राफेल मामले में मोदी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को भी धोखे में रखा, बोले पूर्व केन्द्रीय मंत्री

पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय का दावा कहा सुप्रीम कोर्ट ने जिस आधार पर जजमेंट दिया वही पकड़ में आ गया।

मिर्ज़ापुर. तीन राज्यों में कांग्रेस सरकार की वापसी के बाद उत्साहित काग्रेसी नेता अब बीजेपी के खिलाफ ओर ज्यादा आक्रामक हो गए हैं। भाजपा पर हमला करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे। झारखंड के कदद्दावर काग्रेसी नेता व मनमोहन सिंह सरकार में पूर्व केंद्रीय मंत्री रहे सुबोध कांत सहाय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा है कि वह चौराहे की भाषा बोल रहे हैं। वहीं उन्होंने भाजपा पर राफेल डील मामले में सुप्रीम कोर्ट को गुमराह करने का आरोप लगाया।

 

सुबोध कांत मिर्ज़ापुर के शहीद उद्यान में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल हुए थे। उनका कहना था कि 2014 में बीजेपी को सकारात्मक बदलाव के लिये वोट मिला था। गुजरात मॉडल का खूब प्रचार हुआ, लेकिन अब इसकी हवा निकल चुकी है और कोई नहीं जानता कि गुजरात मॉडल आखिर क्या है। साढ़े चार साल में भारतीय अर्थव्यवस्था की जो हालत हो गयी है वह सभी पर भारी पड़ रहा है।

 

 Subodh Kant sahay
मिर्जापुर में सुबोधकांत सहाय IMAGE CREDIT: Patrika

 

वो आम आदमी को राहत देने के लिये महंगाई कम करने का दावा कर सरकार में आए थे। पर आज महंगाई आसमान को छू रही है। पेट्रोल-डीजल से लेकर एलपीजी गैस या फिर गरीबों का ईंधन केरोसिन तेल आम जनता की पहुंच से और दूर हो चुके हैं। छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान में जनता इस तंगहाली से आजिज आ चुकी थी और जनता को मौका मिला तो उसने गद्दी से उतारकर बीजेपी से बदला ले लिया। इन राज्यों में सरकारें केन्द्र के नक्शे कदम पर चल रही थीं, जो सिर्फ मार्केटिंग के बल पर प्रचार और पोस्टर होर्डिंग में अच्छे दिन दिखाती है।

 

सुबोध कांत सहाय ने राफेल के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को लेकर कहा कि जिनको भाषा पर कंट्रोल नहीं वह प्रधानमंत्री हैं। वह चौराहे की भाषा बोल रहे हैं। राफेल के मामले में सुप्रीम कोर्ट को भी गफलत में रखा गया। लेकिन अब सब पकड़ में आ गया कि सुप्रीम कोर्ट ने जो जजमेंट दिया वह किस आधार पर दिया है। सीएजी कि रिपोर्ट पीएससी में नहीं आयी। उन्होंने कहा कि आज विपक्षी एकता की जिम्मेदारी काग्रेस पार्टी और राहुल गांधी कि है। पार्टी सभी को साथ ले कर चलने के लिए अपने हितों से समझौता कर सभी को आगे बढ़ाने का काम कर रही है। कार्यक्रम से पहले उन्होंने विंध्याचल में मां विंध्यवासनी मंदिर गए और वहां दर्शन पूजन किया।

By Suresh Singh

Congress Narendra Modi
Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned