scriptbeawar | एक कक्ष के वोल्टेज अब तक नहीं सामान्य, सप्लाई भी बाधित | Patrika News

एक कक्ष के वोल्टेज अब तक नहीं सामान्य, सप्लाई भी बाधित

डिस्कॉम की जांच टीम ने किया निरीक्षण, तकनीकी खामियों सहित अन्य व्यवस्थाओं का लिया जायजा

ब्यावर

Published: April 22, 2022 09:28:03 pm

ब्यावर. राजकीय अमृतकौर चिकित्सालय की मदर चाइल्ड विंग की नवजात गहन चिकित्सा इकाई में बिजली की सप्लाई व्यवस्था की जांच करने गुरुवार को टीम पहुंची। निगम की ओर से दी जा रही सप्लाई सामान्य बताई जा रही है। भवन के अंदरुनी सप्लाई व्यवस्था में तकनीकी खामी होने से एक कक्ष की सप्लाई व्यवस्था अब तक सामान्य नहीं हो पाई है। उस कक्ष की सप्लाई फिलहाल बाधित है। इसी कक्ष में अब भी तीन सौ से अधिक वोल्टेज आने की बात सामने आई है।
एक कक्ष के वोल्टेज अब तक नहीं सामान्य, सप्लाई भी बाधित
एक कक्ष के वोल्टेज अब तक नहीं सामान्य, सप्लाई भी बाधित
डिस्कॉम जांच टीम में शामिल एईएन अजयराज, जेईएन संतोष जांगिड तथा अस्पताल के सभी प्रकार के उपकरणों का रख-रखाव करने वाली कंपनी एपीटीएल के प्रतिनिधी भूपेन्द्र कुमार ने शिशु नर्सरी में लगे विद्युत कनेक्शन, एमसीबी, सप्लाई, कंट्रोलर तथा विंग के बाहर लगे ट्रान्सफार्मर की गहनता से जांच की। जांच के दौरान टीम सदस्यों ने बिजली की सप्लाई संबंधी सभी उपकरणों का अवलोकन कर समस्याओं को चिन्हित किया।कलक्टर ने दिए निर्देश
जिला कलेक्टर अजमेर अंशदीप ने अस्पताल प्रशासन को विंग की बिजली सप्लाई व्यवस्था तथा नर्सरी में लगे उपकरणों को सप्लाई की जाने वाली व्यवस्थाओं का जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए थे। इसकी पालना में गुरुवार को डिस्कॉम की जांच टीम एमसीएच विंग पहुंची। जांच के दौरान अधिशाषी अभियंता वीडी दुबे भी अस्पताल पहुंचे। गौरतलब है कि एमसीएच विंग की शिशु नर्सरी में सोमवार देर रात को सप्लाई में आए व्यावधान के कारण शिशु नर्सरी के एक वार्मर में हुई ओवरहीट के कारण वार्मर में सो रहे दो नवजात की मृत्यु हो गई थी। इसके बाद से ही अस्पताल की व्यवस्थाओं को लेकर जांच की जा रही है।पौने दो घंटे बाद की शिकायत
अमृतकौर चिकित्सालय में सोमवार शाम को जिस समय वार्मर ओवर हीट हुआ। उस समय अस्पताल फीडर का फ्यूज उड़ने से बिजली सप्लाई बाधित थी। बताया जा रहा है कि शाम करीब साढे पांच बजे फ्यूज उड़ने से अस्पताल फीडर की सप्लाई बाधित हुई। यह हादसा करीब 7 से 7.15 बजे के करीब होना बताया गया है। इसके बाद करीब 7.20 बजे इसकी शिकायत दर्ज कराई गई। इसके बाद करीब आठ बजकर तीन मिनट पर सप्लाई वापस सुचारु की गई। बिजली सप्लाई व्यवस्था गड़बडाने के बाद अस्पताल जैसे क्षेत्र में ढाई घंटे तक सप्लाई बाधित रही।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभकिसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामसूर्य-बुध की युति से बनेगा ‘बुधादित्य’ राजयोग, जानिए किसकी चमकेगी किस्मत?दिल्ली के सरकारी स्कूलों में सिर्फ 15 दिन का समर वेकेशन, जानिए प्राइवेट स्कूलों को लेकर क्या हुआ फैसला17 मई से 3 राशि वालों के खुलेंगे भाग, मंगल का मीन में गोचर दिलाएगा अपार सफलता2023 तक मीन राशि में रहेगा 'जुपिटर ग्रह', 3 राशियों की धन-दौलत में करेगा जबरदस्त वृद्धिगेहूं के दामों में जोरदार उछाल, एक माह में बढ़े 300 रुपए क्विंटलजमकर बिकी Tata की ये किफायती SUV! एडवांस फीचर्स और 5 स्टार सेफ़्टी के आगे फेल हुएं सभी

बड़ी खबरें

डॉ. माणिक साहा बने त्रिपुरा के नए मुख्यमंत्री, 11 महीने बाद ही राज्य में होना है विधानसभा चुनावबिहार में नितिन गडकरी ने कोईलवर सिक्सलेन पुल का किया उद्धाटन, नीतीश कुमार को नहीं दिया निमंत्रणमुठभेड़ के 12 घंटे के अंदर शिकारियों के घरों पर चलाया बुलडोजर40 करोड़ का जहाज, लंदन-स्पेन में करोड़ों की प्रॉपर्टी, जानिए अपने परिवार के लिए कितनी संपत्ति छोड़ गए UAE के राष्ट्रपतिअमित शाह के तेलंगाना दौरे से आखिर क्यों परेशान है TRS?कांग्रेस को बड़ा झटका, सुनील झाखड़ ने पार्टी से दिया इस्तीफा, सोनिया गांधी पर उठाए सवालCongress Chintan Shivir 2022 : प्रियंका गांधी कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष बने : प्रमोद कृष्णम11 साल के सोनू ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार के सामने खोली पोल, कहा - 'हमको पढ़ना है सर! सरकारी स्कूल में पढ़ाई नहीं होती'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.