नया जिला बना तो पहला नाम ब्यावर का होगा

फिर मिला आश्वासन - नया जिला बना तो पहला नाम ब्यावर का होगा

विधायक शंकरसिंह रावत शिष्टमंडल के साथ मुख्यमंत्री से मिले, फिर आश्वासन से ही करना पड़ा संतोष

By: Bhagwat

Published: 30 Sep 2020, 04:25 PM IST

ब्यावर. ब्यावर को जिला बनाने एवं अन्य 13 सूत्री मांगों को लेकर विधायक शंकर सिंह रावत ने पदयात्रा करके सोमवार को छठे दिन जयपुर पहुंचे। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात कर विधायक रावत ने अपनी मांगे रखी। विधायक रावत ने वार्ता के दौरान जिला बनाने के लिए गठित परमेश चन्द कमेटी का हवाला देते हुए कहा कि इस कमेटी में जिला बनाने के लिए ब्यावर का नाम एक नम्बर पर है। इसलिए परमेश चन्द कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर ब्यावर को जिला बनाओ। रावत ने बताया कि मुख्यमंत्री से सौहार्दपूर्ण वार्ता हुई। इसमें मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया कि प्रदेश में जब भी कोई नया जिला बनेगा, उसमे पहला नाम ब्यावर का होगा। साथ ही विधायक रावत ने अन्य मांगे मुख्यमंत्री के सामने रखने पर जल्द ही प्राथमिकता अनुसार मांगो के निस्तारण का भरोसा दिया।

फिर आश्वासन मिला...

ब्यावर को जिला बनाने की मांग पर हर बार आश्वासन ही मिलता है। एक बार फिर जिले के नाम पर आश्वासन मिला है। इससे पहले भी ब्यावर को जिला बनाने की मांग को लेकर कई बार विरोध प्रदर्शन किए गए लेकिन हर बार आश्वासन ही दिए गए। एक बार फिर आंदोलन के बाद आश्वासन ही मिला।

आंदोलन का समय ही सही नहीं

वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिनेश शर्मा ने इस आंदोलन को लेकर कहा कि ब्यावर जिला बने, यह सबकी इच्छा है लेकिन जिले की मांग को लेकर आंदोलन करने का सही समय नहीं है। जिले की घोषणा बजट सत्र में होती है। अब कोरोना वैश्विक महामारी का दौर चल रहा है। ऐसे में आंदोलन करने का यह सही समय नहीं है। ब्यावर को जिला बनाने की वर्षो पुरानी मांग है। इस मांग को पूरा करने के लिए कांग्रेस प्रयास करेगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned