इसलिए लोग तरस गए निवाले को

खाद्य सुरक्षा सूची में नाम जुड़वाने के लिए पिछले सात-आठ माह से काट रहे लोग चक्कर, सूची बनी लेकिन मोहर लगने का इंतजार

By: tarun kashyap

Published: 18 Dec 2018, 05:39 PM IST

ब्यावर. खाद्य सुरक्षा सूची में नाम जुड़वाने के लिए लोग पिछले सात-आठ माह से इंतजार कर रहे है। सूची में नाम नहीं जुड़ पाने से लोगों को राशन सामग्री नहीं मिल पा रही है। ऐसे में उपभोक्ता राशन डीलर व उपखंड कार्यालय के चक्कर काट रहे है। अब तक उनका नाम नहीं जुड़ सका है। उपखंड में करीब पांच सौसे अधिक ऐसे परिवार है जिनकी राशन सामग्री उपखंड कार्यालय व ग्राम पंचायत की प्रक्रिया में अटकी है। अब तक आचार संहिता के कारण चुप्पी साधे बैठे लोगों ने अब फिर से उपखंड कार्यालय के चक्कर काटना शुरु कर दिया है। उपखंड की ग्राम पंचायत लोटियाना, काबरा, जालिया सहित अन्य ग्राम पंचायतों के करीब पांच सौ से अधिक लोगों ने खाद्य सुरक्षा सूची में नाम जुड़वाने के लिए आवेदन कर रखा है। करीब सात-आठ माह से आवेदन कर चुके इन लोगों का कहना है कि पहले तो कर्मचारियों की हड़ताल का कारण बताकर उन्हें टालते रहे। बाद में आचार संहिता लग जाने के कारण उनका काम नहीं हो सका। ऐसे में करीब छह से सात माह गुजर जाने के बावजूद अब तक उनका सूची में नाम नहीं जुड़ सका है। ऐसे में आचार संहिता समाप्त होने के बाद लोग वापस उपखंड कार्यालय पहुंचना शुरु हो गए है। अब तक उनका नाम सूची में शामिल नहीं हो सका है। काबरा के नारायणसिंह ने बताया कि पिछले छह माह से सूची में नाम जुड़वाने के लिए चक्कर काट रहे है। ऐसे ही इन्द्रसिंह ने बताया कि पिछले चार माह से सूची में नाम जुड़वाने के लिए गुहार कर रहे है लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हो रही है।

tarun kashyap Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned