। उसके फरार होने व मोबाइल बंद आने से पुलिस के शक की सुई उस पर घूम रही है।

एफएसएल टीम खोजी कुत्तों के साथ जयपुर से पहुंची। इन्होंने घटना स्थल का निरीक्षण कर साक्ष्य जुटाए। खोजी कुत्तों से भी पुलिस को कोई सुराग नहीं लगा। टीम के निरीक्षण के बाद पुलिस ने शव बीडीएम अस्पताल की मोर्चरी में भिजवाए। जहां मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिए। मृतक की पत्नी व मृतका की बहन ने हत्या का मामला दर्ज कराया है। एसपी ने बताया कि आरोपी की तलाश में पुलिस टीम गठित कर संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned