कानून व्यवस्था के हालात पर नीतीश नाखुश

कानून व्यवस्था के हालात पर नीतीश नाखुश

Prateek Saini | Publish: Sep, 12 2018 07:19:54 PM (IST) Begusarai, Bihar, India

बुद्धवार को कई घंटों चली पुलिस अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक में सीएम ने हालात पर कड़े तेवर दिखाए...

(पत्रिका ब्यूरो,पटना): मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सूबे में बढ़ते अपराध और भीड़ के हाथो अपराधियों के लगातार मार दिए जाने को लेकर पुलिस महकमे से खुश नहीं हैं। बुद्धवार को कई घंटों चली पुलिस अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक में सीएम ने हालात पर कड़े तेवर दिखाए।


मॉब लिंचिंग की घटनाओं से नाराज दिखे सीएम

सचिवालय में सुबह ग्यारह बजे शुरु हुई बैठक शाम तक चली। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कई जिलों के पुलिस कप्तानों से वीडियो कॉंफ्रेसिंग से बात की। मुख्यमंत्री ने बैठक में कानून व्यवस्था के हालात पर कड़ी नाराजगी प्रकट की। बैठक के बाद देर शाम तक कोई ऑफिसियल ब्रीफिंग तो नहीं की गई पर सूत्रों के अनुसार सीएम भीड़ द्वारा कानून हाथ में लेकर अपराधियों को मार डालने की बढ़ी घटनाओं पर खासा रंज दिखे। बता दें कि पिछले पांच दिनों में पांच लोग भीड़ हिंसा के शिकार हो चुके हैं।


गले की फांस बने वायरल होते वीडियो

गैंगरेप और छेड़खानी के वीडियो वायरल करने के मामलों में भी सीएम ने पुलिस अधिकारियों को कड़ी हिदायत दी और ऐसे मामलों के तुरत रोकथाम के आदेश दिए। बिहार में गैंगरेप और छेड़खानी के वीडियो वायरल किए जाने की घटनाओं में भी खूब वृद्धि हुई है। इससे सरकार की लगातार बदनामी हो रही और विपक्ष आक्रामक बना हुआ है।

 

कानून व्यवस्था दुरस्त करने के आदेश

प्राप्त जानकारी के मुताबिक सीएम ने डीजीपी के एस द्विवेदी को एक समय सीमा निर्धारित कर कानून व्यवस्था दुरुस्त करने का आदेश दिया। बैठक के दौरान द्विवेदी ने सभी मामलों में की गई कार्रवाई का प्वाइंट वाइज प्रेजेंटेशन भी दिया।


भीड ने तीन लोगों को मार डाला था

बता दें कि राज्य में बढती मॉब लिंचिंग की घटनओं ने सरकार की पेरशानी बढा दी है। विपक्ष इस मुद्ये को लेकर सरकार पर लगातार हमले कर रहा है ऐसे में सरकार के लिए जवाब देना भी भारी हो रहा है। बीते दिनों बेगूसराय में भीड तीन बदमाशों को पकडकर मौके पर ही उनका फैसला कर दिया था। इस आक्रोशित भीड ने तीनों लोगों को पीट पीटकर मार डाला था। इस घटना ने राज्य की कानून व्यवस्था को कटघरे में लाकर खडा कर दिया था। मामले के सामने आने के बाद विपक्ष सरकार पर हमलावर हो गया।

Ad Block is Banned