ग्रामीणों को आया गुस्सा तो ग्राम सेवक को शिविर से किया रवाना

ग्रामीणों को आया गुस्सा तो ग्राम सेवक को शिविर से किया रवाना
ग्रामीणों को आया गुस्सा तो ग्राम सेवक को शिविर से किया रवाना

Bhagwat Dayal Singh | Updated: 18 Sep 2019, 08:06:06 PM (IST) Beawar, Beawar, Rajasthan, India


-महात्मा गांधी ग्रामोत्थान शिविर : ग्राम पंचायत नून्द्री मालदेव में आयोजन, गुस्साए ग्रामीणों ने की ग्राम विकास अधिकारी के स्थानान्तरण की मांग


ब्यावर. निकटवर्ती ग्राम नून्द्री मालदेव में बुधवार को महात्मा गांधी ग्रामोत्थान शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में 35 पट्टों का वितरण किया गया। इस दौरान ग्रामीणों ने प्रावधान के अनुरुप आवेदकों को पट्टे जारी नहीं किए जाने को लेकर विरोध शुरु कर दिया। आक्रोशित लोगों ने ग्राम विकास अधिकारी के स्थानान्तरण की मांग की। विरोध के दौरान गुस्साए लोगों ने ग्राम विकास अधिकारी को बीडीओ की जीप में बैठाकर शिविर स्थल से रवाना कर दिया। ग्रामीणों ने सरपंच को ज्ञापन देकर ग्राम सेवक का स्थानान्तरण करवाने की मांग की है। ग्राम नून्द्री मालदेव में बुधवार को ग्रामोत्थान शिविर का आयोजन किया गया। इस दौरान तीन सौवर्गगज के पट्टे जारी नहीं किए जाने को लेकर ग्रामीणों ने विरोध शुरु कर दिया। ग्रामीणों का कहना था कि तीन सौवर्गगज तक के पट्टे दिए जाने का प्रावधान है। इसके बावजूद तीन सौ वर्ग गज का पट्टा जारी नहीं किया जा रहा है। इसके चलते लोगों ने शिविर के दौरान विरोध शुरु कर दिया। शिविर में 35 पट्टे दिए गए। इस दौरान ही लोगों ने विरोध शुरु कर दिया। शिविर का बहिष्कार करने की बात कहते हुए ग्राम विकास अधिकारी के स्थानान्तरण की मांग करने लगे। ग्रामीणों ने एक ज्ञापन देकर ग्राम विकास अधिकारी का स्थानान्तरण करने की मांग की। गुस्साए ग्रामीणों ने ग्राम विकास अधिकारी को पंचायत समिति विकास अधिकारी की जीप में बैठा दिया। उन्होंने ग्राम विकास अधिकारी के प्रति गहरा रोष जताया। स्थानान्तरण की मांग करने वालों में मोहनसिंह, महेन्द्रसिंह, हेमराज, बाबूसिंह, महेन्द्रसिंह रावत, भगवानसिंह, दयालसिंह व हीरासिंह सहित अन्य शामिल रहे।
इनका कहना है...
शिविर में ३५ पट्टो का वितरण किया गया। तीन सौ वर्गगज तक पट्टे देेने का प्रावधान है। इसके लिए मकान बना होने एवं एक परिवार के एक ही सदस्य को पट्टे दिए जाने का नियम है। नियमों के तहत पट्टों का वितरण किया। शिविर से निकलने के बाद कुछ लोगों ने विरोध किया। ग्रामीणों की अगर कोई समस्या है तो उसका भी निराकरण किया जाएगा। ग्राम विकास अधिकारी के स्थानान्तरण की मांग की है तो इसकी समुचित जांच करवा दी जाएगी।
-डॉ. विजेन्द्र शर्मा, विकास अधिकारी, पंचायत समिति जवाजा
(कासं)

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned