वापस ग्राम पंचायत बना दो

विकास हुआ नहीं, वापस ग्राम पंचायत बना दो

सीवरेज और रोड का निर्माण अटका: नगर परिषद के वार्ड 47-48 में बटा है सेदरियां, क्षेत्रवासियों ने की पुन: ग्राम पंचायत में शामिल करने की मांग

By: Bhagwat

Published: 30 Sep 2020, 09:49 PM IST

ब्यावर. ग्राम पंचायत से नगर परिषद में शामिल हुए सेदरिया में विकास नहीं होने से क्षेत्रवासी खफा है। सड़क व नाली सहित अन्य समस्याओं को लेकर क्षेत्रवासी कई बार मांग की लेकिन मांग पूरी नहीं हो पा रही है। बिजयनगर मार्ग करीब कई सालों से क्षतिग्रस्त पड़ा है। इससे नाराज पूर्व प्रतिपक्ष नेता व जिला किसान संघ के अध्यक्ष गणपतसिंह मुग्धेश सहित क्षेत्रवासियों ने सेदरिया को वापस ग्राम पंचायत बनाने की मांग की है। ताकि ग्राम पंचायत से यह क्षेत्र जुड़कर विकास की ओर बढ़ सकें। नगर परिषद की सीमा में होने के बावजूद सेदरिया में सड़क निर्माण और सीवरेज का कार्य लंबे से अटका हुआ हैं। ऐसे में एक ओर लोगों को आस थी कि नगर परिषद क्षेत्र में जुडऩे से विकास ज्यादा होगा। लेकिन ऐसा नहीं होने से क्षेत्रवासी नाराज है। सेदरिया निवासी जिला किसान संघ के अध्यक्ष गणपतसिंह मुग्धेश ने बताया कि सालों पहले सेदरिया को नगर परिषद सीमा में शामिल किया गया। सेदरिया हाल में वार्ड संख्या 47-48 में शामिल है। शहरी सीमा में शामिल होने के बावजूद क्षेत्र का समुचित विकास नहीं हो सका। सेदरिया को शामिल नहीं किया सीवरेज लाइन मेंसेदरिया को सीवरेज योजना में शामिल नहीं किया गया। जबकि यह शहर के वार्ड संख्या 47 व 48 में जुडा हुआ है। इसके बावजूद इस क्षेत्र की विकास के नजरिए से अनदेखी की जा रही है। हाल में नगर परिषद की ओर से शहरी क्षेत्र में बिछाई जा रही सीवरेज का कार्य सेदरिया में शुरू नहीं किया जा रहा। क्षतिग्रस्त सड़क की नहीं ले रहे सुध

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned