जिंदा रिक्शा चालक ने मुर्दा बनकर खाने के लिए जुटाए पैसे, Coronavirus काल में टूटी कमर

गरीबों के लिए दो जून की रोटी की व्यवस्था करना भी बड़ा मुश्किल भरा काम है (Rickshaw Driver Act As Dead Person To Get Money For Food In Aara Bihar) (Bihar News) (Begusarai News) (Coronavirus Cases In Bihar) (Bihar Coronavirus Update)...

 

By: Prateek

Published: 24 Jul 2020, 04:22 PM IST

बेगूसराय,भोजपुर: Coronavirus जैसी त्रासदी में जहां स्वास्थ्य व्यवस्थाएं चौपट साबित हो रही हैं वहीं गरीबों के लिए दो जून की रोटी की व्यवस्था करना भी बड़ा मुश्किल भरा काम है। अनलॉक के बाद फिर लॉकडाउन लगने से समस्या और बढ़ गई है। इस संकट काल में एक रिक्शेवाले को थोड़ा सा धन इकट्ठा करने को नाटकीय रूप से अपनी जान गंवानी पड़ी। लाश को सड़क किनारे पड़ी देखकर लोग उस पर कुछ पैसे चढ़ा गए!

यह भी पढ़ें: Israel की मदद से सांस के जरिए संक्रमण का लगेगा पता, 30 सेकेंड में होगा कोरोना टेस्ट

यह मामला बिहार के भोजपुर जिले के आरा का है। पटना के बिहटा निवासी रामदेव यहां रिक्शा चलाकर पैसे कमाता था। अब कोरोना काल में लोग घर से कम बाहर निकल रहे हैं। ऐसे में उसकी कमाई पूरी तरह से चौपट हो गई। परेशान रिक्शा चालक को जब कुछ नहीं सूझा तो उसने मरना मुनासिब समझा, यानि वह कफन लपेटकर डिस टैंक रोड़ पर लेट गया और नाटक असली लगे इसके लिए माला भी डाल ली, पास में अगरबत्ती जला ली।

जिंदा रिक्शा चालक ने मुर्दा बनकर खाने के लिए जुटाए पैसे, Coronavirus काल में टूटी कमर
सड़क पर मुर्दा बनकर लेटा हुआ रिक्शाचालक IMAGE CREDIT:

यह भी पढ़ें: Hyderabad: एक साथ जलाए गए 50 corona मरीजों के शव, VIDEO VIRAL होने के बाद लोगों का फूटा गुस्सा

आने जाने वाले लोगों ने उस पर कुछ पैसे चढा दिए। खाने पीने का सामान खरीदने जितनी रकम इकट्ठा होने के बाद वह खड़ा हो गया। रामदेव का कहना है कि मजबूरी में उसे यह तरीका अपनाना पड़ा है, वह एक मेहनतकश है और पसीना बहाकर पैसा कमाने पर विश्वास रखता है। लेकिन काम नहीं होने पर जब भुखमरी की हालत हुई तो उसने परिवार का पेट पालने के लिए यह रास्ता अपनाया। यह घटना सरकार के गरीबों को राशन वितरण प्रणाली की पोल खोलती नजर आती है। ना जाने ऐसे कितने ही गरीब इस मुश्किल भरे वक्त में भोजन के लिए संघर्ष कर रहे होंगे।

यह भी पढ़ें: Sushant Singh की मौत के लिए CBI जांच पर बोलें Shekhar Suman, परिवार खुलकर सामने नहीं आ रहा है!

(Coronavirus Cases In Bihar)...

गौरतलब है कि बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ने के बाद एक बार फिर से लॉकडाउन लगा दिया गया। 16 जुलाई से लागू हुआ लॉकडाउन 31 जुलाई तक चलेगा। फिलहाल बिहार में अभी तक 33,511 लोग संक्रमित हो चुके हैं, इनमें से 212 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।

ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned