scriptकिडनैपिंग केस: पूर्व मंत्री अमरमणि त्रिपाठी के 23 साल पुराने मामले में आया नया टर्न | amarmani tripathi Kidnapping case: A new turn in the 23-year-old case of former minister Amarmani Tripathi | Patrika News
बस्ती

किडनैपिंग केस: पूर्व मंत्री अमरमणि त्रिपाठी के 23 साल पुराने मामले में आया नया टर्न

यूपी के पूर्व मंत्री अमरमणि त्रिपाठी के 23 साल पुराने मामले ने अब नया टर्न ले लिया है। अभी तक उनपर आरोप लगाने वाले पीडि़त का अब कहना है कि अमरमणि की अपहरण मामले में कोई भूमिका नहीं थी।

बस्तीJun 22, 2024 / 02:35 pm

Krishna Rai

amarmani tripathi
पूर्व मंत्री अमरमणि त्रिपाठी (amarmani tripathi) मामले में नया मोड़ सामने आया है। घटना के 23 साल बाद पीडि़त ने कहा कि अपहरण कांड मामले में अमरमणि त्रिपाठी की कोई भूमिका नहीं है। कोर्ट में दिए गए प्रार्थना पत्र में पीडि़त ने जानकारी देते हुए कहा कि अमरमणि को मैं न जानता हूं और ना ही पहचानता हूं। वहीं कोर्ट को एक गुमनाम पत्र मिला। उस गुमनाम पत्र में अमरमणि त्रिपाठी के गोरखपुर और लखनऊ की संपत्तियों का भी जिक्र किया गया। न्यायाधीश प्रमोद गिरी ने दोबारा जांच कर संपत्तियों को कुर्क कर 6 जुलाई को पेश करने का आदेश दिया है।
यह था पूरा मामला
साल 2001 में बस्ती का अपहरण कांड काफी चर्चित था। कोतवाली बस्ती के रोडवेज तिराहा निवासी धर्मराज मध्देशिया के बेटे राहुल का अपहरण हो गया था। मामले में कार्रवाई शुरू हुई तो पुलिस ने तत्कालीन मंत्री अमरमणि त्रिपाठी के लखनऊ स्थित आवास से राहुल को बरामद किया था। इस पूरे मामले में अमरमणि त्रिपाठी सहित नौ आरोपी बनाए गए थे। इसी मामले में न्यायालय द्वारा अमरमणि त्रिपाठी के खिलाफ कई बड़ी कार्रवाई भी कराई गई है। हालाकि ताजा अपडेट के मुताबिक अब राहुल ने कोर्ट को बताया है कि उसके अपहरण मामले में अमरमणि त्रिपाठी का रोल नहीं है, और ना ही राहुल से उनका कोई विवाद है।

Hindi News/ Basti / किडनैपिंग केस: पूर्व मंत्री अमरमणि त्रिपाठी के 23 साल पुराने मामले में आया नया टर्न

ट्रेंडिंग वीडियो