Right Sunscreen For Your Skin: इन तरीकों से करें सनस्क्रीन का चुनाव

Right Sunscreen For Your Skin: हमारे लिए गर्मियों में तीखी धूप से बचना एक बड़ी समस्या होती है। लेकिन त्वचा को किसी भी नुकसान से बचाने के लिए सही सनस्क्रीन का इस्तेमाल बेहद आवश्यक होता है।

By: Tanya Paliwal

Updated: 07 Sep 2021, 05:23 PM IST

नई दिल्ली। Right Sunscreen For Your Skin: अक्सर हमें काम से बाहर आना जाना पड़ता है, जिसके कारण हम धूप, धूल, मिट्टी आदि के संपर्क में भी आते हैं। सूर्य की हानिकारक पराबैंगनी किरणें हमारी त्वचा को नुकसान पहुंचा कर प्राकृतिक नमी छीन लेती हैं। बार-बार धूप में आने जाने से सनबर्न, टैनिंग जैसी समस्याएं भी हो जाती हैं। इसलिए विशेषज्ञों का मानना है कि बाहर जाने से लगभग 10-15 मिनट पहले अपनी त्वचा पर सनस्क्रीन लगा लें। सनस्क्रीन एक प्राकृतिक मॉइस्चराइजर की तरह हमारी त्वचा को रूखेपन एवं काले धब्बों से बचाता है।

साथ ही त्वचा के लिए हानिकारक पराबैंगनी किरणें दो प्रकार की होती है- यूवीबी और यूवीए। यूवीए किरणों से त्वचा को ज्यादा नुकसान होता है तथा लंबे समय तक धूप के संपर्क में रहने वाले लोगों पर इनका अधिक प्रभाव पड़ता है।

इसके अलावा यूवीबी सनबर्न तथा फोटो एजिंग की समस्या पैदा कर सकती हैं। इस अवस्था में सनस्क्रीन यूवीबी किरणों को फिल्टर करके हमारी त्वचा को बचाता है। जबकि सनब्लॉक जिंक ऑक्साइड युक्त होता है जो जो भी है और युवी भी यूवीए और यूवीबी दोनों प्रकार की किरणों से त्वचा की सुरक्षा करता है।

यह भी पढ़ें:

परंतु अक्सर हमें सही सनस्क्रीन के चुनाव में दुविधा होती है। लेकिन इन संकेतों के आधार पर आप अपनी त्वचा के अनुसार सनस्क्रीन खरीद सकते हैं:

• तैलीय त्वचा वाले लोग स्प्रे या जेल सनस्क्रीन तथा रूखी त्वचा वाले लोगों को क्रीम या लोशन सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना चाहिए।

• सनस्क्रीन खरीदते पैक पर लिखित सामग्री को अवश्य देखें। अगर उसमें ऑक्सीबेंजोन है तो ऐसी सनस्क्रीन ना खरीदें क्योंकि इससे आपको एलर्जी की समस्या होने के साथ यह त्वचा के लिए हानिकारक भी होता है।

• सनस्क्रीन पैकेट पर लिखी निर्माण अवधि को भी जरूर पढ़ें। क्योंकि सनस्क्रीन जितनी नई होगी उतने ही प्रभावी ढंग से आपकी त्वचा की सुरक्षा करेगी।

• इसके अलावा सनस्क्रीन के दो गुणक फिजिकल ओर केमिकल भी होते हैं जिनका ध्यान सनस्क्रीन खरीदते वक्त रखना चाहिए। अधिकतम एसपीएफ 20 युक्त फिजिकल सनस्क्रीन में केमिकल की मात्रा कम होती है। जबकि एसपीएफ 20 से अधिक बीएफ वाली सनस्क्रीन में केमिकल की मात्रा भी अधिक होती है।

right_sunscreens_1.jpg
Tanya Paliwal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned