विकास कार्यो मे ढिलाई बरतने पर होगी जिम्मेदारों पर कार्रवाई: मंडलायुक्त

विकास कार्यो मे ढिलाई बरतने पर होगी जिम्मेदारों पर कार्रवाई: मंडलायुक्त
Meeting

समीक्षा बैठक में आयुक्त  ने मण्डल के तीनों जनपदों में चल रहे विकास कार्य की समीक्षा की

बस्ती. मण्डलायुक्त दिनेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में मण्डल स्तरीय विकास कार्यो की मासिक समीक्षा बैठक स्थानीय आयुक्त सभागार में सम्पन्न हुयी। समीक्षा बैठक में आयुक्त  ने मण्डल के तीनों जनपदों में विभिन्न विभागों द्वारा संचालित विकासपरक, लाभार्थीपरक योजनाओं एवं निर्माण कार्यो की गहन समीक्षा किया।


समीक्षा के दौरान आयुक्त ने कहा कि जिलाधिकारीगण को शासन की मंशा के अनुरूप अपने जनपद से संबंधित कार्यो की गुणवत्ता, समयबद्धता एवं साथ-साथ अधिकारियों को उनके जिम्मेदारियों के प्रति जवाबदेह रवैया आदि की नियमित समीक्षा करते रहे। समीक्षा की शुरूआती दौर में  आयुक्त ने मण्डल में खरीफ की फसल से संबंधित बीज वितरण, उर्वरक एवं किसानों से जुड़ी अन्य अवश्यकताओं की गहन समीक्षा करते हुए संबंधित मण्डलीय/जनपदीय अधिकारियों से बारीकी से पूछताछ किया।


यह भी पढ़ें:

इलाहाबाद में मोदी सरकार पर बरसे शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद, कहा- राजनीतिक हथकंडे के लिये... देखें वीडियो


आयुक्त  ने मण्डल में विभिन्न तकनीकी/यांत्रिक त्रुटियों से बन्द पड़े सभी 62 नलकूपों को तत्काल ठीक कर संचालित कराने के निर्देश संबंधित मण्डलीय अधिकारी को देते हुए कहा कि नहर से आछादित क्षेत्रफल में तत्काल पानी की उपलब्धता बहाल की जाय। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना एवं प्रधानमंत्री कृषि सिचाई योजना को तत्परता के साथ लागू करते हुए शत प्रतिशत किसानों को इससे लाभान्वित किया जाय। खाद्य एवं रसद विभाग की समीक्षा करते हुए राशन कार्डो के सत्यापन बिन्दु पर आयुक्त  ने लेखपालों द्वारा राशन कार्डो के सत्यापन में रूचि न लेने तथा विकल्प के तौर पर रोजगार सेवकों द्वारा सत्यापन का कार्य कराये जाने से सत्यापन की गुणवत्ता में कमी रह जाने की आशंका जाहिर करते हुए संबंधित मण्डलीय अधिकारी को इस विषय पर खाद्य एवं रसद आयुक्त से मार्ग दर्शन लेने के निर्देश दिये।



पं. दीन दयाल उपाध्याय  विद्युतीकरण योजना के तहत मण्डल में लक्ष्य के सापेक्ष ग्रामों को उर्जीकृत करने की दिशा में प्रगति लाने के निर्देश दिये गये। मण्डल में सड़को को गढ्ढामुक्त किए जाने में प्रगति की अद्यतन समीक्षा करते हुए आयुक्त ने पीडब्ल्यूडी, ग्रामीण अभियंत्रण विभाग, मण्डी परिसर, गन्ना विभाग सहित सभी संबंधित विभागो के द्वारा  निर्धारित समय सीमा में कराये जा रहे सड़को को गढ्ढामुक्त करने संबंधी कार्यो में प्रगति की समीक्षा किया। राजस्व विभाग की समीक्षा करते हुए आयुक्त ने जिलाधिकारीगण से कहा कि वे अपने-अपने जनपदों में तालाबों, चारागाहों, गढ्ढो एवं अन्य सरकारी भूमियों पर अवैध अतिक्रमण को हटवाते हुए संबंधित के विरूद्ध सख्त कार्रवाई सुनिश्चित करे। सेतु निगम द्वारा बनाये जा रहे बस्ती में पाॅच एवं संतकबीर नगर में एक सेतु का निर्माण कार्य जल्द से जल्द पूरा कराने के निर्देश दिये गये।


राजकीय निर्माण निगम द्वारा सर्किट हाउस के निर्माण से संबंधित ई-टेंडर प्रक्रिया पूरी कर निर्माण कार्य शुरू कराने का निर्देश दिया।  मण्डल में विद्युत व्यवस्था की अबाध आपूर्ति सुनिश्चित करने हेतु आवश्यकतानुसार ट्रांसफार्मर, तारों आदि के मरम्मत एवं बदलने संबंधी निर्देश दिये। विभिन्न योजनाओं के तहत लक्ष्य के सापेक्ष ग्रामीण बस्तीओं को उर्जीकृत करने की दिशा में प्रगति लाने का निर्देश दिया गया। लो बोल्टेज की समस्या से जूझ रहे नलकूपों का ट्रांसफार्मरों को बदलने या अतिरिक्त ट्रांसफर्मर लगाकर तत्काल क्रियाशील करने का निर्देश दिया गया। आयुक्त  ने कहा कि शासन से मिलने वाली बिजली का प्रत्येक दशा में बेहतर डिस्ट्रीब्यूशन सुनिश्चित कराया जाय। इसमें आने वाली छोटी-छोटी समस्याओं का निराकरण अधिकारीगण शीध्र करा दे।



मण्डल में निर्माण कार्यो की समीक्षा करते हुए आयुक्त ने कहा कि अधूरे निर्माण कार्यो जैसे स्वास्थ्य केन्द्रों, एएनएम सेंटरों आदि को संबंधित कार्य दायी संस्थाओं से समन्वय स्थापित कर पीडब्लूडी के नोडल अधिकारी उसमें प्रगति लाते हुए गुणवत्तापूर्ण ढंग से पूर्ण करावें तथा धन के अभाव में रूकी हुयी निर्माण कार्यो के संदर्भ में तत्काल धन की मांग हेतु पत्र भेजा जाय। विभिन्न लाभार्थीपकर योजनाओं में आधार कार्ड का लिंकेज कार्य प्रत्येक दशा में अतिशीध्र पूर्ण करा लिया जाय।


स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान आयुक्त ने स्वच्छ शौचालय निर्माण, हैण्ड पम्पों की रिबोर की स्थिति, जेई/एईएस का टीकाकरण, विद्यालयों एवं गाॅवों में साफ-सफाई की व्यवस्था, ग्राम पंचायतों के अनटाइड फण्ड के उपयोग की स्थिति,मनरेगा द्वारा कराये जा रहे कार्यो की समीक्षा, पशुओ का टीकाकरण, प्रधानमंत्री आवास योजना, आदि की गहन समीक्षा की। इसके अतिरिक्त विकास कार्यो की मण्डलीय समीक्षा बैठक में खाद्य विभाग, सिचाई विभाग, प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा, ग्रामीण विद्युतीकरण, किसान पारदर्शी योजना, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, कुकुट विकास, कामधेनु योजना, कौशल विकास मिशन, आसरा योजना, जल निगम, पाइप्ड पेय जल योजना, एनआरएलएम, ग्रामीण सड़कों का नवीनीकरण आदि विभागों एवं योजनाओं में अद्यतन स्थिति एवं प्रगति की समीक्षा की गयी।


राजस्व विभाग के कार्यो की समीक्षा के दौरान राजस्व वादों के निस्तारण में प्रगति, बकाया श्रण वसूली की प्रगति, कृषि भूमि आंवंटन में प्रगति, मत्स्य पालन हेतु तालाबों के पट्टे की स्थिति, किसान दुर्धटना बीमा, ग्राम सभा की भूमि पर अवैध अतिक्रमण, लोक शिकायतों के मामले के निस्तारण में प्रगति की समीक्षा की गयी। समीक्षा बैठक में अपर आयुक्त प्रशासन राजाराम, संयुक्त विकास आयुक्त  वीपी पाण्डेय,जिलाधिकारी बस्ती  अरविन्द कुमार सिंह,  जिलाधिकारी संतकबीर नगर  मार्कण्डेय शाही, जिलाधिकारी सिंद्धार्थ नगर, मुख्य विकास अधिकारी, बस्ती सुश्री हर्षिता माथुर, मुख्य विकास अधिकारी संतकबीर नगर  एवं मुख्य विकास अधिकारी सिद्धार्थ नगर सहित मण्डल के सभी विकास विभाग, पंचायत, कृषि, विद्युत, पशुपालन विभागों सहित अन्य विभागों के अधिकारीगण उपस्थित  रहे।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned