यूपी के बस्ती में एकजुट हुए गन्ना किसान, विकास भवन पर शुरु किया बड़ा आंदोलन

यूपी के बस्ती में एकजुट हुए गन्ना किसान, विकास भवन पर शुरु किया बड़ा आंदोलन

Jyoti Mini | Publish: Dec, 07 2017 12:28:40 PM (IST) Basti, Uttar Pradesh, India

गन्ना क्रय केन्द्रों पर खुद न होने पर भड़का किसानों का गुस्सा...

बस्ती. यूपी सरकार भले ही किसानों के हित की बात कर पर सच्चाई कुछ और ही नजर आ रही है। पिछले 15 दिनों से गन्ने खरीद का इंतजार कर रहे किसानों का धैर्य बुधवार को टूट गया और वे गन्ना क्रय केन्द्र बेलघाट से अपना ट्रालियों पर लदा गन्ना विकास भवन कार्यालय पर लेकर पहुंच गए। गुस्साए किसानों ने अनिश्चित काल किसान पंचायत शुरू कर दिया है। किसानों की गन्ना लदी ट्राली देख जिम्मेदार अधिकारियों के हाथ पांव फूल गए। किन्तु किसान टस से मस नहीं हुये और भारतीय किसान यूनियन अध्यक्ष राम मनोहर चौधरी के नेतृत्व में अनिश्चित कालीन किसान पंचायत शुरू कर दिया।

 

farmers protest
IMAGE CREDIT: patrika

किसान पंचायत को सम्बोधित करते हुए भाकियू मण्डल उपाध्यक्ष दिवान चंद पटेल ने कहा कि, यदि जिला गन्ना अधिकारी और प्रशासनिक अधिकारियों ने किसानों की बात सुनी होती तो ऐसे आन्दोलन की जरूरत न पड़ती। बभनान चीनी मिल अर्न्तगत गन्ना क्रय केन्द्र बेलघाट पर गत 20 नवम्बर से ही कागजों में खरीदारी शुरू कर दी गई, क्रय केन्द्र पर लेबर और ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था न होने के कारण खरीदारी बाधित है।

 

 

cm yogi
IMAGE CREDIT: net

गन्ना किसानों ने 15 दिनों तक इंतजार करते हुए सम्बंधित अधिकारियों को सूचना देकर गन्ना खरीद की गुहार लगाया किन्तु उनकी जायज मांगों को अनसुनी कर दिया गया। समूचे जनपद में समानुपातिक खरीदारी नहीं किया जा रहा है, किसान क्रय केन्द्रों पर परेशान है। भाकियू अर्ली, सामान्य रिजेक्ट के नाम पर गन्ना किसानों का शोषण बर्दाश्त नहीं करेगी। भाकियू जिला सचिव शिवमूरत चौधरी, हरिप्रसाद चौधरी ने कहा कि 15 दिनों में गन्ना सूख गया है और किसानों को काफी नुकसान हुआ।

 

 

farmer
IMAGE CREDIT: Net

खेती किसानी के सीजन में ट्रैक्टर, ट्राली 15 दिनों तक खड़े रहे। गन्ना क्रय केन्द्र पर न पीने का पानी है न रहने का ठिकाना, न कोई विभागीय कर्मचारी। कहा कि, सम्बंधित अधिकारी और बभनान चीनी मिल प्रशासन गन्ना किसानों को समुचित मुआवजा दें और समानुपातिक रूप से गन्ने की खरीदारी कराया जाय अन्यथा भाकियू का आन्दोलन जारी रहेगा।

INPUT- सतीश श्रीवास्तव

बीजेपी
IMAGE CREDIT: net
Ad Block is Banned