ACB Raid: बेमेतरा में महिला पटवारी रिश्वत लेते गिरफ्तार, एसीबी ने तीन रिश्वतखोरों पर कसा शिकंजा

बेमेतरा जिले में महिला पटवारी रिश्वत लेते रंगे हाथ एंटी करप्शन ब्यूरो के हत्थे चढ़ गई। एसीबी की टीम ने शिकायत के आधार पर मंगलवार को पटवारी को रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया। (ACB Raid in Bemetara)

By: Dakshi Sahu

Updated: 07 Jul 2020, 04:42 PM IST

भिलाई/बेमेतरा. जिले में महिला पटवारी रिश्वत लेते रंगे हाथ एंटी करप्शन ब्यूरो के हत्थे चढ़ गई। एसीबी की टीम ने शिकायत के आधार पर मंगलवार को पटवारी को रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया। मिली जानकारी के अनुसार जिले के अंधियारखोर नवागढ़ मुख्यालय में पदस्थ महिला पटवारी लोचन साहू जमीन के नामांतरण के एवज में 7500 रुपए मांग रही थी। पैसे ना देने पर काम नहीं कर रही थी। इस शिकायत के आधार पर एसीबी की टीम ने घूस की पहली किश्त 2800 रुपए लेते हुए पटवारी कार्यालय से उसे गिरफ्तार किया।बेमेतरा के नवागढ़ में नरेंद्र चतुर्वेदी ने रायपुर एसीबी में महिला पटवारी के खिलाफ शिकायत की थी।

आज प्रदेश में एसीबी की बड़ी कार्रवाई हुई है। आईपीएस आरिफ शेख के निर्देशन में एक ही दिन में एसीबी टीम ने अलग-अलग जगह पर दबिश देकर 3 घूसखोरों को रंगे हाथों दबोच लिया। गिरफ्तार घूसखोरों में एक स्कूल शिक्षा विभाग का बीईओ एक रूर्बन मिशन का समन्वयक और एक महिला पटवारी शामिल है।

सूरजपुर के पूर्व माध्यमिक शाला रेलवे कॉलोनी के प्रधान पाठक ओमप्रकाश योगी ने सरगुजा एसीबी में शिकायत की थी कि सूरजपुर के बीईओ कपूरचंद साहू ने उनसे लॉकडाउन के वेतन रिलीज करने के एवज में 30 हज़ार रुपए की मांग की थी। बाद में घूस की राशि 25000 रुपए तय की गई। 25000 रुपए की घूस की रकम लेते हुए बीईओ कपूरचंद को रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया।

बिलासपुर में रूर्बन मिशन के समन्वयक नवीन कुमार देवांगन के खिलाफ भदौरा तहसील के सरपंच प्रतिनिधि ने शिकायत की थी कि स्टॉप डेम निर्माण के 14 लाख रुपए की राशि निर्गत करने के एवज में 35 हज़ार रुपए प्रथम किश्त के रूप में मांगे गए है। बिलासपुर एसीबी को मिली इस शिकायत के आधार पर टीम ने छापा मारकर समन्वयक नवीन देवांगन को 35 हज़ार रुपए लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। एसीबी की आज हुई कार्रवाई से प्रदेशभर में हड़कंप मच गया है।

Show More
Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned