इस बीजेपी सांसद ने मायावती पर बोला हमला, कहा अपना अस्तित्व बचाने के लिए सपा से किया गठबंधन

सांसद ने बसपा सुप्रीमो मायावती को कहा कि वो अपना और अपनी पार्टी का अस्तित्व बचाने के लिए सपा से गठबंधन किया है।

By: sarveshwari Mishra

Published: 29 Mar 2019, 12:54 PM IST

बस्ती. लोकसभा सीट से एक बार चुनाव मैदान में उतरे बीजेपी सांसद हरीश द्विवेदी ने बड़ा बयान दिया है। सांसद ने बसपा सुप्रीमो मायावती को कहा कि वो अपना और अपनी पार्टी का अस्तित्व बचाने के लिए सपा से गठबंधन किया है। सांसद ने उदाहरण देते हुए कहा कि जीरो से अगर ज़ीरो का गुणा करेंगे तो परिणाम भी शून्य ही आएगा। कहा कि मायावती जी चोकीदार लिखने वाली जनता पर सवालिया निशान खड़ा कर रही जो ये साबित करता है कि मायावती देश और प्रदेश की जनता को अपमानित कर रही है। सांसद ने कहा कि राहुल गांधी ने देश के गरीब परिवार को 72 हज़ार देने की घोषणा की है जिसे जनता समझती है कि राहुल जो बोल रहे वो कर पाएंगे या नहीं।

बीजेपी के पुराने साथी हो चुके शत्रुघन सिन्हा भाजपा से बगावत करके को कांग्रेस ज्वाइन करने वाले है मगर बीजेपी ने शत्रुघन सिन्हा को टिकट क्यों नही दिया जिस वजह से शत्रुघन नाराज हो गए इसका खुलासा बस्ती के सांसद हरीश ने किया। सांसद ने कहा कि शत्रुघन जी को पार्टी ने चुनाव लड़ाने लायक नही समझा इस वजह से उन्हें टिकट नही मिला। वो अब कही भी जाये उन्हें उससे कोई मतलब नहीं। फिल्मी सितारों को बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ने को लेकर कहा कि ये पार्टी के आला कमान का फैसला है।

सांसद हरीश ने कहा कि उन्होंने अपने 5 साल के कार्यकाल में गरीब से लेकर हर वर्ग के लिए विकास के कार्य किये है और उन्हें लगता है कि जनता उनके कामो का आकलन कर के ही वोट करेगी क्यों उनके पहले के जितने भी सांसद हुए वो सिर्फ जनता का वोट लेकर गायब हो गए। कहा कि सपा बसपा गठबंधन के उम्मीदवार राम प्रसाद चौधरी जातिगत आधार पर लड़ाई लड़ते है और भोली भाली जनता के वोट को रुपए देकर अपने पक्छ में करते है जिसे वो किसी भी कीमत पर होने नही देंगे। सांसद ने कहा कि अगर इससे बार जनता उन्हें लोकसभा में भेजती है तो वे बस्ती के छात्रों छात्राओ के लिए यूनिवर्सिटी बनवाएंगे, क्यों कि बस्ती में अभी तक एक भी यूनिवर्सिटी नही है जिस वजह से यहां के स्टूडेंट को बाहर के जिलों में जाना पड़ता है।

सांसद हरीश द्विवेदी के सामने सबसे बड़ी चुनौती है कि उन्हें विपक्ष के साथ साटन पार्टी के विभीषणों से भी लड़ना है, क्यों कि बस्ती के दो बीजेपी विधायक सांसद की खुलकर खिलाफत करते है। सदर विधायक दयाराम चौधरी और कप्तानगंज विधायक सीपी शुक्ला सांसद में किसी भी कार्यक्रम में नजर नहीं आते। दोनों विधायक विपरीत धारा में बह रहे है आज भी जब जिले के 5 में से 3 ही विधायक पहुचे तो सांसद से सवाल हुआ तो वे विधायको का बचाव करते नजर आए और कहा कि उनकी शुभकामना मेरे साथ है। कही व्यस्त होने के कारण दोनों विधायक नही आ सके होंगे।

BY-Satish Srivastava

sarveshwari Mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned