आषाढ़ की पहली बारिश से जिला तरबतर

रात में बारिश से शुक्रवार को शहर के कई इलाकों में पानी भर जाने निकासी की समस्या सामने आई। शहर के अंदर शासकीय दफ्तरों के सामने भी लोग निकासी समस्या से जूझते दिखे।

By: Satya Narayan Shukla

Published: 24 Jun 2016, 11:50 PM IST

बेमेतरा. रात में बारिश से शुक्रवार को शहर के कई इलाकों में पानी भर जाने निकासी की समस्या सामने आई। शहर के अंदर शासकीय दफ्तरों के सामने भी लोग निकासी समस्या से जूझते दिखे। शहर के शासकीय स्कूलों में बारिश का पानी घूसने से विद्यार्थी परेशान रहे। तकरीबन 54 मिमी बारिश का रिकॉर्ड दर्ज किया गया। बेमेतरा तहसील में शुक्रवार को 54.3 मिमी, बेरला में 42 मिमी, साजा में 22 मिमी, थानखम्हरिया में 72 मिमी व नवागढ़ में 13 मिमी बारिश दर्ज की गई। बारिश होने के बाद गुरुवार से लोगों को गर्मी व उमस से राहत मिली।

खिले किसानों के चेहरे
बारिश से किसानों के भी चेहरे खिल गए हैं। मानपुर के किसान दया राम ने बताया कि खेतों में काम बढ़ गया है। खेत सुधारने के बाद बोआई का काम किया गया था। जिसके बाद धूप तेज होने से गैर सिंचित खेतों के कास्तकारों की चिंता बढ़ गई थी, अब राहत है। किसान खाद-दवा की व्यवस्था कर रहे हैं। बारिश के बाद शुक्रवार को सहकारी समितियों व खाद विक्रेताओं के यहां किसानों की भीड़ देखी गई।

स्कूली बच्चों की बढ़ी परेशानी
शहर के कई शासकीय स्कूलों मे बारिश ने विद्यार्थियों को परेशानी उठाना पड़ा। शासकीय अभ्यास शाला में प्रथम पाली के दौरान मिडिल स्कूल के कई कक्षा के बच्चों को एक साथ बैठाया गया। शासकीय स्कूल पिकरी में निकासी का पानी घूसने से विद्यार्थी व स्टाफ आने-जाने में परेशानी का सामना करते रहे। आदर्श बालक स्कूल में कक्षाओं में पानी भरने से विद्यार्थियों को परेशानी झेलना पड़ा। यही स्थिति कन्या शाला की भी रही।

दफ्तरों के सामने भरा पानी
जिला मुख्यालय के शासकीय दफ्तरों के सामने निकासी व्यवस्था नहीं होने के कारण बारिश का पानी भरा रहा। यही स्थिति जिला पंचायत, बाल सरंक्षण कार्यालय, पुराना अस्पताल के सामने, जिला अस्पताल के सामने देखा गया। साथ ही कोबिया भाठा में संचालित दफ्तर में भी निकासी की समस्या सामने आई है।

वार्डों में भी पानी भरने से परेशानी
नगर पालिका में वार्ड-3, वार्ड-5, वार्ड-7, वार्ड-12 मेें पानी निकासी की समस्या सामने आई है। आधे-अधूरे सड़क निर्माण का खामियाजा शुक्रवार को लोगों को भुगतना पड़ा। पानी को निकालने में पालिका का अमला जुटा रहा। इसके अलावा दुर्ग रोड में शीतला मंदिर के पास निकासी व्यवस्था नहीं हो पाने से आसपास के दुकानों के पास पानी जमा होने की समस्या बनी रही। वार्ड-20 में किसान भवन के पास निकासी नहीं होने से सड़क पर पानी भरा रहा।
Satya Narayan Shukla Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned