अयोध्या से सटे बस्ती में भी हाई अलर्ट, पीएम के आगमन से पहले सील हो जाएंगे बॉर्डर

हाईवे से लेकर सभी मार्गों पर बैरिकेडिंग कर की जा रही है चेकिंग, आईजी ने कहा बिना आमंत्रण किसी को अयोध्या की सीमा में नहीं दिया जाएगा प्रवेश। नेपाल सीमा पर भी बरती जा रही है चौकसी।

बस्ती. अयोध्या में राम मंदिर की आधारशिला रखने के कायर्क्रम में प्रधानमंत्री के आगमन को देखते हुए सुरक्षा कड़े इंतजाम किये जा रहे हैं। अयोध्या से सटे जिलों में भी सड़क और जलमार्गों पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। बस्ती जिले में हाइवे से लेकर सभी छोटे-बड़े प्रवेश मर्गों पर बैरियर लगाकर सघन चेकिंग की जा रही है। इसके अलावा जलमार्गों पर कड़ी निगरानी के लिये पीएसी व जल पुलिस की तैनाती की जा रही है। प्रधानमंत्री के आने से पहले सीमा सील कर दी जाएगी। उधर बस्ती के आर्इजी ने कहा है कि अयोध्या में उन्हीं लोगों को प्रवेश करने दिया जाएगा जिनका आमंत्रण है। ऐसे में कोई भी व्यक्ति बिना आमंत्रण के यदि जाने कोशिश करता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।


आगामी 5 अगस्त को अयोध्या में प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को लेकर बस्ती मंडल पूरी तरह से हाई अलर्ट पर है। जगह-जगह सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं। बस्ती जिला अयोध्या से सटा होने के चलते सुरक्षा की दृष्टि से बेहद महत्वपूर्ण है। सुरक्षा में कोई कमी न रह जाए इसके लिए बस्ती मंडल के आलाअधिकारी खुद क्षेत्र में रोजाना भ्रमण कर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा ले रहे हैं। आईजी अनिल कुमार राय ने भी हाईवे पर पुलिस कर्मियों द्वारा की जा रही चेकिंग और अयोध्या व बस्ती से सटकर बह रही सरयू नदी के जलमार्ग का भी निरीक्षण किया। हाईवे के साथ-साथ अयोध्या से सटे सीमावर्ती थानाक्षेत्रों के व ग्रामीण इलाकों का भी जायजा लिया और पुलिस की सक्रियता भी जांची।


हाई अलर्ट पर पुलिस

आईजी अनिल कुमार ने बताया कि जिले के साथ ही पूरे मंडल में सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद कर दी गई है। पुलिस को हाई अलर्ट पर रखा गया है और हर गतिविधि पर पैनी नजर रखी जा रही है। उन्होंने बताया कि पुलिस द्वारा हाईवे के अलावा अयोध्या को जोड़ने वाले अन्य तमाम रास्तों पर बैरिकेडिंग कर पुलिस द्वारा चेकिंग की जा रही है, ताकि भीड़ इकट्ठा न होने पाए।

 

संदिग्धों पर निगाह, नेपाल सीमा पर चौकसी

आईजी अनिल सागर ने सभी लोगों से अपील की है कि बिना आमंत्रण अयोध्या जाने की कोशिश भी न करें। इसके बदले घर पर बैठकर रामायण का पाठ करेंगे। उन्होंने किसी भी तरह के सामूहिक कायर्क्रम के आयोजन भी न कने की हिदायत दी है। उन्होंने बताया कि संदिग्ध लोगों पर लगातार निगाह रखी जा रही है और सुरक्षा एजेंसियों के साथ मिलकर नेपाल सीमा पर भी चौकसी बरती जा रही है।

coronavirus
Show More
रफतउद्दीन फरीद Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned