खुशी है तो पारदर्शी पेटी में डालो मिठाई के पैसे

अमृतकौर चिकित्सालय : गायनिक शाखा में लगेगी पारदर्शी पेटी, ताकि बच्चे के जन्म पर बधाई लेने के सिलसिले पर लग सके रोक, अस्पताल प्रशासन ने की कवायद, दानदाता के सहयोग से लगेगी पेटी, एकत्र होने वाली राशि होगी गायनिक शाखा में खर्च

By: Bhagwat

Published: 30 Sep 2020, 10:01 PM IST

ब्यावर. अमृतकौर चिकित्सालय की मदर चाइल्ड विंग की गायनिक शाखा में बच्चे के जन्म पर राशि लेने के मामले सामने आते रहते है। अस्पताल प्रशासन ने कई बार कदम उठाए। इसके बावजूद इस समस्या का समाधान नहीं हो सका। ऐसे में अब अस्पताल प्रशासन गायनिक विंग में एक पारदर्शी पेटी लगाएंगा। ताकि कोई राशि मांगता है तो उसे देने के बजाए उस पेटी में डाल सके। इस राशि को गायनिक विंग में ही खर्च किया जाएगा। अमृतकौर चिकित्सालय की गायनिक विंग में शिशु के जन्म होने पर बधाई के नाम पर राशि लेने की शिकायतें सामने आती रहती है। इस तरह की समस्याओं के निराकरण के लिए गत दिनों अस्पताल ने एक नैतिकता से ओत-प्रोत पोस्टर भी चस्पा किया था। इसमें ऐसा व्यवहार नहीं करने की अपील की थी जो आप अपनी परिवार के किसी सदस्य के साथ नहीं चाहते हो। इसके बावजूद इस तरह की शिकायतें सामने आने के बाद अब अस्पताल प्रशासन ने एक पारदर्शी पेटी लगाने का निर्णय किया है।

इसलिए उठाया कदम...

अस्पताल की गायनिक विंग में इस तरह की शिकायतें सामने आने के बाद खुशी से मिठाई के रुपए देने की बात सामने आई। ऐसे में इस धारणा पर अंकुश लगाने के लिए अस्पताल प्रशासन ने पारदर्शी पेटी लगाने का निर्णय किया है। ताकि अगर कोई खुशी से देना भी चाहे तो उस पेटी में डाल देगा। उस राशि को गायनिक विंग में ही खर्च किया जाएगा।

इनका कहना है...

गायनिक विंग में एक पारदर्शी पेटी लगाई जाएगी। इसमें कोई खुशी से राशि देना चाहे तो उसमे में डाल सकता है। ताकि उस राशि देने का मामले में पारदर्शिता बनी रह सके। कर्मचारियों की ओर से राशि लेने की आने वाली शिकायतों पर अंकुश लग सके। एक भामाशाह की ओर से पारदर्शी पेटी गायनिक विंग में लगाई जाएगी।

-डॉ. आलोक श्रीवास्तव, पीएमओ, अमृतकौर चिकित्सालय

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned