चाव से शहर खाया और पिंजरा तोड़ भागा रीछ

.शहद खाया एवं पिजरा तोड़कर निकल गया रीछगश्त तेज, टीम पहुंची, रीछ की तलाश शुरु - गश्त तेज, टीम पहुंची, रीछ की तलाश शुरुकाश्तकार पर रीछ के हमला करने का मामला

ब्यावर . ग्राम पंचायत किशनपुरा के ग्राम राजेन्द्रा में काश्तकार पर रीछ के हमले के बाद वन विभाग सजग हो गया। वन विभाग ने दस टीमों का गठन किया है। इन टीमों ने मंगलवार को ग्राम राजेन्द्रा सहित आस-पास के क्षेत्रों में जाकर गश्त की। सघन अभियान चलाए जाने के बावजूद रीछ के बारे में जानकारी नहीं मिल सकी है। सेंदड़ा वन विभाग ने ग्राम धोलिया में पिंजरा लगाया। इसमें शहद व बैर रखे हुए थे। रीछ ने पिंजरे में जाकर शहद व बैर खाया। इसके बाद पिंजरा तोड़कर भाग गया। अब वन विभाग ने नए पिंजरे मंगवाकर तीन स्थानों पर पिंजरे लगाए है। गौरतलब है कि ग्राम राजेन्द्रा में खेत पर रखवाली करने के लिए काश्तकार गोपालसिंह सो रहा था। देर रात रीछ ने उस पर हमला कर दिया। इससे गोपालसिंह गंभीर रुप से घायल हो गया। घायल को अमृतकौर चिकित्सलय लाए। जहां पर उसकी स्थिति गंभीर होने के कारण जयपुर रेफर कर दिया।ग्रामीणों में भयग्राम राजेन्द्रा, किशनपुरा, सेदडा सहित आस-पास के क्षेत्रों में लोगों में भय है। दो काश्तकारों पर रीछ के हमले के बाद ग्रामीण सजग हो गए। शाम को काश्तकार अपने खेतों से जल्दी वापस घर लौट रहे है। सेंदड़ा के शंकरलाल, नारायणसिंह, भवानीसिंह, सुगनसिंह सहित अन्य ने वन विभाग के अधिकारियों को ज्ञापन देकर रीछ को जल्द पकडऩे की मांग की है।

Bhagwat Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned